होम /न्यूज /खेल /12 साल की उम्र में बहन को खोया, अलविदा भी ठीक से न कर पाई, दर्दनाक है वर्ल्ड चैंपियन खिलाड़ी की कहानी

12 साल की उम्र में बहन को खोया, अलविदा भी ठीक से न कर पाई, दर्दनाक है वर्ल्ड चैंपियन खिलाड़ी की कहानी

एलीसा हीली ने महिला विश्व कप के फाइनल में 170 रनों की शानदार पारी खेली. लेकिन वो कम उम्र में बड़ी त्रासदी झेल चुकी हैं. (PIC-ICC/Instagram)

एलीसा हीली ने महिला विश्व कप के फाइनल में 170 रनों की शानदार पारी खेली. लेकिन वो कम उम्र में बड़ी त्रासदी झेल चुकी हैं. (PIC-ICC/Instagram)

Womens World cup final में ऑस्ट्रेलिया की विकेटकीपर बल्लेबाज एलिसा हीली ने रिकॉर्डतोड़ पारी खेली. उनकी पारी की बदौलत ऑस ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. एलिसा हीली ने बीते दिनों महिला वर्ल्ड कप में 170 रन की रिकॉर्ड पारी खेलकर इतिहास रचा. उनकी इस पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने रिकॉर्ड 7वीं बार विश्व कप जीता. लेकिन इस वर्ल्ड चैम्पियन क्रिकेटर की कहानी आंखें नम कर देने वाली है. 12 साल की उम्र में ही हीली ने बड़ी बहन को खो दिया था. अपने अजीज को खोने के गम और दुख से उबरने के लिए क्रिकेट एक जरिया बना और फिर इस खेल में ऐसा रम गईं कि एक के बाद एक इतिहास रचती गईं. हीली की यह कहानी त्रासदी से विजय तक की है. लेकिन इसमें जिंदगी का हर रंग छुपा है.

    एलिसा हीली जब 12 साल की थीं तो उनकी बड़ी बहन अचानक इस दुनिया को छोड़ गईं. उन्होंने एक इंटरव्यू में इस घटना के बारे में बताया था कि कैसे अचानक मां ने उनसे बहन का मैच देखने जाने के बारे में कहा और उसके बाद जो हुआ, उसने पूरे परिवार की जिंदगी बदल दी. आमतौर पर, हीली से चार साल बड़ी करीन को दोस्त की मां घर छोड़ देती थी या उनकी मां देर से लेने जाती थी. ताकि एलिसा घर में अकेली न रहे. हालांकि, उस दिन मां ने एलिसा से कहा कि ऐसा लग रहा है कि मुझे करीन का मैच देखने जाना चाहिए. कुछ वक्त बाद, हीली के घर पर उनकी मां की दोस्त आई और यह खबर दी थी कि आज रात उसे उनके यहां रूकना है. क्योंकि उनकी मां को घर लौटने में देर हो जाएगी.

    हीली की बड़ी बहन की अचानक हो गई थी मौत
    इस घटना को याद करते हुए हीली ने कहा था कि यह मेरी जिंदगी की सबसे बेहतरीन रात थी. लेकिन, अगली सुबह, मां जब घर लौटी तो सबकुछ बदल गया. हीली को आज भी याद है कि उनकी मां ने उन्हें बताया कि बड़ी बहन करीन मैच खेलने के दौरान मैदान पर गिर गई थी और फिलहाल, उसे लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है और उसकी हालत नाजुक है. मां की यह बात सुनकर हीली का दिल बैठ सा गया. उन्हें समझ नहीं आया कि कैसे इस बात पर रिएक्ट करें. उन्हें लगा कि बहन की तबीयत खराब होगी और वो जल्द घर लौट आएगी. लेकिन मां का चेहरा कुछ और ही कहानी बयां कर रहा था. बाद में हीली को पता चला कि उनकी बहन कोमा में चली गई है.

    बहन को अलविदा भी ठीक से नहीं कर पाई थी हीली
    कुछ दिन बाद, एलिसा हीली क्रिकेट मैदान पर उतरीं और शतक ठोककर जब वापस लौटीं तो पिता इंतजार कर रहे थे. उन्होंने मिलते ही कहा कि डॉक्टरों ने करीन का लाइफ सपोर्ट सिस्टम हटा दिया है. अगर तुम अपनी बहन को आखिरी अलविदा कहना चाहती हो तो ऐसा कर सकती हो. एलिसा ने ‘ऑन हर गेम’ नाम के एक शो पर यह पूरा किस्सा साझा किया था और ऐसा करते हुए उनका गला भर आया था.

    उस दिन को याद करते हुए एलिसा ने कहा था यह मीठी याद से जुड़ा दिन था, जो एक झटके में कड़वे अनुभव में तब्दील हो गया. मुझे हमेशा याद दिलाता है कि कैसे उस दिन मैं क्रिकेट खेल रही थी और उसके बाद से हर साल शतक लगा रही हूं. मेरे लिए यह बड़ा अजीब सा एहसास है, लेकिन अच्छा भी है.

    Womens World Cup: एलिसा हीली बनीं प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट, पति मिचेल स्टार्क के रिकॉर्ड की बराबरी

    एलीसा हीली की रिकॉर्डतोड़ पारी के दम पर ऑस्ट्रेलिया सातवीं बार बना विश्व चैंपियन, फाइनल में इंग्लैंड को दी मात

    हीली ने महिला वर्ल्ड कप में कई रिकॉर्ड बनाए
    हीली ने महिला वर्ल्ड कप में कई रिकॉर्ड अपने नाम किए. उन्होंने न्यूजीलैंड में खेले गए इस टूर्नामेंट में सबसे अधिक 509 रन बनाए. उन्होंने सेमीफाइनल और फाइनल में शतक जमाए. वे ऐसा करने वाली पहली खिलाड़ी बनीं. उन्होंने टूर्नामेंट में 70 बाउंड्री लगाई. स्ट्राइक रेट 104 का रहा. वे 5 बार टी20 वर्ल्ड कप का खिताब भी जीत चुकी हैं.

    Tags: Alyssa Healy, Women cricket, Womens World Cup 2022

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें