टीम इंडिया के इस क्रिकेटर को बूढ़े पिता करा रहे हैं घर पर प्रैक्टिस, किया बड़ा खुलासा

टीम इंडिया के इस क्रिकेटर को बूढ़े पिता करा रहे हैं घर पर प्रैक्टिस, किया बड़ा खुलासा
ऋद्धिमान साहा ट्रेनिंग के लिए ले रहे हैं पिता की मदद

कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते कई क्रिकेट खिलाड़ी अब भी आउटडोर प्रैक्टिस नहीं कर पा रहे हैं, टीम इंडिया का एक खिलाड़ी घर के अंदर ही अभ्यास में जुटा है

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान की टीमों के खिलाड़ियों ने आउटडोर प्रैक्टिस शुरू कर दी है लेकिन भारतीय टीम के खिलाड़ी अभी इससे वंचित हैं. हालांकि इसके बावजूद किसी ना किसी तरह भारतीय खिलाड़ी खुद की फिटनेस और खेल को लय में लाने की कोशिशों में जुटे हैं. टीम इंडिया के विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) भी घर के बाहर नहीं जा पा रहे हैं लेकिन वो अपने फ्लैट में विकेटकीपिंग की ट्रेनिंग कर रहे हैं और इसमें बूढ़े पिता उनकी मदद कर रहे हैं. प्रशांत साउथ सिटी के अपने अपार्टमेंट में रिद्धिमान की विकेटकीपिंग ड्रिल में मदद कर रहे हैं जिससे कि उनका हाथ और आंखों का सामंजस्य बना रहे.

विकेटकीपिंग ड्रिल कर रहे हैं साहा
साहा (Wriddhiman Saha) ने पीटीआई से कहा, 'मेरे अपार्टमेंट के अंदर को भी ड्रिल संभव है, मैं वह कर रहा हूं। इसलिए मैं आखों और हाथों के सामंजस्य वाली कई ड्रिल करता हूं जो विकेटकीपरों के लिए बेहद जरूरी हैं। कभी कभी मैं दीवार पर सॉफ्टबॉल मारता हूं और फिर गेंद को कैच करता हूं जिससे कि क्रिकेट खेलने का अहसास बना रहे.' उन्होंने कहा, 'कभी-कभी मेरे पिता (प्रशांत साहा) भी फ्लैट के अंदर मेरी मदद करते हैं.' क्या फ्लैट के अंदर कूदने और कैच का अभ्यास करने के लिए पर्याप्त जगह है? साहा भाग्यशाली हैं कि उनके घर में ऐसा है. साहा ने कहा, 'हां, मैं दोनों तरफ मूव कर सकता हूं और कैच पकड़ सकता हूं.'

परिवार की मौजूदगी में वर्कआउट करना मुश्किल



साहा (Wriddhiman Saha) से ये पूछा गया कि क्या यह ब्रेक कंधे की सर्जरी के कारण 2018-2019 के ब्रेक की तरह है, साहा ने कहा कि यह उस समय से बेहतर है. भारतीय राष्ट्रीय टीम के स्ट्रैंथ एवं अनुकूलन कोच निक वेब ने सभी के लिए व्यक्तिगत ट्रेनिंग कार्यक्रम तैयार किया है. साहा ने कहा कि उनके पास कुछ उपकरण हैं लेकिन अपार्टमेंट के अंदर परिवार की मौजूदगी में नियमित वर्जिश कर पाना संभव नहीं है.



भारत को अगली टेस्ट श्रृंखला दिसंबर में आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलनी है और साहा की नजरें इससे पहले घरेलू क्रिकेट या इंडियन प्रीमियर लीग में खेलने पर टिकी हैं. उन्होंने कहा, 'अगर मुझे मैच खेलने को मिलते हैं तो यह अच्छा रहेगा लेकिन यह सब कुछ उस समय की स्थिति पर निर्भर करेगा. आपको अब भी नहीं पता कि यात्रा करना सुरक्षित है या नहीं। उम्मीद करता हूं कि शिविर शुरू करने से पहले सभी चीजों का ध्यान में रखा जाएगा.'

मुसीबत में फंसे शोएब अख्तर, FIA ने भेजा समन, लगा साइबर स्टॉकिंग का आरोप
First published: June 4, 2020, 5:55 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading