महिला टी20 चैलेंज पर कोरोना का असर, बीसीसीआई ने कहा-कोई विदेशी खिलाड़ी भारत नहीं आना चाहता

बीसीसीआई ने कहा कि कोई विदेशी खिलाड़ी भारत नहीं आना

बीसीसीआई ने कहा कि कोई विदेशी खिलाड़ी भारत नहीं आना

महिला टी20 चैलेंज को आईपीएल 2021 के दौरान ही होना था. भारत में कोरोना संकट के कारण ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के क्रिकेटर यहां नहीं आ सकेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2021, 3:53 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में कोरोना मामलों में बढ़ोतरी के कारण कई देशों द्वारा लगाये गए यात्रा प्रतिबंधों को देखते हुए तीन टीमों का महिला टी20 चैलेंज हो पाना संभव नहीं लग रहा है. महिला टी20 चैलेंज को आईपीएल के दौरान ही होना था. बीसीसीआई भारतीय महिला क्रिकेटरों के लिये शिविर के आयोजन की योजना बना रहा था. भारत में कोरोना संकट के कारण ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के क्रिकेटर यहां नहीं आ सकेंगे.

बीसीसीआई के एक शीर्ष सूत्र ने बताया, ‘‘ भारतीय खिलाड़ियों के पृथकवास का मसला नहीं है लेकिन इस समय कोई विदेशी खिलाड़ी भारत नहीं आना चाहता. हम बाद में हालात सुधरने पर इसका आयोजन कर सकते हैं.’’ पिछले साल आईपीएल यूएई में खेला गया था. उस समय ऑस्ट्रेलिया की किसी महिला क्रिकेटर ने महिला टी20 चैलेंज नहीं खेला था क्योंकि वह बिग बैश लीग के दौरान हुआ था.

यह भी पढ़ें:

विराट कोहली ने एक रन से जीत दर्ज करने के बाद तूफान को कहा धन्‍यवाद, जानिए वजह
IPL 2021: डिविलियर्स ने जीता 25वां मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड, बनाया खास रिकॉर्ड

इस साल दलीप ट्रॉफी और ईरानी कप रद्द

भारतीय क्रिकेट बोर्ड की योजना 2021-22 घरेलू सत्र की शुरुआत इस साल सितंबर से सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट से करने की है. बोर्ड ने रणजी ट्रॉफी के लिये दिसंबर से तीन महीने की विंडो भी तय कर दी है जिसे पिछले सत्र में कोविड-19 महामारी के चलते रद्द करना पड़ा था. क्रिकेट परिचालन टीम द्वारा तैयार किये गये अस्थायी कैलेंडर में हालांकि दलीप ट्रॉफी, देवधर ट्रॉफी और ईरानी कप को हिस्सा नहीं बनाया गया है. इसके अलावा कैलेंडर से महिलाओं की पांच प्रतियोगितायें भी हटा दी गयी हैं.



महामारी के चलते 2020-21 सत्र काफी छोटा हो गया था, जिसमें केवल राष्ट्रीय टी20 (मुश्ताक अली) और वनडे (विजय हजारे ट्रॉफी) चैम्पियनशिप ही आयोजित की गयी थी. महिलाओं के लिये केवल राष्ट्रीय वनडे प्रतियोगिता ही करायी गयी थी. महिलाओं की टी20 और वनडे चैलेंजर ट्रॉफी के साथ अंडर-23 प्रतियोगितायें भी नहीं खेली जायेंगी. इनके अलावा अंडर-19 महिला टी20 चैलेंजर ट्रॉफी भी नहीं होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज