Home /News /sports /

Year Ender 2021: Dad’s Army बनी IPL चैंपियन, 'बूढ़े कप्तान' की एक बात ने किया टीम का कायापलट

Year Ender 2021: Dad’s Army बनी IPL चैंपियन, 'बूढ़े कप्तान' की एक बात ने किया टीम का कायापलट

Year Ender 2021: आईपीएल 2021 अगर किसी एक वजह से सबसे ज्यादा याद रखा जाएगा तो वो महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स की वापसी को लेकर. सीएसके पिछले सीजन में 7वें पायदान स्थान पर रही थी. लेकिन 1 साल में ही टीम का ऐसा कायापलट हुआ कि वो चौथी बार चैम्पिय बन गई. (csk instagram)

Year Ender 2021: आईपीएल 2021 अगर किसी एक वजह से सबसे ज्यादा याद रखा जाएगा तो वो महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स की वापसी को लेकर. सीएसके पिछले सीजन में 7वें पायदान स्थान पर रही थी. लेकिन 1 साल में ही टीम का ऐसा कायापलट हुआ कि वो चौथी बार चैम्पिय बन गई. (csk instagram)

Year Ender 2021: इस साल आईपीएल (IPL) का ताज चौथी बार चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के सिर सजा. यह उस टीम के लिए बड़ी उपलब्धि कही जाएगी, जो 2020 में सातवे पायदान पर रही थी. तब से बूढ़ों की फौज और Dad’s Army जैसे ताने सुनने पड़े थे. लेकिन महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के करिश्माई नेृतत्व ने टीम ने 1 साल में ही तमाम आलोचनाओं को गलत साबित करते हुए उसी यूएई में आईपीएल की चमचमाती ट्रॉफी उठाई, जहां उसे 2020 में सबसे पहले प्लेऑफ से बाहर होने का दर्द झेलना पड़ा था. 2021 का आईपीएल सिर्फ उम्रदराज खिलाड़ियों से सजी सीएसके की वापसी और धोनी की कप्तानी के लिए याद रखा जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. जिस टीम ने बैन झेला, Dad’s Army और बूढ़ों की फौज जैसे ताने सुने. अगर वो एक साल में सातवें पायदान से नंबर-1 बन जाए, तो यह हैरानी वाली बात ही है. लेकिन 2021 में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल का खिताब जीतकर साबित कर दिया कि पिछले साल जो हुआ, वो इतिहास था और टीम का भविष्य सुनहरा है. इससे एक बात और साफ हो गई, जिस टीम के पास धोनी जैसा कप्तान होगा, उसके लिए नामुमकिन कुछ नहीं. इसलिए अगर ऐसा कहें कि आईपीएल 2021 सिर्फ चेन्नई सुपर किंग्स के नाम ही रहा तो गलत नहीं होगा.

    2020 में कोरोना के खतरे के बीच भारत से बाहर यूएई में आईपीएल (IPL) हुआ. देश बदला, लेकिन मुंबई इंडियंस के लिए कुछ नहीं बदला. रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम ने लगातार दूसरे साल आईपीएल का खिताब जीता. लेकिन 39 साल के महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की चेन्नई सुपर किंग्स से तो देश बदलते ही मानो किस्मत रूठ गई. पहले टीम के 2 अहम खिलाड़ियों सुरेश रैना और हरभजन सिंह ने निजी वजहों का हवाला देकर टूर्नामेंट में खेलने से इनकार कर दिया. फिर टीम को आईपीएल इतिहास की सबसे बुरी हार झेलनी पड़ी.

    आईपीएल 2020 में CSK पहली बार प्लेऑफ में नहीं पहुंचीं
    चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने आईपीएल 2020 का आगाज तो जीत के साथ किया. पहली ही मैच में डिफेंडिंग चैम्पियन मुंबई इंडियंस को मात दी. लेकिन इसके बाद टीम लगातार 3 मैच हार गई. इसके बाद टीम अगले 7 में से 5 मैच और हार गई. यानी लीग के दूसरे हाफ में ‘बूढ़ों की फौज’ कहलाने वाली टीम का दम ही फूल गया. मध्यक्रम में महेंद्र सिंह धोनी और केदार जाधव बतौर बल्लेबाज फेल रहे. टीम के स्पिन गेंदबाजों को भी यूएई रास नहीं आया. इसके बाद भले ही सीएसके ने आखिरी तीन मैच लगातार जीते. लेकिन तब तक देर हो चुकी थी.

    टीम पिछले 11 सीजन में पहली बार प्लेऑफ में भी नहीं पहुंचीं और इस यह कहा जाने लगा कि अब धोनी का जादू खत्म हो गया है. यह कयास लगाए जाने लगे कि यह धोनी का आखिरी आईपीएल होगा. तब एक मैच में डैनी मॉरिसन ने धोनी से पूछ भी लिया था कि क्या यह आपका आखिरी आईपीएल होगा. आमतौर खुलकर जवाब नहीं देने वाले धोनी ने तब साफ कहा, बिल्कुल नहीं!

    हार के बाद धोनी ने की थी दमदार वापसी की बात
    2020 के खराब प्रदर्शन के बाद फैंस को भी चेन्नई सुपर किंग्स पर पर शक होने लगा कि क्या यह टीम  2021 में वापसी कर पाएगी? लेकिन धोनी हमेशा की तरह शांत रहे. सबसे बुरे दौर में भी किसी खिलाड़ी से कुछ नहीं कहा. सिर्फ इतना कहा कि हमारे लिए प्रक्रिया अहम है, नतीजों से फर्क नहीं पड़ता. हम फिर वापसी करेंगे. कप्तान की इस बात ने खिलाड़ियों को दबाव में नहीं आने दिया और कप्तान की यही बात आईपीएल 2021 में टीम की धमाकेदार वापसी की वजह बनी.

    2021 में लड़ाई भारत और पाकिस्तान गेंदबाजों के बीच रही, आर अश्विन टेस्ट में नंबर-1, लेकिन?

    ‘बूढ़ों की फौज’ का उम्रदराज कप्तान ने किया कायापलट
    इसे एक आंकड़े से समझा जा सकता है. आईपीएल 2020 में जहां चेन्नई पहला मैच जीतकर लगातार 3 मुकाबले हारी थी. वही टीम 2021 में पहला मैच हारने के बाद लगातार तीन मैच जीती. सीएसके ने भारत में हुए आईपीएल के पहले लेग के 7 में से 5 मैच जीते. इस बीच, कोरोना के कारण 29 मुकाबलों के बाद लीग को स्थगित करना पड़ा. दूसरा लेग यूएई में खेला गया. लेकिन इस बार देश बदलने का सीसके के प्रदर्शन पर कोई असर नहीं पड़ा. धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई ने यूएई लेग में लगातार 4 मैच जीते.

    Year Ender 2021: 45% मैच जीतने वाली टीम बनी वर्ल्ड चैंपियन, पाकिस्तान 77% जीत के बाद भी फिसड्डी; जानें भारत का हाल

    टीम ग्रुप स्टेज खत्म होने के बाद दूसरे स्थान पर रही. सिर्फ दो बल्लेबाजों ऋतुराज गायकवाड़ और फाफ डुप्लेसी ने ही टीम की नैया पार लगा दी. दोनों ने 600 से ज्यादा रन बनाए. रही सही, कसर धोनी के अनुभव ने पूरी कर दी और तमाम आलोचनाओं के बाद भी 2020 में सातवें पायदान पर रहने वाली चेन्नई सुपर किंग्स नंबर-1 बन गई.

    Tags: Chennai super kings, Cricket news, Csk, IPL 2020, IPL 2021, Ms dhoni, Year Ender, Year Ender 2021

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर