WTC Final: साउथैप्टन में भारत का रिकॉर्ड बेहद खराब, 2 टेस्ट मैच खेले और दोनों में मिली मात

पहली बार वर्ल्ड चैंपियनशिप का आयोजन हो रहा है. (PTI)

WTC Final 2021: इंग्लैंड के साउथैप्टन मैदान पर भारत का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है. भारत ने यहां दो टेस्ट मैच खेले हैं और दोनों बार टीम इंडिया को करारी हार मिली है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारत और न्यूजीलैंड (India vs New zealand) के बीच कल यानि 18 जून से वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल (WTC Final 2021) मुकाबला खेला जाएगा. यह मुकाबला इंग्लैंड के साउथैप्टन मैदान पर होगा. भारतीय टीम ने इस मैदान पर साल 2014 और 2018 में इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैच खेला है और दोनों बार टीम इंडिया को शिकस्त मिली है. हालांकि राहत बात यह है कि इस मैदान पर चेतेश्वर पुजारा शतक जड़ चुके हैं और उप कप्तान अजिंक्य रहाणे का यहां जबरदस्त रिकॉर्ड है.

    साल 2014-इंग्लैंड ने 266 रनों से हराया
    इस मैदान पर अब तक छह टेस्ट मैच हुए जिसमें तीन ड्रॉ रहे हैं. दो बार इंग्लैंड और एक बार वेस्टइंडीज ने जीत हासिल की. साल 2014 के इंग्लैंड दौरे पर भारतीय टीम ने सीरीज का चौथा टेस्ट मैच यहां खेला. इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सात विकेट के नुकसान पर 569 रन बनाए थे. गैरी बैलेंस (156) और इयान बेल (167) ने शतकीय पारी खेली थी. भारत ने रहाणे (54) और एमएस धोनी (50) की पारियों की बदौलत 330 रन बनाए. दूसरी पारी में इंग्लैंड ने एलिस्टर कुक के 70 रनों की बदौलत चार विकेट के नुकसान पर 205 रन बनाकर पारी घोषित की. भारत के सामने 445 रनों का लक्ष्य था लेकिन टीम सिर्फ 178 रनों पर सिमट गई. दूसरी पारी में रहाणे 52 रन बनाकर नाबाद रहे. मोईन अली ने दूसरी पारी में 67 रन देकर छह विकेट चटकाया था.

    साल 2018-इंग्लैंड ने 60 रनों से हराया
    इस टेस्ट में जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और अश्विन ने घातक गेंदबाजी करते हुए इंग्लैंड को सिर्फ 246 रन पर समेट दिया. हालांकि भारतीय टीम इसका फायदा नहीं उठा सकी और पहली पारी में 273 रन पर सिमट गई. चेतेश्वर पुजारा ने अकेले संघर्ष करते हुए 132 रनों की पारी खेली. दूसरी पारी में इंग्लैंड ने जोस बटलर के 69 रन की बदौलत 271 बनाए और भारत के सामने जीत के लिए 245 रनों का लक्ष्य रखा. विराट कोहली (58) और रहाणे (51) ने थोड़ा संघर्ष किया लेकिन मोईन अली की घातक गेंदबाजी से भारतीय टीम 184 पर सिमट गई. नौ विकेट लेने वाले अली को मैन ऑफ द मैच चुना गया. अली ने यहां भारत के खिलाफ दो टेस्ट मैच में 17 विकेट लिए हैं. रहाणे ने यहां चार टेस्ट पारियों में तीन बार अर्धशतक जड़ा है.

    रोहित शर्मा ने जड़ा है शतक
    इस मैदान पर भारत ने तीन वनडे खेले हैं और हर बार जीत हासिल की है. साल 2004 में भारतीय टीम ने सौरव गांगुली की कप्तानी में केन्या को 98 रनों से मात दी थी. इसके 15 साल बाद 2019 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम ने रोहित शर्मा (122 रन) के नाबाद शतक की बदौलत दक्षिण अफ्रीका को छह विकेट से मात दी थी. वर्ल्ड कप के ही एक अन्य मैच में भारत ने अफगानिस्तान को 11 रन से हराया था. इस मैच में शमी ने चार और बुमराह ने दो विकेट लिए थे.

    न्यूजीलैंड एक भी मैच नहीं हारा
    न्यूजीलैंड इस मैदान पर अब तक अपराजेय रही है. टीम ने यहां कोई टेस्ट नहीं खेला लेकिन तीन वनडे मुकाबले खेले हैं. एक मुकाबला रद्द हो गया था जबकि कीवी टीम ने साल 2013 और 2015 में इंग्लैंड को हराया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.