टीम इंडिया के इन दो बड़े खिलाड़ियों के साथ हुई नाइंसाफी? सौरव गांगुली ने खड़े किए सवाल

सौरव गांगुली के मुताबिक टीम इंडिया ने साल 2013 के बाद से कोई आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीता है, उन्होंने इशारों ही इशारों में इसकी वजह बताई है

News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 5:21 PM IST
टीम इंडिया के इन दो बड़े खिलाड़ियों के साथ हुई नाइंसाफी? सौरव गांगुली ने खड़े किए सवाल
टीम इंडिया के इन दो बड़े खिलाड़ियों के साथ हुई नाइंसाफी?
News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 5:21 PM IST
टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भारतीय टीम में लगातार हो रहे बदलावों से खुश नहीं हैं. गांगुली के मुताबिक ज्यादा खिलाड़ियों को लगातार बदलना टीम के लिए अच्छा नहीं है. इसके साथ-साथ उन्होंने लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव को टी20 टीम से बाहर करने पर भी सवाल खड़े किए हैं. द प्रिंट को दिए इंटरव्यू में सौरव गांगुली ने कहा कि अलग फॉर्मेट के लिए अलग खिलाड़ी रखना सही नहीं है. उन्होंने कहा, 'मैंने बस सलाह दी है, आपको ऐसे खिलाड़ियों की जरूरत है जो सभी फॉर्मेट में खेलें. कुछ खिलाड़ी भारत के लिए जून में खेलें और कुछ दिसंबर में खेलें ऐसी चीजों से कुछ होने वाला नहीं है. मैं ज्यादा से ज्यादा खिलाड़ियों को टीम में लाने और बाहर करने के खिलाफ हूं. मैं स्थायित्व के पक्ष में हूं.'

'युजवेंद्र चहल और कुलदीप टीम से बाहर क्यों'
आपको बता दें वेस्टइंडीज दौरे के लिए जो टीम चुनी गई है उसमें विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, केएल राहुल, ऋषभ पंत और रवींद्र जडेजा ही ऐसे खिलाड़ी हैं जो तीनों फॉर्मेट में शामिल हैं. इस पर सौरव गांगुली बोले, 'ठीक है बुमराह को आराम दिया गया है लेकिन मुझे ये नहीं पता कि युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव टी20 टीम में क्यों नहीं हैं, उन्होंने क्या गलत किया. न्यूजीलैंड दौरे पर जाने वाले शुभमन गिल टीम में क्यों नहीं हैं. मनीष पांडे और श्रेयस अय्यर को मौका मिला है. मुझे उम्मीद है कि उन्हें ज्यादा मौके दिए जाएंगे. उन्हें वेस्टइंडीज में होने वाली वनडे और टी20 सीरीज के बाद भुलाया नहीं जाना चाहिए.'

युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव


टीम इंडिया में सब्र की कमी?
लगातार खिलाड़ियों को बदलने पर सौरव गांगुली ने टीम इंडिया के सब्र पर भी सवाल खड़े किए. गांगुली ने कहा, 'इंटरनेशनल क्रिकेट में आपको सब्र रखना होता है. साल 2013 के बाद से हमने एक भी आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीता है. हम साल 2017 की चैंपियंस ट्रॉफी हारे. लगातार तीन आईसीसी टूर्नामेंट में हम सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गए हैं. ऐसे में हमें सेमीफाइनल से आगे बढ़ने की जरूरत है. देखिए इंग्लैंड ने कैसे साल 2015 की हार से सीखा और वो वर्ल्ड कप जीते.'

टीम इंडिया

Loading...

गांगुली की टीम इंडिया को सलाह
सौरव गांगुली ने भारतीय टीम को सलाह देते हुए कहा कि टीम को सारा दबाव हटा देना चाहिए. मैं चाहता हूं कि भारतीय टीम के खिलाड़ियों, टीम मैनेजमेंट और चयनकर्ताओं के बीच खुलकर बातचीत हो. हमें छोटे-छोटे प्रदर्शन नहीं चाहिए. हमें विराट, रोहित और बुमराह और शमी से सीखने की जरूरत है.

यह भी पढ़ें- हरियाणा की बेटी शामिया बनेगी पाकिस्तानी क्रिकेटर हसन अली की दुल्हन, अगले माह होगा निकाह

'धोनी के खिलाफ' बोलना संजय मांजरेकर को पड़ा महंगा, नहीं मिली कमेंट्री पैनल में जगह!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 30, 2019, 4:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...