विराट की 'संजीवनी' से भारत ने पाकिस्तान को धूल चटाई

News18India
Updated: October 1, 2012, 2:51 AM IST
विराट की 'संजीवनी' से भारत ने पाकिस्तान को धूल चटाई
पाकिस्तान के खिलाफ करो या मरो मुकाबले की शुरुआत से पहले टीम इंडिया काफी दवाब में थी। गेंदबाजी से लेकर सहवाग के खेलने को लेकर कई तरह के सवाल टीम के इर्द गिर्द घिरे हुए थे।
News18India
Updated: October 1, 2012, 2:51 AM IST
कोलंबो। भारतीय क्रिकेट जगत में युवाशक्ति का प्रतीक बन चुके विराट कोहली (नाबाद 78) के बेहतरीन अर्धशतक की बदौलत भारतीय टीम ने रविवार को आर. प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए ट्वेंटी-20 विश्व कप के सुपर-8 दौर के 'करो या मरो' के मैच में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को आठ विकेट से हराकर खुद को सेमीफाइनल की दौड़ में बनाए रखा है।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच में मिली शर्मनाक हार के बाद अंतिम-4 तक की दौड़ में उसकी सांसे टूटती नजर आ रही थीं लेकिन इस जीत ने उसमें एक नई शक्ति का संचार किया है। यही नहीं, इस जीत के साथ भारत ने विश्व कप (ट्वेंटी-20 और 50 ओवर) में पाकिस्तान पर अजेय स्थिति बनाए रखा है। साथ ही साथ उसने 2007 विश्व कप के बाद पहली बार सुपर-8 दौर में जीत हासिल की है। 2007 में खिताबी जीत हासिल करने के बाद भारतीय टीम 2009 और 2010 में सेमीफाइनल में नहीं पहुंच सकी थी।

पाकिस्तान के खिलाफ करो या मरो मुकाबले की शुरुआत से पहले टीम इंडिया काफी दवाब में थी। गेंदबाजी से लेकर सहवाग के खेलने को लेकर कई तरह के सवाल टीम के इर्द गिर्द घिरे हुए थे। क्रिकेट पंडितों को लगा कि टीम इंडिया पाक टीम के खिलाफ दवाब में बिखर भी सकती है लेकिन हुआ इसका ठीक उलटा।

पाकिस्तान पस्त हुआ और इंडिया ने वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ जीत का 100 फीसदी रिकॉर्ड कायम रखा। इस जीत के साथ भारत ने पाकिस्तान को वनडे क्रिकेट के विश्व कप और T20 विश्व कप में मिलाकर 8 मुकाबलों में शिकस्त दी है। आज तक विश्व कप में पाकिस्तान भारत को विश्व कप में हरा नहीं पाया है।

129 रन का स्कोर T20 क्रिकेट में बहुत चुनौतीपूर्ण नहीं माना जाता है और अगर उसके बाद 75 रन की साझेदारी हो जाए तो जीत तय हो जाती है और टीम इंडिया ने ऐसा ही किया। इस मुकाबले में वापसी करने वाले वीरेंद्र सहवाग और मौजूदा दौर में टीम इंडिया के सबसे सफल बल्लेबाज विराट कोहली ने पाक गेंदबाजों पर जमकर वार किया।

वीरेंद्र सहवाग और विराट कोहली ने दूसरे विकेट के लिए 75 रन की साझेदारी की। सहवाग 29 रन बनाकर आउट हो गए। सहवाग तो आउट हो गए लेकिन कोहली ने अपना शानदार फॉर्म जारी रखते हुए एक बार फिर विराट पारी खेली और टीम को जीत तक पहुंचाया। कोहली ने 61 गेंदों में 9 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 78 रन की नाबाद पारी खेली।

इससे पहले टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान के कप्तान मोहम्मद हफीज को अपने बल्लेबाजों से अच्छी शुरुआत की उम्मीद रही होगी लेकिन ऐसा हुआ नहीं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सुस्त लगने वाले गेंदबाज पाकिस्तान के खिलाफ जमकर गरजे। पाकिस्तान का पहला विकेट पारी के दूसरे ओवर में ही गिर गया। इसके बाद पाक टीम संभल ही नहीं पाई और 60 रन के स्कोर के पहले आधी टीम आउट हो गई।

इस मुकाबले में लक्ष्मीपति बालाजी की टीम में वापसी हुई और उन्होंने कप्तान धोनी को निराश नहीं किया। बालाजी ने 3.4 ओवर में 22 रन देकर 3 विकेट झटके। इसके अलावा आर अश्विन ने 4 ओवर में 16 रन देकर 2 विकेट झटके जबकि युवराज सिंह ने 3 ओवर में 16 रन देकर 2 विकेट लिए।

आखिरकार पाकिस्तान की पूरी टीम 128 रन के स्कोर पर 19.4 ओवर में ऑल आउट हो गई और ये स्कोर टीम इंडिया को जीत का बिगुल बजाने से नहीं रोक सकता था।

भारत के पास अब सेमीफाइनल में पहुंचने का मौका है, जो ऑस्ट्रेलिया से मिली हार के बाद धुंधला गया था लेकिन इसके लिए उसे अपने अंतिम सुपर-8 मैच में दक्षिण अफ्रीका को बड़े अंतर से हराना होगा। इस ग्रुप के अंतिम सुपर-8 मैच में पाकिस्तान का सामना ऑस्ट्रेलिया से होगा।

ऑस्ट्रेलिया सबसे बेहतर नेट रन रेट और चार अंकों के साथ सेमीफाइनल में पहुंच चुका है लेकिन भारत को जीत के साथ-साथ अपना नेट रन रेट भी बेहतर करना होगा क्योंकि ऑस्ट्रेलिया को हराने की सूरत में पाकिस्तान अंतिम-चार में पहुंच जाएगा क्योंकि फिलहाल उसका नेट रन रेट भारत से बेहतर है।

इस तरह भारत को अपने अंतिम सुपर-8 मैच में न सिर्फ जीत के लिए खेलना होगा बल्कि उसे पाकिस्तान (-0.43) से आगे निकलना होगा। भारत का नेट रन रेट (-0.45) है और इस आधार पर वह ग्रुप-2 की तालिका में तीसरे स्थान पर काबिज है। प्रत्येक ग्रुप से दो-दो टीमों को आगे बढ़ना है।
First published: October 1, 2012
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर