WTC Final: 300 विकेट लेने वाले गेंदबाज ने टीम इंडिया की चिंता बढ़ाई, हर 39वीं गेंद पर करता है कमाल

टिम साउदी ने 12वीं बार 5 विकेट झटके. (AFP)

टिम साउदी ने 12वीं बार 5 विकेट झटके. (AFP)

न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज टिम साउदी ने टीम इंडिया की चिंता बढ़ा दी है. उन्होंने पहले टेस्ट (England vs New Zealand) में एक पारी में 5 विकेट झटके. साउदी टेस्ट में 300 से अधिक विकेट ले चुके हैं. भारत और न्यूजीलैंड के बीच 18 जून से वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेला जाना है.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल होना है. 18 से 22 जून तक के बीच यह मुकाबला इंग्लैंड के साउथम्प्टन मैदान पर खेला जाएगा. इससे पहले न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज टिम साउदी ने धारदार गेंदबाजी करके टीम इंडिया को चिंता में डाल दिया है. उन्होंने पहले टेस्ट (England vs New Zealand) की पहली पारी में 5 विकेट झटके. करियर में उन्होंने 12वीं बार यह कारनामा किया.

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पहले न्यूजीलैंड को इंग्लैंड से दो मैचों की सीरीज खेलनी है. पहले टेस्ट के चौथे दिन शनिवार को टिम साउदी ने इंग्लिश कप्तान जो रूट सहित 4 विकेट झटके. इस कारण न्यूजीलैंड की टीम पहले टेस्ट में बढ़त लेने की स्थति में पहुंच गई है. हालांकि मैच के ड्रॉ होने की संभावना है. तीसरे दिन बारिश के कारण एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी थी. न्यूजीलैंड ने पहली पारी में 378 रन बनाए. जवाब में समाचार लिखे जाने तक इंग्लैंड ने 8 विकेट पर 209 रन बना लिए थे. साउदी 24 ओवर में 42 रन देकर अब तक 5 विकेट झटक चुके हैं.

12वीं बार 5 विकेट लेने का कारनामा

30 साल के टिम साउदी का यह 78वां टेस्ट है. वे अब तक 307 विकेट ले चुके हैं. 12वीं बार उन्होंने 5 विकेट लेने का कारनामा किया. 17 बार 4 विकेट और एक बार 10 विकेट भी झटके हैं. इतना ही नहीं वे अच्छी बल्लेबाजी के लिए भी जाने जाते हैं. 5 अर्धशतक के सहारे 1690 रन  बनाए हैं. इस दौरान 73 छक्के लगाए हैं. उनका यह प्रदर्शन वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में अहम हो सकता है.
भारत के खिलाफ रिकॉर्ड बेहद शानदार

टिम साउदी ने भारत के खिलाफ न्यूजीलैंड के लिए ओवरऑल करियर में तीनों फॉर्मेट में 79 विकेट लिए हैं. वे सिर्फ महान रिचर्ड हैडली से पीछे हैं. हेडली ने भारत के खिलाफ सबसे ज्यादा 92 विकेट लिए हैं. साउदी का भारत के खिलाफ औसत 32 का और स्ट्राइक रेट लगभग 39 का है. यानी वे हर 39वीं गेंद पर एक विकेट लेते हैं. दो बार पांच विकेट झटके हैं. 16 की औसत से 425 रन बनाए हैं. एक अर्धशतक भी जड़ा है.

मैच ड्रॉ या टाई होने पर मिलेगा संयुक्त विजेता



वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के लिए 23 जून को एक रिजर्व डे भी रखा गया है. इसका उपयोग तभी होगा जबकि पांच दिन में खेल के पूरे ओवर नहीं हो सकेंगे. इसका फैसला मैच रेफरी करेगा. अगर मैच ड्रॉ या टाई होता है तो दोनों टीमों को संयुक्त विजेता घोषित किया जाएगी. अब तक सिर्फ एक बार 2002 में भारत और श्रीलंका के बीच हुए चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में संयुक्त विजेता देखने को मिला था.

कोहली के पास धोनी की बराबरी का मौका

बतौर कप्तान कपिल देव, सौरव गांगुली और महेंद्र सिंह धोनी ही आईसीसी ट्रॉफी जीत सके हैं. अब लिस्ट में विराट कोहली भी शामिल हो सकते हैं. कपिल देव की कप्तानी में टीम इंडिया ने 1983 में वनडे वर्ल्ड कप का खिताब जीता था. सौरव गांगुली की कप्तानी में टीम 2002 में चैंपियंस ट्रॉफी में चैंपियन बनीं. वहीं महेंद्र सिंह धोनी ने 2007 में टी20 वर्ल्ड कप, 2011 में वनडे वर्ल्ड और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब दिलाया. कोहली धोनी की इस मामले में बराबरी कर सकते हैं कि धोनी ने टी20 वर्ल्ड कप का पहला सीजन जीता था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज