IPL 2021 से पहले मोहम्मद शमी ने की संन्यास की चर्चा, कहा-युवा गेंदबाज हमारी जगह लेने को तैयार

मोहम्मद शमी ने पिछले आईपीएल सीजन में 20 विकेट लिए थे. (Mohammed Shami/Instagram)

मोहम्मद शमी ने पिछले आईपीएल सीजन में 20 विकेट लिए थे. (Mohammed Shami/Instagram)

मोहम्मद शमी ने कहा है कि जब हमारा संन्यास लेने का समय आयेगा तो युवा हमारी जगह लेने के लिये तैयार होंगे. वे जितना अधिक खेलेंगे, उतना ही बेहतर होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 5:26 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत के सीनियर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक जीत में टीम के नेट गेंदबाजों ने दिखा दिया कि जब मौजूदा आक्रमण के खिलाड़ी संन्यास लेंगे तो बदलाव का दौर काफी आसान रहेगा. शमी, ईशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह और उमेश यादव की तेज गेंदबाजों की चौकड़ी यकीनन भारत का सर्वश्रेष्ठ आक्रमण है जो टीम की विदेश में सफलता में काफी अहम रहा है. भारत ने जब गाबा में जीत से ऑस्ट्रेलिया में लगातार दूसरी टेस्ट सीरीज अपने नाम की तो हालांकि इनमें से कोई भी उपलब्ध नहीं था.

हालांकि मोहम्मद सिराज जैसा युवा अपनी डेब्यू सीरीज में आक्रमण का अगुआ बना और चोटिल गेंदबाजों की अनुपस्थिति में नेट गेंदबाज जैसे शार्दुल ठाकुर, टी नटराजन और वॉशिंगटन सुंदर को मौके मिले जिसका उन्होंने पूरा फायदा उठाया. शमी कलाई की चोट के कारण एडिलेड टेस्ट के बाद श्रृंखला से बाहर हो गये थे, उन्होंने कहा, ‘‘जब हमारा संन्यास लेने का समय आयेगा तो युवा हमारी जगह लेने के लिये तैयार होंगे. वे जितना अधिक खेलेंगे, उतना ही बेहतर होंगे. मुझे लगता है कि जब हम संन्यास लेंगे तो बदलाव का दौर काफी आसान रहेगा. ’’ शमी ने कहा कि अगर एक बड़ा खिलाड़ी संन्यास लेगा तो टीम को कोई परेशानी नहीं होगी. बेंच तैयार है. अनुभव हमेशा ही जरूरी होता है और युवा इस दौरान अनुभव हासिल कर लेंगे.

यह भी पढ़ें:

CSK के कप्तान धोनी के मुरीद हुए मोईन अली, कहा-खेल सुधारने में मदद करते हैं
IPL : कप्तान बनने के बाद ऋषभ पंत का पहला वीडियो, जमकर पसीना बहाते आए नजर

शमी ने कहा कि नेट गेंदबाजों को बायो-बबल के माहौल में ले जाने से उन्हें काफी फायदा मिला और उन्हें काफी अहम मौके मिले. कार्तिक त्यागी को छोड़कर ऑस्ट्रेलिया गयी भारत की विशाल टीम के सभी गेंदबाजों को मुश्किल परिस्थितियों में खेलने का मौका मिला क्योंकि शमी, बुमराह और उमेश सीरीज के दौरान चोटिल हो गये थे जबकि ईशांत दौरे पर गये ही नहीं थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज