खेल

क्या धोनी को IPL 2021 खेलना चाहिए? पूर्व भारतीय विकेटकीपर ने दिया जवाब

महेंद्र सिंह धोनी ने पुष्टि की कि वह 2021 में अपनी टीम के साथ वापसी करेंगे.
महेंद्र सिंह धोनी ने पुष्टि की कि वह 2021 में अपनी टीम के साथ वापसी करेंगे.

पूर्व भारतीय विकेटकीपर-बल्लेबाज किरण मोरे (Kiran More) ने हाल ही धोनी (MS Dhoni) के आईपीएल (IPL) में खेलना जारी रखने के फैसले पर अपनी राय दी है. उन्होंने कहा कि टी-20 लीग से रिटायरमेंट का फैसला पूरी तरह से धोनी का होना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 13, 2020, 7:12 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग 2020 (IPL 2020) के दौरान चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की फिटनेस और फॉर्म को लेकर लगातार सवाल उठते रहे हैं. वजह रही आईपीएल के दौरान उनकी परफॉर्मेंस और बल्ले के साथ उनका संघर्ष. सीएसके के कप्तान तकरीबन सालभर से ज्यादा के लंबे अंतराल के बाद प्रतियोगी क्रिकेट में वापस लौटे थे. ऐसे में उन्हें अपना बेस्ट हासिल करने में काफी मुश्किल हो रही थी. आईपीएल का 13वां सीजन निजी तौर और बतौर कप्तान काफी खराब रहा। वह बल्लेबाज के तौर पर भी फ्लॉप रहे. वह पूरे टर्नामेंट के दौरान एक अर्धशतक मारने में भी असफल रहे.

आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ मिली हार के बाद 22 गज पर महेंद्र सिंह धोनी की वापसी के साथ कई उम्मीदें जुड़ी हुई थीं. लेकिन सीएसके के कप्तान की खराब परफॉर्मेंस ने फैन्स का दिल तोड़ दिया. पूरे टूर्नामेंट के दौरान धोनी 14 मैचों में 116 के स्ट्राइक रेट से सिर्फ 200 रन बना पाए और इस तरह बल्ले से उनका यह सबसे खराब आईपीएल सीजन रहा. धोनी की इस परफॉर्मेंस के बाद उनकी फिटनेस और फॉर्म को लेकर दिग्गजों ने कई सवाल उठाए.

महेंद्र सिंह धोनी की खराब परफॉर्मेंस की वजह से आईपीएल के इतिहास में चेन्नई सुपर किंग्स पहली बार प्लेऑफ में जगह बनाने में नाकाम रही. तीन बार की चैंपियन 14 मैचों में सिर्फ 12 प्वॉइंट हासिल कर पाई और लीग स्टेज में अंकतालिका पर सातवें नंबर पर रही. हालांकि, सीएसके के इस सीजन के फाइनल गेम के बाद महेंद्र सिंह धोनी ने पुष्टि की कि वह 2021 में अपनी टीम के साथ वापसी करेंगे.



Rohit Sharma 264: रोहित शर्मा की 264 रनों की पारी से भी संतुष्ट नहीं था ये शख्स, कहा-ट्रिपल सेंचुरी चूक गए
जब धोनी से टूर्नामेंट में सीएसके के फाइनल लीग मैच में टॉस के दौरान धोनी से पूछा गया कि क्या आईपीएल 2020 के बाद वह संन्यास की योजना बना रहे हैं तो उन्होंने कहा- बिल्कुल नहीं. ऐसे में पूर्व भारतीय विकेटकीपर-बल्लेबाज किरण मोरे ने हाल ही धोनी के आईपीएल में खेलना जारी रखने के फैसले पर अपनी राय दी है. उन्होंने कहा कि टी-20 लीग से रिटायरमेंट का फैसला पूरी तरह से धोनी का होना चाहिए.

किरण मोरे ने कहा कि अगर धोनी का शरीर उन्हें आईपीएल का अगला सीजन खेलने की इजाजत देता है तो उन्हें खेलना चाहिए. उन्होंने कहा कि धोनी को आगे खेलना चाहिए या नहीं, इसका जवाब पूर्व भारतीय कप्तान से बेहतर कोई नहीं दे सकता. मोरे ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में कहा, ''यह पूरी तरह धोनी पर निर्भर करता है कि उन्हें कैसा लगता है- मानसिक और शारीरिक दोनों तौर पर. क्या अगले साल उनका शरीर खेलने की इजाजत देता है? धोनी इस सवाल का जवाब किसी से ज्यादा बेहतर तरीके से दे सकते हैं.''

उन्होंने आगे कहा, ''आईपीएल से रिटायरमेंट का फैसला पूरी तरह से धोनी का है. धोनी के लिए उम्र सिर्फ एक नंबर है. क्रिस गेल 41 साल के हैं और वह काफी अच्छा कर रहे हैं. यह हमारे लिए सबसे बड़ा उदाहरण है. हमें धोनी की क्षमताओं पर शक नहीं करना चाहिए. अगर वह खेलना चाहते हैं तो वह खेलेंगे. इसलिए यह हमें उन पर ही छोड़ देना चाहिए.''

Video: टीम इंडिया ने पिछले दौरे पर ऑस्ट्रेलिया को वनडे सीरीज में दी थी मात, धोनी बने थे जीत के हीरो

किरण मोरे ने अगले सीजन के लिए सीएसके का सपोर्ट करते हुए कहा कि तीन खिताब जीतना कोई आसान नहीं है. अगले सीजन से पहले मेगा ऑक्शन होना है. सीएसके को अपनी टीम को दोबारा तैयार करने के लिए काफी काम करना होगा. उन्होंने कहा, ''पिछले 13 सालों में (सीएसके के 11 साल) शायद आपका एक साल खराब हो सकता है. यही सीएसके के साथ हुआ. सीएसके ने तीन बार खिताब जीता है. हमें सीएसके के एक खराब साल को तवज्जो नहीं देनी चाहिए. धोनी लीजेंड हैं और हमें यह नहीं भूलना चाहिए. तीन खिताब जीतना बड़ा रिकॉर्ड है.''
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज