युवराज सिंह और हरभजन सिंह की वजह से कप्तानी छोड़ने को तैयार हो गए थे सौरव गांगुली

युवराज सिंह और हरभजन सिंह की वजह से कप्तानी छोड़ने को तैयार हो गए थे सौरव गांगुली
जब युवराज और भज्जी ने कर दिया था दादा को नाराज

सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के जन्मदिन पर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने एक दिलचस्प कहानी फैंस के साथ शेयर की, जिसमें उन्होंने बताया कि सौरव गांगुली कप्तानी छोड़ने को तैयार हो गए थे.

  • Share this:
नई दिल्ली. सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को गंभीर कप्तानों में शुमार किया जाता है और उनके 48वें जन्मदिन के मौके पर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने उनके साथ किए मजाक की कहानी साझा की जिससे यह पूर्व भारतीय कप्तान नाराज हो गया था. गांगुली की कप्तानी में अंतरराष्ट्रीय पदार्पण करने वाले युवराज ने इंस्टाग्राम पर वीडियो डालकर अपने कप्तान की तारीफों के पुल बांधते हुए कहा, 'आपके नेतृत्व में सफर शानदार रहा. आपने मेरा और युवा खिलाड़ियों का शुरुआत में समर्थन किया जिसकी जरूरत होती है. ऐसा करने के लिए आपको धन्यवाद. मुझे याद है कि जब आपने एजबस्टन में मुझे बीसीसीआई ट्रॉफी दी. उस दिन मैंने आपसे कहा था कि आपके समर्थन के बिना यह नहीं हो सकता था. इसलिए आपके समर्थन के लिए धन्यवाद. '

जब युवी और भज्जी ने किया गांगुली को नाराज
युवराज (Yuvraj Singh) ने बताया कि किसी तरह एक बार हरभजन और उनके मजाक ने गांगुली को नाराज कर दिया था और उन्होंने कप्तानी छोड़ने तक की बात कह दी थी.युवराज ने बताया, 'जब मैं, भज्जी (हरभजन सिंह), जैक (जहीर खान), (आशीष) नेहरा और वीरू (वीरेंद्र सहवाग) आपसे काफी घुल मिल गए तो आपके साथ हमने मजाक भी किए. मैं एक ऐसा ही मजाक सबके साथ साझा करना चाहूंगा जब हम पाकिस्तान के साथ खेल रहे थे और तब मैंने और भज्जी ने नकली अखबार बनाया था, यह मेरा नहीं भज्जी का आइडिया था. हमने सभी खिलाड़ियों के बयान लिखे और आपका नाम डाल दिया कि आपने लिखे हैं.'

उन्होंने कहा, ' मुझे याद है कि आपने अगले दिन कहा था कि अगर मैंने ऐसा कुछ कहा है तो मैं इस्तीफा दे दूंगा. मुझे पता है कि आप काफी नाराज हो गए थे. तब राहुल (द्रविड़) ने धीरे से बताया कि यह अप्रैल फूल का मजाक है . मुझे लगता है कि आपको पता था कि ऐसी हरकत कौन कर सकता है और आप सीधे मेरे और भज्जी के पीछे भागे. इसके लिए माफी. लेकिन इसके लिए प्यार भी. मुझे यह लम्हा बेहद पसंद है. '





गांगुली का टी शर्ट उतारने का लम्हा यादगार
नेटवेस्ट ट्रॉफी 2002 के फाइनल में भारत की रोमांचक जीत के बाद कप्तान गांगुली के टी शर्ट उतारने के लम्हे को भी युवराज ने याद किया. उन्होंने कहा, 'और ऐसा लम्हा 2002 में भी आया जब आपने नेटवेस्ट ट्रॉफी के फाइनल में अपनी टी शर्ट उतारी, आपकी बॉडी, मैंने ऐसी बॉडी किसी क्रिकेटर की नहीं देखी. उसके बाद अच्छा हुआ आपने कभी टी शर्ट नहीं उतारी. मजाक छोड़िए लेकिन वह लम्हा काफी भावुक था, मैंने भी अपनी टीशर्ट उतारी लेकिन भाग्य से ठंड होने के कारण मैंने नीचे टीशर्ट पहनी थी.'

वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर से हुई 'चूक', टॉस में भूल गए सबसे बड़ा नियम!

युवराज (Yuvraj Singh) ने कहा, 'काफी लम्हें हैं लेकिन इस समय मैं आपको जन्मदिन की बधाई देना चाहता हूं. आपको जन्मदिन मुबारक हो. अब आप बीसीसीआई अध्यक्ष हो आपको और आपको बीसीसीआई अध्यक्ष की तरह बर्ताव करना होगा जो आप कर रहे हो. मुझे यकीन है कि आप भारतीय क्रिकेट में बड़ा अंतर पैदा करोगे.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading