Tokyo Olympics: मैच के दौरान लाइव सुन सकेंगे तीरंदाज दीपिका कुमारी की दिल की धड़कनें

तीरंदाज दीपिका कुमारी लंदन (2012) और रियो (2016) में भारतीय टीम का हिस्सा रहीं. इस बार उनसे पदक की उम्मीद हैं (Deepika Kumari/Instagram)

Tokyo Olympics 2020: टोक्यो खेलों में निशानेबाजी में पहली बार दिल की धड़कन को मापने वाली तकनीक का इस्तेमाल होगा. इसके जरिए तीरंदाजों के तनाव के स्तर और दिल की धड़कन को मैच के दौरान टीवी पर ‘लाइव’ देखा जा सकता है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दुनिया की नंबर एक तीरंदाज दीपिका कुमारी (Deepika Kumari) पर ओलंपिक में हमेशा तनाव हावी हो जाता है. अब विश्व तीरंदाजी (World Archery) की पहल के तहत युमेनोशिमा पार्क में आगामी टोक्यो ओलंपिक खेलों (Tokyo Olympics) के दौरान उनके तनाव के स्तर और दिल की धड़कन को नॉकआउट दौर के दौरान टीवी पर ‘लाइव’ देखा जा सकता है. शुक्रवार से शुरू हो रहे टोक्यो खेलों (Tokyo Games) के दौरान यह तकनीक उन चीजों में शामिल है जिसका पहली बार इस्तेमाल किया जा रहा है.

    विश्व तीरंदाजी के अधिकारी ने बताया कि दिल की धड़कन को मापने वाली तकनीक के तहत पहली बार कैमरे के जरिए तीरंदाज के दिल की धड़कन मापी जाएगी और दर्शकों के लिए इसका सीधा प्रसारण किया जाएगा. तीरंदाजों को हालांकि यह आंकड़े देखने को नहीं मिलेंगे क्योंकि यह सिर्फ टीवी दर्शकों के लिए हैं. अधिकारी ने पीटीआई को बताया, ‘‘कैमरे रक्त प्रवाह में बदलाव के कारण चेहरे की त्वचा के रंग और आकार में बदलाव पर नजर रखेंगे. इसके जरिए हम दिल की धड़कन पता कर सकते हैं और उससे तनाव का स्तर. ’’

    उन्होंने कहा, ‘‘यह दर्शकों को तनाव का स्तर दिखाएगा, बताएगा कि निर्णायक शॉट से पहले तीरंदाज के तनाव का स्तर, दिल की धड़कन बढ़ी या नहीं.’’ विश्व तीरंदाजी ने निजी तौर पर इस तकनीक का ट्रायल किया है लेकिन स्क्रीन पर इसे कभी नहीं दिखाया गया. लगातार तीसरे ओलंपिक में हिस्सा ले रही पदक की प्रबल दावेदार दीपिका लंदन ओलंपिक में नॉकआउट के पहले दौर में बाहर हो गईं थी जबकि पांच साल पहले रियो में वह एक बार फिर दबाव में बिखर गईं और तीसरे दौर में सीधे सेटों में हार गईं.

    Tokyo Olympics 2020: भारत का 88 सदस्यीय दल विशेष विमान से टोक्यो पहुंचा, देखें तस्वीरें

    Tokyo Olympics: खेल गांव में दो और एथलीट कोविड-19 पॉजिटिव मिले, यह संक्रमण का तीसरा केस

    साथ ही पहली बार क्वालीफिकेशन के दौरान सामाजिक दूरी बनाने के लिए सभी 64 तीरंदाजों के लिए अलग अलग लक्ष्य बनाए जाएंगे. अधिकारी ने बताया कि तीरंदाजी ओलंपिक में इस बार पहला खेल होगा जिसमें ‘बॉयोमीट्रिक’ आंकड़ों का सीधा प्रसारण किया जाएगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.