WTC Final के आखिरी दिन क्या करेगी टीम इंडिया, मोहम्मद शमी ने किया खुलासा

WTC Final: मोहम्मद शमी ने चार विकेट लेकर भारत को मैच में बनाए रखा है. (PC-AFP)

WTC Final IND vs NZ: भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने मैच के 5वें दिन चार विकेट झटके जिससे न्यूजीलैंड की पारी 249 रन पर सिमट गई. भारतीय टीम के दो विकेट के नुकसान पर 64 रन बना लिए हैं और टीम के पास कुल 32 रन की बढ़त है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में टीम इंडिया की मुश्किल में है. विराट कोहली की टीम ने दूसरी पारी में दो विकेट खोकर 64 रन बना लिए हैं और 32 रनों की बढ़त हासिल कर ली है. आज साउथैम्पटन के मैदान पर बारिश के आसार नहीं है यानि पूरे दिन खेल होगा. भारत आखिरी दिन ड्रॉ के लिए खेलेगा या न्यूजीलैंड को लक्ष्य देगा, इस पर मोहम्मद शमी ने टीम इंडिया का प्लान बताया है. भारतीय टीम बिना बड़े लक्ष्य के न्यूजीलैंड को बल्लेबाजी का मौका देकर कोई जोखिम नहीं लेना चाहती है.

    तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने पांचवें दिन की समाप्ति के बाद कहा, "टीम इंडिया 'सेफ्टी फर्स्ट' का नजरिया अपनाएगी. बारिश के कारण हमने बहुत समय गंवाया है. तो कुल स्कोर पर कोई चर्चा नहीं हुई है. हमने अभी अपनी दूसरी पारी शुरू की है और हमें बोर्ड पर रन बनाने की जरूरत है."

    शमी ने आगे कहा कि हमें ज्यादा से ज्यादा रन बनाने होंगे और फिर देखना होगा कितना समय बचा है, उसी अनुसार निर्णय लेंगे. इंग्लैंड में जैसी परिस्थितियां हैं, कुछ भी हो सकता है, लेकिन हमारे दिमाग में यह पहले से योजना नहीं हो सकती है कि हम उन्हें इतने ओवरों में आउट देंगे. आपको 10 विकेट लेने और कुछ ठोस योजनाएं बनाने के लिए समय चाहिए. लेकिन पहले हमें पर्याप्त बैक-अप रनों की जरूरत है." शमी के कहने से लग रहा है कि भारत को मौजूदा परिस्थितियों में ड्रॉ से कोई दिक्कत नहीं होगी.

    शमी भी अपने प्रयासों से खुश थे जिससे भारत को मैच में वापसी करने में मदद मिली. शमी ने कहा, “जाहिर है जब आप टेस्ट मैच खेलते हैं, तो आप पांच दिनों के लिए एक योजना पर टिके नहीं रह सकते. आपको लचीला होना चाहिए और ट्रैक के अनुसार लाइन सेट करनी चाहिए. हमें टाइट लाइन पर गेंदबाजी करने की जरूरत थी. लगाातर दबाव बनाए रखने की वजह से हमें विकेट मिले." अनुभवी तेज गेंदबाज इस बात से खुश हैं कि वह अपने ड्यूटी को प्रभावी ढंग से निभाने में सक्षम हैं.

    यह भी पढ़ें: WTC Final में भारत पर हार का खतरा, न्यूजीलैंड ने बनाई मैच पर पकड़

    टिम साउदी के ताबड़तोड़ छक्कों के रिकॉर्ड के आसपास भी नहीं दिग्गज, रोहित-कोहली भी बहुत पीछे

    उन्होंने कहा, “जब भी मुझे जिम्मेदारी सौंपी गई है, मैंने अपना शत-प्रतिशत लगा दिया है. स्थिति कैसी भी हो, मुझे पता है कि कप्तान क्या चाहता है और फिर मैं उसके निर्देशों का पालन करता हूं. मैं हमेशा एक आक्रामक गेंदबाज रहा हूं जो विकेट के लिए जाता है." क्या पांच विकेट से चूकने का कोई मलाल है? इस सवाल पर शमी ने कहा कि जब आप भारत के लिए खेलते हैं, तो आपको ऐसा कोई पछतावा नहीं होता है. आप निजी रिकॉर्ड्स के बारे में नहीं सोच सकते.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.