जब कैप्टन कूल धोनी ने ट्विटर पर कर दी थी ट्रोलर की बोलती बंद, पुराना ट्वीट हुआ वायरल

एमएस धोनी का पुराना ट्वीट वायरल हो रहा है.  (PIC: PTI)

एमएस धोनी का पुराना ट्वीट वायरल हो रहा है. (PIC: PTI)

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) सोशल मीडिया पर सबसे ज्‍यादा फॉलो किए जाने वाले क्रिकेटर्स में से एक हैं. हालांकि उन्‍हें प्राइवेसी ही पसंद है और सोशल मीडिया से दूरी बनाए रखते हैं. कुछ सालों पहले धोनी ट्विटर पर काफी एक्टिव थे और उन्हें फैंस से जुड़े रहना पसंद था.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को मैदान के अंदर और बाहर दोनों जगह अपने शांत स्वभाव के लिए जाने जाते हैं. धोनी ने कई बार दबाव के क्षणों में बेहद शांत रहते हुए मैच का रुख पलट दिया है. इसी वजह से उन्हें 'कैप्टन कूल' का दर्जा भी मिला है. धोनी की कप्तानी में भारत ने टी20 वर्ल्ड कप (2007), वनडे वर्ल्ड कप (2011) और आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी (2013) का खिताब जीता है. धोनी तीनों आईसीसी ट्रॉफी जीतने वाले इकलौत कप्तान हैं. हालांकि इसके बाजवदू सोशल मीडिया पर कभी-कभार धोनी को आलोचनाओं का सामना करना पड़ता है. ऐसा ही एक वाकया साल 2012 में हुआ था.

पिछले कुछ समय से धोनी सोशल मीडिया पर ज्यादा एक्टिव नहीं हैं लेकिन पहले वो अक्सर ट्विटर पर फैंस से संवाद करते हुए नजर आते थे. सोशल मीडिया पर किसी सेलेब्रिटी से नफरत का करना कोई बड़ी बात नहीं है. धोनी को भी काफी ट्रोलिंग का शिकार होना पड़ा है. जुलाई 2012 में धोनी को एक फैन ने टैग करते हुए एक कहावत साझा की. फैन ने ट्वीट किया, 'एमएस धोनी, महिला सिर्फ एक व्‍यक्ति की बात सुनती है, जो है खुले मुंह के साथ फोटोग्राफर.' इस ट्वीट पर एक अन्य यूजर ने लिखा, 'मुझे उम्‍मीद है कि एमएस धोनी जानते हैं कि कई लोग उनसे नफरत करते हैं और उनमें से मैं एक हूं.'

यूजर के नफरत वाली बात धोनी ने बहुत ही आसान शब्दों में उसे समझाया और अपने जवाब से ट्रोलर की बोलती बंद कर दी. धोनी ने जवाब दिया, 'आपको शायद मैं पसंद नहीं, लेकिन नफरत बहुत कड़ा शब्‍द होता है इस्‍तेमाल करने के लिए. खैर कोई नहीं, ये आपका विकल्‍प है तो मैं शिकायत नहीं करूंगा.'


बता दें कि आईपीएल 2021 के स्थगित होने के बाद चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी रांची स्थित अपने घर समय बिता रहे हैं. धोनी आईपीएल 2021 में भले ही बल्‍ले से कमाल नहीं दिखा पाए, मगर उनकी कप्‍तानी ने सीएसके को पिछले साल के खराब प्रदर्शन से वापसी करने में मदद की. आईपीएल के पिछले सीजन सीएसके सातवें पायदान पर रही थी और वह पहली बार प्‍लेऑफ में जगह नहीं बना पाई थी. मगर इस साल लीग स्‍थगित होने से पहले सीएसके सात मैचों में पांच जीत के साथ दूसरे नंबर पर थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज