ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच में नए ग्लव्स में उतरे धोनी, नहीं दिखा कोई चिह्न

धोनी ने रविवार को हरे रंग के ग्लव्स पहने जिस पर न तो एसजी का लोगो था और न ही कोई चिन्ह.

News18Hindi
Updated: June 9, 2019, 11:03 PM IST
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच में नए ग्लव्स में उतरे धोनी, नहीं दिखा कोई चिह्न
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ नए ग्लव्स में उतरे धोनी (ap)
News18Hindi
Updated: June 9, 2019, 11:03 PM IST
तमाम विवाद और आईसीसी के मना करने के बाद भारत के पूर्व कप्तान और अनुभवी विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने रविवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विश्व कप मैच में बलिदान चिन्ह के ग्लव्स नहीं पहने. धोनी ने वर्ल्ड कप के पहले मैच में साउथ अफ्रीका के खिलाफ ग्लव्स पहने थे जिनपर पैरा मिलिटरी का बलिदान चिह्न था. इसके बाद आईसीसी ने बीसीसीआई से कहा था कि वह धोनी को यह ग्लव्स पहनने से मना कर दें क्योंकि यह खेल उपकरण नियम का उल्लघंन है.

धोनी ने रविवार को हरे रंग के ग्लव्स पहने जिस पर न तो एसजी का लोगो था और न ही कोई चिन्ह. हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि यह वही ग्लव्स हैं या नये ग्लव्स.

आईसीसी ने नहीं दी अनुमति

आईसीसी ने क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 में एमएस धोनी को सेना के निशान वाले ग्‍लव्‍स पहनने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था. आईसीसी की ओर से जारी बयान में यह कहा गया है. साथ ही बताया गया है कि धोनी ने इस तरह के लोगो वाले दस्‍ताने पहनकर नियम तोड़े हैं. आईसीसी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि आईसीसी इवेंट के नियम किसी निजी संदेश या लोगो को किसी भी सामान या कपड़े पर दिखाने की अनुमति नहीं देते हैं. साथ ही यह लोगो विकेटकीपर के ग्‍लव्‍स को लेकर जारी नियमों को भी तोड़ता है.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से बलिदान बैज वाले ग्लव्स पहनने की अनुमति न मिलने के बाद भी बीसीसीआई और प्रशासकों की समिति (सीओए) ने उम्मीद नहीं छोड़ी थी. आईसीसी को मनाने के लिए बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी शनिवार को लंदन पहुंच गए थे. हालांकि धोनी के नए ग्लव्स पहनने के फैसले के बाद बीसीसीआई की कवायद काम नहीं आई.
यह भी पढ़ें-

Loading...

ICC World Cup : ओवल में फिर धवन का धमाका, 5 मैचों में तीसरा शतक
पाकिस्तान की जर्सी पर विराट कोहली का नाम, तस्वीर हुई वायरल

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 9, 2019, 11:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...