• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • दिग्गज क्रिकेटर करियर के आखिरी टेस्ट में फीके

दिग्गज क्रिकेटर करियर के आखिरी टेस्ट में फीके

क्रिकेट के दिग्गज बल्लेबाजों के आखिरी टेस्ट रिकॉर्ड को देंखे तो कई दिलचस्प आंकड़े सामने आते हैं।

  • Share this:
    मुंबई। मैदान के बाहर तो सचिन की विदाई की तैयारियां धूमधाम से चल रही हैं, लेकिन वानखेड़े के मैदान पर जब सचिन आखिरी बार बल्लेबाजी के लिए उतरेंगे तो उनका बल्ला क्या कमाल दिखाएगा। अगर दिग्गज क्रिकेटरों के आखिरी टेस्ट में प्रदर्शन को देखें तो सचिन के लिए आखिरी टेस्ट में बड़ा स्कोर खड़ा करना चुनौतीपूर्ण होगा। क्रिकेट के दिग्गज बल्लेबाजों के आखिरी टेस्ट रिकॉर्ड को देंखे तो कई दिलचस्प आंकड़े सामने आते हैं।
    सबसे पहले बात महानतम क्रिकेटर और सचिन में खुद का अक्स देखने वाले ऑस्ट्रेलिया के सर डॉन ब्रेडमैन की। ब्रेडमैन को अपने आखिरी टेस्ट में करियर का औसत 100 हासिल करने के लिए सिर्फ 4 रन की जरूरत थी। लेकिन ब्रेडमैन आखिरी पारी में शून्य पर बोल्ड हो गए। इंग्लैंड के खिलाफ ब्रेडमैन को सिर्फ एक पारी खेलना का मौका मिला। हालांकि इस महान क्रिकेटर की जीत से विदाई हुई। महान क्रिकेटरों में शुमार भारत के सुनील गावस्कर निजी प्रदर्शन के मामले में काफी बेहतर रहे हैं। गावस्कर ने टेस्ट करियर की आखिरी पारी में अर्धशतक जमाया और वो शतक से सिर्फ 4 रन से चूक गए। गावस्कर ने पाकिस्तान के खिलाफ आखिरी टेस्ट की पहली पारी में 2 रन जबकि दूसरी पारी में 96 रन बनाए। इस प्रदर्शन के बावजूद गास्वकर को टीम की हार से विदाई लेनी पड़ी।

    भारतीय खिलाड़ियों में सौरव गांगुली की विदाई जीत से तो हुई, लेकिन दादा अपनी आखिरी पारी में खाता भी नहीं खोल सके। हालांकि पहली पारी में सौरव ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अर्धशतक जमाया। नागपुर में अपने विदाई टेस्ट में सौरव ने पहली पारी में 85 रन जबकि दूसरी पारी में शून्य का स्कोर बनाया। टेस्ट क्रिकेट में दीवार के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ की विदाई काफी फीकी रही। द्रविड़ ने संन्यास का ऐलान पहले नहीं किया था और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनका टेस्ट आखिरी साबित हुआ। आखिरी टेस्ट में राहुल द्रविड़ ने पहली पारी में एक रन जबकि दूसरी पारी में 25 रन बनाए। यही नहीं, कंगारूओं के खिलाफ टीम को सीरीज में शर्मनाक हार झेलनी पड़ी।
    महान खिलाड़ियों की सूची में शामिल और सचिन से तुलना हासिल करने वाले ब्रायन लारा को भी हार से विदाई लेनी पड़ी। पाकिस्तान के खिलाफ आखिरी टेस्ट में लारा पहली पारी में शून्य पर जबकि दूसरी पारी में 49 रन बनाकर आउट हुए। आधुनिक क्रिकेट में सचिन को चुनौती देने वाले रिकी पॉन्टिंग की टेस्ट से विदाई भी हार से हुई। विदाई टेस्ट की दोनों पारियों में पॉन्टिंग दहाई का आंकड़ा भी हासिल नहीं कर सके। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहली पारी में पॉन्टिंग 4 रन जबकि दूसरी पारी में सिर्फ 8 रन ही बना सके। वैसे भारत के तीन ऐसे क्रिकेटर हैं जिन्होंने अपने आखिरी टेस्ट में शतक जमाया है।
    विजय मर्चेंट, विजय मांजरेकर और मोहम्मद अहजहरुद्दीन ने शतक जमाकर टेस्ट क्रिकेट से विदाई ली है। टेस्ट में शतकों का अर्धशतक जमाने वाले सचिन तेंदुलकर के बल्ले से लंबे समय से बड़ी पारी नहीं निकली हैं, लेकिन उम्मीद यही है कि अपने घरेलू मैदान पर सचिन जरूर कुछ ऐसा करेंगे कि जो इस महान क्रिकेटर के कद से मेल खाता होगा।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज