• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • IPL-7: नहीं थम रहा दिल्ली की हार का सिलसिला

IPL-7: नहीं थम रहा दिल्ली की हार का सिलसिला

दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम के लिए आईपीएल सीज़न-6 की तरह इस सीज़न भी हार का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। दिल्ली अपने घरेलू मैदान पर भी जीत दर्ज नहीं कर पाई।

  • Share this:
    नई दिल्ली। दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम के लिए आईपीएल सीज़न-6 की तरह इस सीज़न भी हार का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। और पिछले सीज़न के मुकाबले दिल्ली की गेंदबाज़ी आक्रमण में इस बार पैनेपन की कमी एक सबसे बड़ी वजह साबित हो रही है। कोलकाता नाइट राइडर्स के हाथों घरेलू मैदान पर दिल्ली डेयरडेविल्स को एक बार फिर से हार का सामना करना पड़ा। इस हार के साथ ही अंक तालिका में दिल्ली की टीम सबसे निचले पायदान पर आ गई।

    टीम इंडिया के पूर्व कोच गैरी क्रिर्स्टन जब इस सीज़न दिल्ली के कोच बने तो उनसे काफी उम्मीदें जगी। क्रिर्स्टन टीम इंडिया के लिए बेहद कामयाब कोच रह चुके हैं। लेकिन, आईपीएल की नीलामी के दौरान ही इस बात के संकेत मिलने लगे थे कि दिल्ली ने खिलाड़ियों के चयन में समझदारी नहीं दिखाई। खासकर गेंदबाज़ों के चयन में, और गेंदबाज़ों का खराब खेल ही डेयरडेविल्स के लिए सबसे बड़ी परेशानी बनकर उभरा है।

    दिल्ली के गेंदबाजों ने अब तक 8 मैचों में कुल मिलकार 24 विकेट लिए हैं। लेकिन औसतन हर मैच में दिल्ली सिर्फ 3 विकेट ही लेने में कामयाब होती है। इसके मुकाबले लीग तालिका में टॉप पर चलने वाली दो टीमें के गेंदबाजी आक्रमण ने विकेट तालिका में दबदबा बनाए रखा है। किग्स इलेवन पंजाब ने जहां 7 मैचों में 46 विकेट लिए हैं वहीं फिलहाल दूसरे नंबर पर रहनी वाली धोनी की टीम ने 8 मैचों में 48 विकेट झटके हैं।

    टॉप विकेट लेने वाले पहले 20 गेंदबाजों की सूची में दिल्ली का कोई भी खिलाड़ी शामिल नहीं है। इस सूची में 24वें नंबर पर जयदेव उनादकट है। जिन्होंने अब तक 6 मैचों में 6 विकेट लिए हैं। वहीं इकोनोमी रेट के लिहाज से भी डेयरडेविल्स का कोई भी खिलाड़ी पहले टॉप 15 में शामिल नहीं है। वेन पार्नेल 6.73 की इकोनोमी रेट के चलते सबसे किफायती गेंदबाज़ों की इस सूची में 16वें नंबर पर है।

    दिल्ली डयेरडेविल्स को मौजूदा सीज़न में एक और समस्या काफी परेशान कर रही है और वो है कप्तान केविन पीटरसन की ख़राब फिटनेस और फॉर्म। इंग्लैंड टीम से बाहर कर दिए गए पीटरसन पर डेयरडेविल्स ने बड़ा दांव खेला था और उन्हें कप्तानी भी दे दी। लेकिन आईपीएल सीज़न-7 के पहले तीन मैचों में पीटरसन उंगली में चोट के चलते खेल नहीं पाए। इसके बाद अगले 5 मैचों में पीटरसन अपने बल्ले से कोई भी कमाल नहीं दिखा पाये हैं।
    अब तक खेले गये 5 मैचों में पीटरसन ने करीब 15 (15.50) की औसत से सिर्फ 62 रन बनाएं है।

    पीटरसन के अलावा एक और दिग्गज विदेशी खिलाड़ी रॉस टलेर का बल्ला भी 3 मैचों में खामोश ही रहा है और ऐसे में प्लेइंग 11 में 4 विदेशी खिलाड़ियों को शामिल करने के नियम के चलते डेयरडेविल्स की टीम पीटरसन को बाहर भी नहीं बैठा सकती है क्योंकि उनके पास विकल्प के तौर कोई शानदार विकल्प भी नहीं है।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज