Home /News /sports /

पुरुष टीम ने सभी वर्ल्ड चैंपियन को हराया, लेकिन महिला टीम को वनडे खेलने में लग गए 38 साल

पुरुष टीम ने सभी वर्ल्ड चैंपियन को हराया, लेकिन महिला टीम को वनडे खेलने में लग गए 38 साल

ZIMW vs IREW: जिम्बाब्वे की महिला टीम पहली बार वनडे मैच खेल रही है. (Zimbabwe Women's Cricket Twitter)

ZIMW vs IREW: जिम्बाब्वे की महिला टीम पहली बार वनडे मैच खेल रही है. (Zimbabwe Women's Cricket Twitter)

ZIMW vs IREW: जिम्बाब्वे की महिला टीम ने मंगलवार को इतिहास रचा. टीम आयरलैंड के खिलाफ (ZIMW vs IREW) इतिहास का पहला वनडे मुकाबला खेल रही है. हालांकि पुरुष टीम ने पहला वनडे 1983 में खेला था. यानी महिला टीम को पहला मैच खेलने के लिए 38 साल तक इंतजार करना पड़ा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. जिम्बाब्वे की महिला टीम मंगलवार को पहली बार वनडे का मुकाबला (ZIMW vs IREW) खेलने उतरी. इसके साथ टीम ने इतिहास भी रच दिया. देश की पुरुष टीम 1983 से वनडे का मुकाबला खेल रही है. पुरुष टीम ने वनडे की सभी 6 वर्ल्ड चैंपियन टीम को हराया भी है. लेकिन महिला टीम को पहला वनडे खेलने के लिए 38 साल तक इंतजार करना पड़ा. आयरलैंड ने इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट पर 253 रन बनाए हैं.

    आईसीसी (ICC) की ओर पूर्ण सदस्यता पाने वाली 12 टीमों की बात करें तो अब 11 टीमों ने टेस्ट और वनडे दोनों के मुकाबले खेल गए हैं. सिर्फ अफगानिस्तान की महिला टीम ने अब तक ऐसा नहीं किया है. जिम्बाब्वे की महिला टीम हालांकि 2019 से टी20 के मुकाबले खेल रही है. टीम का प्रदर्शन इस फॉर्मेट में अच्छा भी रहा है. टीम ने अब तक खेले 24 टी20 में से 22 मुकाबले जीते हैं.

    भारत और वेस्टइंडीज को 10-10 बार हराया

    पुरुष टीम के वनडे रिकॉर्ड की बात करें तो 6 देशों भारत, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, श्रीलंका, वेस्टइंडीज और इंग्लैंड ने वर्ल्ड कप का खिताब जीता है. जिम्बाब्वे ने सभी देशों के खिलाफ मैच जीते हैं. उसने श्रीलंका को सबसे अधिक 11 बार मात दी है. भारत और वेस्टइंडीज को 10-10 बार हराया है. इसके अलावा पाकिस्तान को 4 बार, ऑस्ट्रेलिया को 2 बार और इंग्लैंड को 8 बार हराया है. हालांकि पिछले कुछ समय से टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है.

    यह भी पढ़ें: IPL 2021: IPL 2021: हर्षा भोगले ने टीवी अंपायर के फैसले को सही बताया, सुनील गावस्कर ने उठाए थे सवाल

    1992 में मिली थी पूर्ण सदस्यता

    जिम्बाब्वे को पूर्ण सदस्यता 1992 में मिली थी. यानी उसे तीनों फॉर्मेट में खेलने की अनुमति इंटरनेशनल क्रिकेट बॉडी की ओर से मिल गई थी. हालांकि घरेलू विवाद के कारण आईसीसी ने जुलाई 2019 में उसके बड़े टूर्नामेंट में उतरने पर रोक लगा दी थी. इसके कारण टीम कई टूर्नामेंट में नहीं उतर सकी. हालांकि अक्टूबर 2019 को उस पर लगा बैन हटा लिया गया. टीम 17 अक्टूबर से होने वाले टी20 वर्ल्ड कप में भी नहीं उतर रही है.

    Tags: Cricket news, ICC, Icc world cup, Zimbabwe

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर