होम /न्यूज /खेल /Women's World Cup 2022: वर्ल्ड कप का आगाज कल से, यहां देखें A To Z जानकारी

Women's World Cup 2022: वर्ल्ड कप का आगाज कल से, यहां देखें A To Z जानकारी

Womens World Cup 2022: वर्ल्ड कप का आगाज कल से होगा. (ICC Twitter)

Womens World Cup 2022: वर्ल्ड कप का आगाज कल से होगा. (ICC Twitter)

Women's World Cup 2022: न्यूजीलैंड में महिला वनडे वर्ल्ड कप का आगाज कल से होने जा रहा है. मिताली राज (Mithali Raj) की अ ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. कोरोना के चलते महिला वर्ल्ड कप (Womens World Cup 2022) का आयोजन एक साल बाद होने जा रहा है. न्यूजीलैंड में खेले जाने वाले 12वें वर्ल्ड कप के आगाज होने में सिर्फ एक दिन बाकी है. टूर्नामेंट का पहला मुकाबला मेजबान न्यूजीलैंड (New Zealand) और वेस्टइंडीज (West Indies) के बीच 4 मार्च को खेला जाएगा. भारतीय टीम अपने पहले मुकाबले में 6 मार्च को पाकिस्तान से (IndiaW vs PakiatanW) भिड़ेगी. महिला वर्ल्ड कप की शुरुआत होने में सिर्फ एक दिन शेष हैं. ऐसे में हम आपको टूर्नामेंट से संबंधित पूरी जानकारी दे रहे हैं.

    कितनी टीमें हो रही हैं शामिल

    न्यूजीलैंड में खेले जाने वाले वर्ल्ड कप में 8 टीमें भाग ले रही हैं. मेजबान देश होने के नाते कीवी टीम टीम पहले ही क्वालिफाई कर चुकी है. इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और भारत ने साल 2017 से लेकर 2021 तक खेली गई वुमेंस चैंपियनशिप (Women’s Championship) में शीर्ष 5 में रहते हुए क्वालिफाई किया. बाकी 3 टीमों का फैसला क्वालिफायर के आधार पर होना था.

    क्वालिफाई रद्द होने के बाद ऐसे मिली एंट्री

    कोविड-19 की वजह से यात्रा बैन के कारण बीते साल नवंबर-दिसंबर में जिम्बाब्वे में खेला जाने वाले वर्ल्ड कप क्वालिफायर रद्द कर दिया गया था. इसके बाद बाकी 3 टीमों का निर्णय वनडे रैंकिंग के आधार पर किया गया. इस आधार पर पाकिस्तान, वेस्टइंडीज और बांग्लादेश को प्रवेश मिला. वहीं श्रीलंका, थाईलैंड और आयरलैंड की महिला टीमें वर्ल्ड कप का हिस्सा नहीं हैं. बांग्लादेश की टीम पहली बार वर्ल्ड कप में भाग ले रही है.

    ये तारीख आपको याद रखनी चाहिए

    वर्ल्ड कप में भारतीय महिला क्रिकेट टीम 6 मार्च को अपने अभियान का आगाज करेगी. इस दिन टीम इंडिया का मुकाबला चिर-प्रतिद्वंदी पाकिस्तान से होगा. इससे एक दिन पहले यानी 5 मार्च को ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की टीमों के बीच भिडंत होगी. 13 मार्च को न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया की महिला टीमों के बीच टक्कर होगी. इस दौरान अंतिम राउंड रॉबिन मुकाबला 28 मार्च को भारत और साउथ अफ्रीका के दरम्यान होगा. आईसीसी वुमेंस वर्ल्ड कप 2022 के सेमीफाइनल मैच 30 और 31 मार्च को होंगे. वहीं 3 अप्रैल को खिताबी मुकाबला खेला जाएगा. अगर रिजर्व-डे के दिन मैच नहीं हुआ तो फाइनल में पहुंचने वाली टीमों को संयुक्त विजेता घोषित किया जाएगा.

    ऐसा है वर्ल्ड कप का फॉर्मेट

    साल 2019 में इंग्लैंड में खेले गए पुरुष क्रिकेट वर्ल्ड कप की तरह इस बार वुमेंस वर्ल्ड कप में प्रत्येक टीम एक दूसरे के खिलाफ मैच खेलेगी. शीर्ष-4 में रहने वाली टीमें सेमीफाइनल में एंट्री करेंगी. सेमीफाइनल में पहले स्थान पर रहने वाली टीम चौथे स्थान पर रहने वाली टीम से खेलेगी, जबकि दूसरे नंबर पर रहने वाली टीम का मुकाबला तीसरे स्थान पर रहने वाली टीम से होगा.

    ऐसा है पॉइंट सिस्टम

    मैच में विजेता टीम को 2 अंक दिए जाएंगे. अगर मैच टाई रहता है तो दोनों टीमों के 1-1 अंक मिलेंगे. राउंड रॉबिन स्टेज के दौरान टाई रहे मैच के लिए सुपर ओवर नहीं होगा. अगर राउंड रॉबिन मुकाबलों के दौरान 2 टीमों के अंक बराबर होते हैं तो उनमें से बेहतर नेट रन रेट वाली टीम क्वालिफाई करेगी. यदि दोनों टीमों का नेट रनरेट भी टाई रहता है तो फिर हेड टू हेड मुकाबलों के आधार पर टीम क्वालिफाई करेगी. सुपर ओवर केवल सेमीफाइनल और फाइनल मैच के टाई रहने पर ही खेला जाएगा.

    6 वेन्यू पर खेले जाएंगे मैच

    महिला क्रिकेट वर्ल्ड कप के मैच 6 वेन्यू पर खेले जाएंगे. यह वेन्यू हैं ऑकलैंड, क्राइस्टचर्च, डुनेडिन, हैमिल्टन, माउंट मॉनमानुगई और वेलिंगटन. वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच वेलिंगगटन और क्राइस्टचर्च में खेले जाएंगे. फाइनल मैच की मेजबानी भी वेलिंगटन करेगा.

    क्या DRS का होगा इस्तेमाल?

    वुमेंस वर्ल्ड कप मैचों के दौरान डीआरएस (DRS) का इस्तेमाल किया जाएगा. हर टीम को पारी के दौरान 2 रिव्यू मिलेंगे. साल 2017 में इंग्लैंड में खेले गए महिला क्रिकेट वर्ल्ड कप के दौरान भी डीआरएस का इस्तेमाल किया गया था.

    क्या बायो-बबल में खेला जाएगा वर्ल्ड कप?

    इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने वर्ल्ड कप के दौरान टीमों को सख्त बायो-बबल में नहीं रखेगा और ना ही प्रतिदिन खिलाड़ियों का कोरोना टेस्ट होगा. इसके बावजूद यह महिला क्रिकेट वर्ल्ड कप नियंत्रित माहौल में खेला जाएगा. आईसीसी के सीईओ ज्योफ एलार्डिस के मुताबिक, परीक्षण कम होगा और रोजाना भी नहीं होगा.

    प्राइज मनी में 75 फीसदी का इजाफा

    वर्ल्ड कप का फाइनल जीतने वाली टीम को लगभग 9.90 करोड़ रुपए मिलेंगे. यह पुरस्कार राशि साल 2017 में इंग्लैंड में खेले गए वर्ल्ड कप से दोगुनी है. वर्ल्ड कप की प्राइज मनी में 75 फीसदी का इजाफा किया गया है. उपविजेता को 4.50 करोड़ रुपए मिलेंगे. सेमीफाइनल में हारने वाली दोनों टीमों को 2.25-2.25 करोड़ रुपए जबकि अन्य चार टीमों में से प्रत्येक को 18.76 लाख रुपए दिए जाएंगे.

    फैंस आ सकेंगे मैच देखने

    टूर्नामेंट के शुरुआती मुकाबलों में मैदान पर सिर्फ 10 फीसदी दर्शकों को जाने की इजाजत होगी. आयोजकों को उम्मीद है कि जैसे-जैसे टूर्नामेंट आगे बढ़ेगा तो इसके बाद दर्शकों की संख्या में भी इजाफा किया जाएगा.

    कौन है वर्ल्ड कप का डिफेंडिंग चैंपियन?

    मौजूदा समय में वर्ल्ड कप की डिफेंडिंग चैपिंयन इंग्लैंड है. साल 2017 में लॉर्ड्स पर खेले गए फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड की महिला टीम ने भारत को 9 रनों से हराया था. इंग्लैंड की टीम 4 बार वर्ल्ड कप जीत चुकी है. ऑस्ट्रेलिया ने सबसे अधिक 6 बार खिताब अपने नाम किया है. वहीं, न्यूजीलैंड की टीम एक बार वर्ल्ड कप ट्रॉफी पर कब्जा करने में सफल रही है. भारतीय महिला टीम साल 2005 और 2017 में फाइनल में पहुंचने सफल रही, लेकिन उसे उपविजेता से ही संतोष रहना पड़ा.

    यह भी पढ़ें: Womens World Cup 2022: महिला वर्ल्ड कप में भारत से मीलों पीछे है पाकिस्तान, नहीं है कोई लड़ाई

    मिताली-झूलन बना सकती हैं रिकॉर्ड

    भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज सबसे ज्यादा 6 वर्ल्ड कप में भाग लेने वाली दुनिया की पहली महिला क्रिकेटर बनेंगी. वे वर्ल्ड कप मुकाबलों में अब तक 1139 रन बना चुकी हैं. इसके अलावा तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने वर्ल्ड कप में अब तक 36 विकेट अपने नाम किए हैं. अगर इस वर्ल्ड कप में झूलन 4 विकेट और लेती हैं तो वह वर्ल्ड कप के इतिहास में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाली गेंदबाज बन जाएंगी.

    Tags: ICC, Indian women cricketer, Jhulan Goswami, Mithali raj, New Zealand, Womens World Cup 2022

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें