होम /न्यूज /खेल /युवी ने कम किया सचिन के संन्यास का गम

युवी ने कम किया सचिन के संन्यास का गम

सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा के साथ ही उनके  प्रशंसकों में इस बात से मायूसी छा गई। लेकिन इस मायूसी को यूवी ने अपने प्रदर्शन के कम कर दिया।

सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा के साथ ही उनके प्रशंसकों में इस बात से मायूसी छा गई। लेकिन इस मायूसी को यूवी ने अपने प्रदर्शन के कम कर दिया।

सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा के साथ ही उनके प्रशंसकों में इस बात से मायूसी छा गई। लेकिन इस ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली। क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी। उन्हें प्रशंसकों में इस बात से मायूसी छा गई। लेकिन इस मायूसी को यूवी ने अपने प्रदर्शन के कम कर दिया। राजकोट में खेले गए एक मात्र टी-20 मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 6 विकेट से हरा दिया। इस रोमांचक मैच में कम बैक मैन युवराज सिंह ने 77 रनों की तूफानी पारी खेली और भारत को जीत दिलाई। ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 202 रनों का लक्ष्य दिया था। लेकिन युवी की पारी के आगे कंगारू बेबस नजर आए।

    तककरीबन आठ महीने से भी ज्यादा समय के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी कर रहे युवराज जब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उतरे तो उनके सामने चुनौती बेहद गंभीर थी। टीम इंडिया के तीन चोटी के बल्लेबाज आउट हो चुके थे और भारत के सामने लक्ष्य था 202 रन का। विराट कोहली के साथ युवराज से एक बड़ी साझेदारी की उम्मीद थी। अभी दोनों लय में आ ही रहे थे कि तभी कोहली ने भी मैके की एक गेंद को गलत दिशा देकर विकेट गंवा दिया।

    अब सबकुछ युवराज सिंह और कप्तान धोनी पर था। लेकिन लगातार विकेट गिरने के दबाव के बावजूद युवराज ने अपना स्वाभाविक खेल जारी रखा। 25 गेंदों पर युवराज ने अपना अर्द्धशतक पूरा कर लिया। लक्ष्य अब करीब आता जा रहा था। कैप्टन कूल भी युवराज को स्ट्राइक देकर नॉन स्ट्राइक से उनके शॉट्स का लुत्फ ले रहे थे। शुरू में मुश्किल लग रहे लक्ष्य को टीम इंडिया ने 2 गेंद रहते ही हासिल कर लिया।

    युवराज ने 35 गेंदों में नाबाद 77 रन बनाए। जिसमें 8 चौके और 5 गगनचुंबी छक्के शामिल थे। युवराज और धोनी के बीच पांचवें विकेट के लिए 102 रनों की साझेदारी हुई। इस जीत ने एकबार फिर दिखा दिया क्यों युवराज सिंह भारतीय मिडल ऑर्डर की जरूरत हैं। यही नहीं युवी ने ये भी जता दिया कि चाहे जितनी मुसीबत आए वो वापस आंगे और पहले से ज्यादा मजबूत होकर आएंगे।

    Tags: Australia, India, Rajkot, Sachin tendulkar, Yuvraj singh

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें