WTC Final 2021: डेवॉन कॉनवे को रोकने के लिए विराट कोहली का तुरुप का इक्का कौन होगा?

ENG VS NZ: डेवॉन कॉनवे डेब्यू टेस्ट में दोहरा शतक जड़ा है. (PC-AFP)

ENG VS NZ: डेवॉन कॉनवे डेब्यू टेस्ट में दोहरा शतक जड़ा है. (PC-AFP)

WTC Final 2021: छह महीने पहले इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू करने वाले 29 वर्षीय बल्लेबाज डेवॉन कॉनवे ने टी20 और वनडे के बाद टेस्ट में धमाल मचा दिया. डेब्यू टेस्ट में कॉनवे ने लॉर्ड्स में दोहरा शतक जड़ा है.

  • Share this:

नई दिल्ली. विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (WTC Final) का फाइनल मुकाबला भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच 18 से 22 जून तक इंग्लैंड के साउथ्प्टन में खेला जाएगा. विराट कोहली की अगुवाई में भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket team) इंग्लैंड पहुंच चुकी है. दूसरी ओर न्यूजीलैंड की टीम लॉर्ड्स टेस्ट के जरिए WTC फाइनल की तैयारियां शुरू कर दी है. इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में कीवी टीम पहली पारी में डेवॉन कॉनवे के शानदार दोहरे शतक की बदौलत 378 रन बनाने में सफल रही. छह महीने पहले इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू करने वाले 29 वर्षीय बल्लेबाज कॉनवे ने टी20 और वनडे के बाद टेस्ट में धमाल मचा दिया.

कॉनवे ने बढ़ाई टीम इंडिया की चिंता

कॉनवे ने 347 गेंदों में 22 चौके और एक छक्के की मदद से 200 रनों की पारी खेली. डेब्यू टेस्ट में शतक ठोकने वाले वो न्यूजीलैंड के 12वें बल्लेबाज हैं. बाएं हाथ के बल्लेबाज कॉनवे की तुलना ऑस्ट्रेलिया के पूर्व खिलाड़ी माइक हसी से की जा रही है. कॉनवे ने न्यूजीलैंड के लिए 14 टी20 मैचों में 59.12 की औसत से 473 रन बनाए हैं. वहीं तीन वनडे में उन्होंने 75 की औसत से 225 रन ठोके हैं, जिसमें एक शतक और एक अर्धशतक भी शामिल है. टेस्ट क्रिकेट में पिछले कुछ समय न्यूजीलैंड की टीम ओपनर बल्लेबाज की समस्या से जूझ रही थी जो कॉनवे के आने से खत्म हो गई है. इस बल्लेबाज ने अभी तक भारत के खिलाफ नहीं खेला है. ऐसे में विराट कोहली जरूर इस बल्लेबाज की तकनीकी खामियों को पर नजर रख रहे होंगे. कॉनवे ने दोहरे शतक से भारत के खिलाफ फाइनल के लिए टीम में अपनी जगह पक्की कर ली है.

इंग्लैंड के गेंदबाज हासिल नहीं कर सके कॉनवे का विकेट
कॉनवे ने अपनी इस पारी में जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड, मार्क वुड और ओली रॉबिनसन जैसे तेज गेंदबाजों का सामना किया. इंग्लैंड ने इस टेस्ट मैच में कोई विशेषज्ञ स्पिनर नहीं खिलाया था तो ऐसे में जो रूट 12 ओवर डाले. लेकिन कोई भी इंग्लिश गेंदबाज कॉनवे का विकेट नहीं ले सका. कॉनवे न्यूजीलैंड के आखिरी बल्लेबाज के तौर पर रन आउट हुए. भारत के पास भी जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा जैसे खतरनाक तेज गेंदबाज हैं जो कॉनवे को मुश्किल में डाल सकते हैं. हालांकि रविचंद्रन अश्विन भारत के लिए तुरुप का इक्का साबित हो सकते हैं.

यह भी पढ़ें: 

WTC Final 2021 न्यूजीलैंड के मिडिल ऑर्डर की खुली पोल, टीम इंडिया के लिए अच्छी खबर



IND VS ENG: स्मृति मंधाना ने कहा-इंग्लैंड में जल्दी नींद आ जाती है, बताई वजह

बाएं हाथ के बल्लेबाजों के खिलाफ अश्विन ज्यादा सफल

अश्विन ने टेस्ट क्रिकेट में अब तक 409 विकेट लिए हैं. अश्विन टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में बाएं हाथ के बल्लेबाजों को 200 से ज्यादा बार आउट करने वाले इकलौते गेंदबाज हैं. अश्विन ने ओवरऑल टेस्ट में जिन बाएं हाथ के बल्लेबाजों को सबसे ज्यादा बार आउट किया है, उनमें बेन स्टोक्स (11 बार) सबसे ऊपर हैं. इसके अलावा अश्विन ने ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर को 10 बार और इंग्लैंड के एलेस्टेयर कुक को 9 बार आउट किया है. ऐसे में विराट कोहली अश्विन पर दांव पर खेल सकते हैं. वर्तमान में अश्विन टेस्ट क्रिकेट के सबसे घातक स्पिनर भी हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज