दो महीने से नहीं मिली तनख्वाह, बस से जाते हैं स्टेडियम फिर भी फ्री में खेलने को तैयार हैं जिम्बाब्वे के खिलाड़ी

आईसीसी के फैसले के बाद से जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट को आईसीसी से किसी तरह की आर्थिक मदद नहीं मिल रही है.

News18Hindi
Updated: July 31, 2019, 5:33 PM IST
दो महीने से नहीं मिली तनख्वाह, बस से जाते हैं स्टेडियम फिर भी फ्री में खेलने को तैयार हैं जिम्बाब्वे के खिलाड़ी
जिम्बाब्वे के खिलाड़ी अभी भी क्रिकेट खेलना चाहते हैं
News18Hindi
Updated: July 31, 2019, 5:33 PM IST
आईसीसी ने भले ही जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड को सस्पेंड कर दिया हो लेकिन टीम के खिलाड़ी हर कीमत पर क्रिकेट खेलना चाहते हैं. आईसीसी के फैसले के बाद कई खिलाड़ियों ने क्रिकेट छोड़ने का फैसला किया वहीं कुछ ऐसे भी खिलाड़ी है जो देश में किसी भी तरह इस खेल को बचाना चाहते हैं. जिम्बाब्वे के खिलाड़ियों ने बिना पैसे लिए खेलने की इच्छा जाहिर की है.

खिलाड़ियों ने बताया कि वह बिना पैसे के खेलने को तैयार, वह टी20 वर्ल्ड कप क्वालिफायर में खेलना चाहते हैं. जहां पुरुष टीम का क्वालिफायर अक्टूबर में है वहीं महिला क्वालिफायर अगस्त में खेला जाना है. जिम्बाब्वे के एक सीनियर खिलाड़ी ने इसपीएनक्रिकइंफो ने कहा, 'हम फ्री में खेलने को तैयार हैं जब तक की हमें उम्मीद की किरण दिखाई देती है. हमारा लक्ष्य टी20 क्वालिफायर है.' आपको बता दें कि जिम्बाब्वे की महिला और पुरुष टीमों को पहले ही पिछले दो महीनों की तानख्वाह नहीं दी गई है. हाल ही टीम ने नेदरलैंड्स और आयरलैंड का दौरा किया, टीम को अब तक उस दौरे की फीस नहीं दी गई है.

जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड सस्पेंड किया जा चुका है
जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड सस्पेंड किया जा चुका है


आईसीसी के फैसले के बाद से जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट को आईसीसी से किसी तरह का पैसा नहीं मिल रहा है. साथ ही जिम्‍बाब्‍वे की टीम किसी आईसीसी इवेंट में भी नहीं खेल सकती है. हालांकि टीम पर द्विपक्षीय सीरीज खेलने पर रोक नहीं है लेकिन जिम्बाब्वे की टीम पैसे की कमी के चलते ऐसा करने में सक्षम नहीं है. पैसों की किल्लत के चलते ही वह बांग्लादेश मे होने वाली ट्राईसीरीज से भी हट गई थी.

आईसीसी के इस कदम को लेकर जिम्बाब्वे के क्रिकेटरों में गहरी हताशा है. टीम के वरिष्ठ खिलाड़ी सिकंदर रजा ने कहा था कि कैसे एक फैसले ने कई लोगों को बेरोजगार कर दिया  है. कैसे एक फैसले का असर कई परिवारों पर पड़ा है. विकेटकीपर बल्लेबाज ब्रेंडन टेलर ने भी ट्विटर पर आईसीसी के इस फैसले पर दुख जताया था.

सोशल मीडिया पर रातों-रात सनसनी बना इस गेंदबाज का अनोखा एक्‍शन

कोच चुनने से पहले ही विवादों में फंसी कपिल देव की अध्यक्षता वाली कमेटी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 31, 2019, 5:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...