आईपीएल में क्या हनुमा विहारी अगले चेतेश्वर पुजारा बनने वाले हैं?

हनुमा बिहारी सलामी बल्लेबाज के साथ-साथ मध्य क्रम में भी टीम के लिए शानदार बल्लेबाजी करते हैं. फोटो: @Hanumavihari

हनुमा बिहारी सलामी बल्लेबाज के साथ-साथ मध्य क्रम में भी टीम के लिए शानदार बल्लेबाजी करते हैं. फोटो: @Hanumavihari

Hanuma Vihari unsold in IPL: हनुमा विहारी ने ऑस्ट्रेलिया में चोट के बावजूद शानदार बल्लेबाजी कर टीम के लिए मैच बचाया था. वह भी क्रम पर उतरकर अपनी टीम के लिए रन बना सकते हैं. चेतेश्वर पुजारा को इस बार आईपीएल में खरीदा गया है, लेकिन इसके लिए उन्हेेंं 7 साल का इंतजार करना पडा है. हनुमा विहारी पर भी कोई टीम भरोसा दिखाने को तैयार नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 20, 2021, 8:56 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: अभी ज्यादा वक्त नहीं बीता है जब ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया के खिलाडियों ने अपने जबर्दस्त खेल से पूरी दुनिया के क्रिकेट फैंस को सम्मोहित कर दिया था. खिलाडियों में से एक थे हनुमा विहारी. पहला टेस्ट ऑस्ट्रेलिया ने जीता था. दूसरे टेस्ट में भारत ने वापसी करते हुए सीरीज बराबर कर दी थी. तीसरा टेस्ट ऑस्ट्रेलिया की मुट्ठी में था, पांचवें दिन जब भारत के पांच विकेट गिर चुके थे और लग रहा था, टीम ये मैच शायद ही बचा पाए. ऐसे में हनुमा विहारी ने रविचंद्रन अश्विन के साथ मिलकर जबर्दस्त शौर्य का प्रदर्शन किया. और टीम इंडिया की हार टाल दी. उस समय उनकी इस बल्लेबाजी की जमकर तारीफ हुई. लेकिन करीब डेढ महीने बाद ही जब आईपीएल में खिलाडियों की बोली लगाई गई तो उसमें हनुमा विहारी को किसी भी टीम ने नहीं खरीदा.

हनुमा विहारी पर भी टेस्ट मैच का खिलाडी होने का ठप्पा लगाया जा चुका है. जैसे चेतेश्वर पुजारा के साथ हुआ था. उन्हें आईपीएल में इस बार जरूर चेन्नई की टीम ने खरीद लिया, लेकिन इसके लिए उन्हें 7 साल का लंबा इंतजार करना पडा. हनुमा विहारी भी आईपीएल में खेल चुके हैं. वह सनराइजर्स हैदराबाद और दिल्ली केपीटल्स का हिस्सा रह चुके हैं. लेकिन इस बार की बोली में उन्हें किसी भी टीम ने नहीं खरीदा है.

हनुमा विहारी आईपीएल में 24 मैच खेल चुके हैं. इसमें उन्होंने 23 मैच में 284 रन बनाए हैं. इसमें उनका सबसे बडा स्कोर 46 रन है. जब नीलामी में किसी टीम ने हनुमा विहारी को नहीं खरीदा, तो उनके फैंस को बुरा लगा, लेकिन उन्हेांने इसका जवाब बडे ही मजाकिया अंदाज में दिया.


साहस के साथ खेली थी सिडनी में विहारी ने पारी

हनुमा विहारी ने हैमस्ट्रिंग चोट के बावजूद सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर हनुमा विहारी ने ऐसी पारी खेली कि भारत के साथ साथ दुनिया भर के क्रिकेट फैंस उनके मुरीद हो गए.

मैच के आखिरी दिन अश्विन और हनुमा विहारी क्रीज पर थे. चोटिल हनुमा विहारी ने 161 गेंदों का सामना किया और बिना आउट हुए टेस्ट मैच ड्रॉ कराया.



पुजारा और विहारी

चेतेश्वर पुजारा को राहुल द्रविड के बाद टीम इंडिया की दीवार कहा जाता है. कई मैचों को उन्होंने अपने बल्ले के दम पर जिताया है या ड्रॉ कराया है, लेकिन उनका भी करियर आईपीएल में छोटा ही रहा है. किसी भी टीम ने उन पर पूरा भरोसा नहीं दिखाया. अब हनुमा विहारी पर भी किसी टीम ने अपना भरोसा नहीं दिखाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज