लाइव टीवी

Women’s T20 World Cup: भारत के सामने ऑस्ट्रेलिया की बड़ी चुनौती, कैसे पार करेगी पहली बाधा?

News18Hindi
Updated: February 20, 2020, 5:05 PM IST
Women’s T20 World Cup: भारत के सामने ऑस्ट्रेलिया की बड़ी चुनौती, कैसे पार करेगी पहली बाधा?
टी20 वर्ल्ड कप ट्रॉफी के साथ ऑस्ट्रेलियाई कप्तान मेग लेनिंग और भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर (फाइल फोटो)

21 फरवरी से आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप (ICC T20 World Cup) शुरू हो रहा है और टूर्नामेंट का पहला मुकाबला मेजबान ऑस्ट्रेलिया और भारत (Australia vs India) के बीच शुक्रवार को खेला जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 20, 2020, 5:05 PM IST
  • Share this:
सिडनी. पहली आईसीसी ट्रॉफी (ICC Trophy) जीतने के सपने संजोने वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम टी20 विश्व कप (T20 World Cup) के शुरुआती मैच में शुक्रवार को ऑस्ट्रेलियाई चुनौती का सामना करेगी. 21 फरवरी से शुरू हो रहे इस टूर्नामेंट में भारत की पहली चुनौती ही काफी कड़ी है. 10 देशों के इस टूर्नामेंट जहां ऑस्ट्रेलिया चार‌ खिताबों के साथ सबसे सफल टीम है, वहीं भारतीय टीम आज तक एक बार ही फाइनल में नहीं पहुंच पाई.

हालांकि हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) की अगुआई वाली भारतीय टीम को खिताब का प्रबल उम्मीदवार माना जा रहा है. टीम में शेफाली वर्मा जैसे युवा बल्लेबाज हैं. जो कभी भी उलटफेर करने का दम रखती हैं. हालांकि लंबे समय से लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाना भारत की कमजोरी रही है. ऑस्ट्रेलिया में त्रिकोणीय श्रृंखला में टीम फाइनल तक पहुंची थी. भारत ने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक मैच गंवाया और एक जीता और फाइनल में मेजबान से हार गई.

टीम की ताकत: भारतीय टीम का ताकत कप्तान हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना और 16 साल  की शेफाली वर्मा हैं, जिन्हें बड़ा हिटर माना जाता है.  त्रिकोणीय श्रृंखला के फाइनल में पदार्पण करने वाली 16 वर्ष की रिचा घोष (Richa Gosh) को लगातार मौका मिलता है या नहीं , यह देखना होगा. गेंदबाजी में भारतीय टीम स्पिनरों पर काफी निर्भर है. आम तौर पर अंतिम एकादश में अकेली स्पिनर रहने वाली शिखा पांडे पर शुरूआती सफलता दिलाने की जिम्मेदारी रहेगी.

भारत की कमजोरी: इस समय टीम इंडिया (Team India) की कमजोर कड़ी मध्यक्रम और निचला क्रम है. अगर टीम को इस टूर्नामेंट में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसी टीम को मात देना है  तो इस कमजोरी से पार पाना होगा. टीम प्रबंधन को सुनिश्चित करना होगा कि मध्यक्रम बार बार विफल साबित न हो. टीम इंडिया के पास प्रभावशाली तेज गेंदबाज भी नहीं हैं.



टूर्नामेंट में भारत:  महिला टी20 वर्ल्ड कप के इतिहास में भारतीय टीम आज तक फाइनल में नहीं पहुंच पाई. वह तीन बार पहले ही राउंड में बाहर हो गई. वहीं साल 2009, 2010 और 2018 में सेमीफाइनल में पहुंचना टीम इंडिया का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा.

इस सीजन की खासियत: इस सीजन में 14 ऐसे खिलाड़ी मैदान पर उतरेंगे, जिन्होंने सभी सीजन में हिस्सा लिया. वहीं इस टूर्नामेंट के एक मैच में 11 खिलाड़ी एक साथ डेब्यू करेंगे. दरअसल थाईलैंड पहली बार आईसीसी टूर्नामेंट खेलेगी और उस टीम के सभी खिलाड़ी टूर्नामेंट में एक साथ डेब्यू करेंगे. वहीं इस टूर्नामेंट में फ्रंट फुट नो बॉल के लिए थर्ड अंपायर मौजूद होंगे. किसी ग्लोबल टूर्नामेंट में ऐसा पहली बार हो रहा है.

पांच मैदानों पर कुल 23 मुकाबले: इस टूर्नामेंट में कुल 10 टीमें हिस्सा लेगी. आठ टीमों ने तो रैंकिंग के आधार पर और बांग्लादेश और थाईलैंड ने क्वलिफायर राउंड खेलकर टूर्नामेंट में जगह बनाई. टीमों को ए और बी दो ग्रुप में बांटा गया है. जहां ग्रुप ए में ऑस्ट्रेलिया, भारत (India), न्यूजीलैंड, श्रीलंका और बांग्लादेश हैं वहीं ग्रुप बी में इंग्लैंड, साउथ अफ्रीका, वेस्टइंडीज और थाईलैंड शामिल हैं. दोनों ग्रुप की टॉप दो टीमें सेमीफाइनल में प्रवेश करेंगी. ऑस्ट्रेलिया के पांच मैदानों पर टूर्नामेंट के 23 मुकाबले खेले जाएंगे. खिताबी मुकाबला अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन यानि 8 मार्च को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में खेला जाएगा.

पिछले मुकाबलों से सीख: कप्तान हरमनप्रीत कौर  (Harmanpreet Kaur) ने कहा कि उनकी टीम को टी20 विश्व कप में एक या दो खिलाड़ियों पर निर्भर रहने की बजाय एक टीम के रूप में अच्छा प्रदर्शन करना होगा. एक टीम के रूप में अच्छा खेलने के लिए आपको तालमेल में अच्छा प्रदर्शन करना होगा. पिछले टूर्नामेंटों से हमने सीखा है कि एक या दो खिलाड़ियों पर ही जीत के लिये निर्भर नहीं रहा जा सकता. जेमिमा और शेफाली जैसे युवा खिलाड़ियों की मौजूदगी में टीम मानसिक रूप से काफी तरोताजा है.उन्हें पता नहीं है कि किस तरह का दबाव होगा. उन्हें खेलना पसंद है और अपने खेल का वे पूरा मजा ले रही हैं.

160 जगहों पर टेलीकास्ट: महिला क्रिकेट को बढ़ावा देने के‌ लिए इस बार वर्ल्ड कप प्रसारण पूरी दुनिया में होगा.  160 जगहों पर टेलीविजन पर इसका लाइव टेलीकास्ट होगा. जबकि 200 जगहों पर डिजिटल लाइव कवरेज होगी. भारत में इसका सीधा प्रसारण स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क और डिजिटल कवरेज हॉटस्टार पर होगी.

भारतीय टीम: हरमनप्रीत कौर (कप्तान), तानिया भाटिया, हरलीन देओल, राजेश्वरी गायकवाड़, ऋचा घोष, वेदा कृष्णामूर्ति, स्मृति मंधाना, शिखा पांडे, अरूंधति रेड्डी, जेमिमा राेड्रिग्स, दीप्ति शर्मा, पूजा वस्त्रकार, शेफाली वर्मा, पूनम यादव, राधा यादव.

(भाषा इनपुट के साथ)

रैना ने किया खुलासा, कॉलेज के दिनों में इस एक्ट्रेस को डेट पर ले जाना चाहते थे

टेस्ट सीरीज से पहले विलियमसन ने कहा, विराट हर प्रारूप के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 20, 2020, 4:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर