मिताली राज ने नाओमी ओसाका विवाद पर कहा- महिला क्रिकेट को मीडिया सपोर्ट की जरूरत

मिताली राज वनडे और टेस्ट टीम की कप्तान हैं. (Twitter/BCCI)

भारतीय टीम की कप्तान मिताली राज (Mithali Raj) ने कहा कि उन्हें मीडिया से बात करने में कोई दिक्कत नहीं है. पिछले दिनों महिला टेनिस खिलाड़ी नाओमी ओसाका ने इसी मुद्दे पर विवाद के बाद फ्रेंच ओपन से नाम वापस ले लिया था.

  • Share this:
    नई दिल्ली. महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने कहा है कि महिला खिलाड़ियों को मीडिया सपोर्ट की जरूरत है. इसलिए उन्होंने कभी मीडिया से बात करने से परहेज नहीं किया. वहीं पूर्व भारतीय पुरुष क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने कहा कि खिलाड़ियाें को मीडिया से बचने की अनुमति होनी चाहिए. महिला टेनिस खिलाड़ी नाओमी ओसाका के फ्रेंच ओपन से हटने के बाद यह मुद्द गरम है. ओसाका ने पहले राउंड का मुकाबला जीतने के बाद मीडिया से बात नहीं थी. इसके बाद उन पर आयोजकों ने 11 लाख रुपए का जुर्माना लगा दिया था.

    टेस्ट और वनडे की टीम की मिताली राज ने कहा कि मुझे पता है कि क्वारंटाइन में रहना कितना मुश्किल होता है. पर टूर्नामेंट में खेलने के दौरान इसका पता नहीं चलता. व्यक्तिगत तौर पर मुझे कभी ऐसा महसूस नहीं हुआ कि मैं प्रेस कॉन्फ्रेंस से दूर रहूं. जिस स्थिति में महिला क्रिकेट है, उन्हें फिलहाल मीडिया सपोर्ट की जरूरत है. इसलिए हम खेल को प्रमोट करते हैं. मिताली इंग्लैंड रवाना होने से पहले मीडिया से बात रही थीं. टीम 2 जून को रवाना हो रही है. टीम को दौरे पर एक टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी20 खेलने हैं. महिला टीम को 7 साल बाद टेस्ट खेलने का मौका मिल रहा है.

    टीम इवेंट के साथ दिक्कत नहीं

    मोहम्मद कैफ 100 से अधिक इंटरनेशनल मैच खेल चुके हैं. (Facebook/Delhi Capitals)


    मोहम्मद कैफ ने ट्वीट कर कहा, ‘अब समय आ गया है कि जब हम खेलों में मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दे को स्वीकार करें. व्यक्तिगत खेलों में तो और अधिक. क्रिकेट में एक कोच या एक वरिष्ठ खिलाड़ी एक कप्तान के लिए एक बैकअप होता है, लेकिन टेनिस में नहीं. हमें संवेदनशील होना होगा. खिलाड़ियों को उसके कमजोर समय में मीडिया से बचने की अनुमति दी जानी चाहिए.’

    ओसाका पर नियम के अनुसार कार्रवाई हुई

    naomi osaka
    नाओमी ओसाका ने चार ग्रैंड स्लैम जीते हैं . (Naomi Osaka Instagram)


    जापान की नाओमी ओसाका के प्रेस कॉन्फ्रेंस में नहीं पहुंचने के बाद आयोजकों की ओर से कहा गया था कि वे आगे भी ऐसा करती हैं तो उन्हें टूर्नामेंट से बाहर किया जा सकता है. नियम के अनुसार खिलाड़ियों को मैच जीतने या हारने के बाद मीडिया से बात करनी होती है. फ्रेंच टेनिस फेडरेशन के प्रेसिडेंट जाइल्स मोरेटन ने ओसाका के टूर्नामेंट से हटने की पुष्टि करते हुए कहा कि उनके टूर्नामेंट से हटने से निराशा हुई है. हमें उम्मीद है कि वह जल्द ही स्वस्थ हो जाएं. हम उनका अगले साल इंतजार करेंगे. ओसाका 2018 से मानसिक परेशानी से गुजर रही हैं.