लाइव टीवी

युवराज सिंह ने बीसीसीआई पर साधा निशाना, दिया ये बड़ा बयान

News18Hindi
Updated: October 23, 2019, 12:34 PM IST
युवराज सिंह ने बीसीसीआई पर साधा निशाना, दिया ये बड़ा बयान
टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह ने कहा है कि तमिलनाडु के खिलाफ पंजाब के लिए क्वार्टर फाइनल का नतीजा निराशाजनक रहा. (फाइल फोटो)

विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) के क्वार्टर फाइनल में बारिश के चलते पंजाब और मुंबई को टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा था, जिसके बाद नॉकआउट मुकाबलों के लिए रिजर्व डे की मांग जोर पकड़ने लगी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2019, 12:34 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. टीम इंडिया (Team India) के पूर्व ऑलराउंडर और हाल ही में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट (International Cricket) से संन्यास लेने वाले युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) के नॉकआउट मुकाबलों में रिजर्व डे न रखे जाने को लेकर बीसीसीआई (BCCI) पर जमकर निशाना साधा है. युवराज का ये बयान ऐसे समय में आया है जब पंजाब की टीम को तमिलनाडु के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में बारिश के चलते बाहर होना पड़ा. युवराज ने बीसीसीआई पर तंज कसते हुए सवाल पूछा है कि क्या उसके लिए घरेलू टूर्नामेंट महत्व नहीं रखते हैं?

क्वार्टर फाइनल में तमिलनाडु ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 39 ओवर में 6 विकेट पर 174 रन बना लिए थे. जवाब में पंजाब ने 12.2 ओवर तक दो विकेट खोकर 52 रन बनाए थे और टीम मुकाबले में बनी हुई थी. मगर इसके बाद बारिश के चलते मैच दोबारा शुरू नहीं हो सका और लीग में अधिक मैच जीतने के आधार पर तमिलनाडु (Tamilnadu) को सेमीफाइनल का टिकट मिल गया. वहीं एक अन्य क्वार्टर फाइनल में मुंबई और छत्तीसगढ़ का मैच भी बारिश के चलते पूरा नहीं हो सका. इस मैच में छत्तीसगढ़ को इसलिए सेमीफाइनल में प्रवेश दे दिया गया क्योंकि उसने लीग मैच में मुंबई को मात दी थी.



युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने ट्वीट में बीसीसीआई (BCCI) को टैग करते हुए कहा, 'विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) में तमिलनाडु के खिलाफ पंजाब के लिए एक और दुर्भाग्यपूर्ण नतीजा रहा. एक बार फिर पंजाब (Punjab) की टीम जीत की ओर बढ़ रही थी, लेकिन खराब मौसम के चलते मैच रद्द कर दिया गया. अंकों के आधार पर हम सेमीफाइनल में नहीं पहुंचे सके. हमारे पास नॉकआउट के लिए रिजर्व डे क्यों नहीं है. या फिर ये घरेलू टूर्नामेंट है और बीसीसीआई के लिए इसका अधिक महत्व नहीं है.'
Loading...

इससे पहले, पंजाब के खिलाड़ी मनदीप सिंह (Mandeep Singh) ने भी विजय हजारे ट्रॉफी के नॉकआउट मुकाबलों में रिजर्व डे न होने पर नियमों पर सवाल खड़े किए थे. टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने भी उनका समर्थन किया था. हरभजन ने कहा था कि ऐसे टूर्नामेंट में रिजर्व डे न रखे जाने का नियम बेहद खराब है. बीसीसीआई को इसे बदलने की ओर देखना चाहिए.

13 साल में 9 हजार से ज्यादा रन,करीब 300 विकेट मगर धोनी ने खिलाए 3 मैच,अब लिया संन्यास

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 12:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...