Home /News /sports /

who is kumar kushagra scores 266 runs in ranji trophy preliminary quarter final vs manipur

कौन हैं कुमार कुशाग्र? तीसरे मैच में जड़ा दोहरा शतक...मियांदाद का रिकॉर्ड टूटा, लाइब्रेरी से क्या है कनेक्शन

17 साल के कुमार कुशाग्र ने मणिपुर के खिलाफ खेली 266 रन की पारी. (Photo-bcci/twitter)

17 साल के कुमार कुशाग्र ने मणिपुर के खिलाफ खेली 266 रन की पारी. (Photo-bcci/twitter)

Kumar Kushagra Scores 266 runs in Ranji Trophy Preliminary quarter final: दाएं हाथ के विकेटकीपर बल्लेबाज कुमार कुशाग्र ने रणजी ट्रॉफी 2022 के प्रीक्वार्टर फाइनल मुकाबले में शानदार पारी खेलकर खूब वाहवाही बटोरी है. कुशाग्र ने मणिपुर के खिलाफ 266 रन की शानदार पारी खली. उन्होंने इस दौरान जावेद मियांदाद (Javed Miandad) और ईशान किशन (Ishan Kishan) के रिकॉर्ड को भी पीछे छोड़ दिया.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. झारखंड के 17 वर्षीय युवा बल्लेबाज कुमार कुशाग्र (Kumar Kushagra) ने रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के प्री क्वार्टर फाइनल में नागालैंड (Jharkhand vs Nagaland) के खिलाफ धमाकेदार दोहरा शतक जड़ अपने नाम बड़ी उपलब्धि दर्ज कर ली. अपना तीसरा फर्स्ट क्लास मैच खेल रहे इस होनहार बल्लेबाज ने 269 गेंदों पर 266 रन की पारी खेली, जिसमें 37 चौके और 2 छक्के शामिल थे. कुशाग्र प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 250 या इससे अधिक रन की पारी खेलने वाले सबसे युवा बल्लेबाज बन गए हैं. दाएं हाथ के इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद (Javed Miandad) और हमवतन ईशान किशन (Ishan Kishan) के रिकॉर्ड को भी पीछे छोड़ दिया.

कुशाग्र ने यह उपलब्धि 17 साल और 141 दिन की उम्र में हासिल की जबकि पाकिस्तानी दिग्गज मियांदाद ने 1975 में 17 साल और 311 दिन की उम्र में यह कारनामा किया था. विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन (Ishan Kishan) ने 18 साल 111 दिन की उम्र में यह इस रिकॉर्ड को हासिल किया था. फर्स्ट क्लास क्रिकेट में झारखंड की ओर से सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड ईशान के नाम है. ईशान ने 2016 में दिल्ली के खिलाफ 273 रन की पारी खेली थी. इसके बाद कुशाग्र का नंबर आता है. कुशाग्र के प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर का यह पहला दोहरा शतक है. कुशाग्र साल 2019 में वीनू मांकड़ ट्रॉफी में सबसे पहले चर्चा में आए थे. उन्होंने उस दौरान 7 मैचों में सबसे ज्यादा 535 रन बनाए थे.

यह भी पढ़ें: हार्दिक पंड्या क्या IPL 2022 में गुजरात टाइटंस की ओर से गेंदबाजी करेंगे? जानिए उन्हीं की जुबानी

VVS-द्रविड़ ने लिखी स्क्रिप्ट और हरभजन ने तोड़ दिया ऑस्ट्रेलिया का दंभ, किस्सा सबसे रोमांचक मैच का

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कुशाग्र के पिता शशिकांत ने बताया कि उन्होंने बेटे को क्रिकेटर बनाने के लिए अपने घर में क्रिकेट किताबों की लाइब्रेरी बनाई. बकौल शशिकांत, ‘मैंने अपने घर पर क्रिकेट किताबों की एक लाइब्रेरी बनाई, जिसमें ब्रैडमैन से लेकर स्टीव वॉ की किताबें शामिल थीं. मैं नेट्स पर जाकर खिलाड़ियों की तकनीक को देखता था, कि वह किस तरह से खेलते हैं. इसके बाद मैं उसी चीज को किताब में पढ़ता था. मैं उन्हीं तकनीक के जरिए कुमार को प्रैक्टिस करवाता था.’ कुशाग्र के पिता जीएसटी डिपार्टमेंट में डिस्ट्रिक्ट कमिशनर हैं.

विराट और शाहबाज ने खेली शतकीय पारी

मणिपुर के खिलाफ जारी मुकाबले में विराट सिंह और शाहबाज नदीम ने भी शतकीय पारी खेली. झारखंड की टीम इस समय काफी मजबूत स्थिति में है. उसने पहली पारी में 800 से अधिक रन बना लिए हैं. विराट ने 155 गेंदों पर 107 रन की पारी खेली जबकि नदीम 129 रन पर नाबाद हैं. ओपनर कुमार सूरज 66 रन बनाकर आउट हुए.

Tags: Cricket, Ranji Trophy

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर