भारत की बृष्टि बागची अब स्‍पेनिश लीग में खेलेंगी

बृष्टि बागची भारत की पहली ऐसी महिला खिलाड़ी बानी हैं जो अब विमेंस फुटबॉल लीग में खेलेंगी. इस फुटबॉल खिलाड़ी ने मैड्रिड महिला सॉकर क्लब में अपनी जगह बना ली है

News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 1:45 PM IST
भारत की बृष्टि बागची अब स्‍पेनिश लीग में खेलेंगी
बागची बनी स्पेन के लिए खेलने वाली पहली महिला खिलाड़ी
News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 1:45 PM IST
भारत की महिला खिलाड़ी दुनिया भर में देश का नाम रोशन कर रही हैं. जहां हिमा दास और सिंधु के बेहतरीन प्रदर्शन ने एक मिसाल कायम की है. वहीं बेंगलुरु की बृष्टि बागची भारत की पहली ऐसी महिला खिलाड़ी गन गई हैं जो अब स्‍पेन में विमेंस फुटबॉल लीग में खेलेंगी. इस फुटबॉल खिलाड़ी ने मैड्रिड महिला सॉकर क्लब में अपनी जगह बनाई है. मैड्रिड महिला सॉकर क्लब स्पेन के विमेंस फुटबॉल लीग में खेलने वाली एक टीम है. ला लीगा ने अपने फेसबुक के ऑफिशियल पेज पर बागची के लिए एक पोस्ट डालकर उन्हें बधाई दी है. 5 अगस्त को वह मेड्रिड पहुंचेंगी. उनकी फुटबॉल सीजन के लिए तैयारी 15 अगस्त से शुरू होगी.Image may contain: 1 person, text and outdoor

ऐसे की  थी करियर की शुरुआत
बेंगलुरु में पली-बढ़ी बृष्टि को फुटबॉल में दिलचस्पी बचपन से ही थी. बाद में उन्हें भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) की लड़कियों की टीम के लिए खेलने के लिए चुना गया, जहां से उनके खेल में निखार आया. इसके बाद वह कर्नाटक की जूनियर और सीनियर दोनों टीमों के लिए भी खेलीं. कॉलेज की पढ़ाई के लिए बृष्टि विदेश चली गई थीं. जहां उन्हें खेल का एक अच्छा माहौल मिला.

उन्होंने कहा, 'विदेश में पढ़ाई करने का मतलब है कि मुझे पढ़ाई के दौरान खेलने का समान अवसर मिलेगा. छोटी उम्र से ही मुझे एक खिलाड़ी के रूप में सीखने और बढ़ने का जज्‍बा था.' वह ओक्लहोमा सिटी विमेंस फुटबॉल टीम के साथ नेशनल एसोसिएशन फॉर इंटरकॉलेजिएट एथलेटिक्स में खेल चुकी हैं. वही उन्होंने भारतीय विमेंस लीग भी खेला था. बृष्टि ने बताया कि एक स्टूडेंट एथलीट के रूप में यूएस जाना उनके गेम में एक सकारात्मक सुधार लाया था.

सितम्बर 2018 में बृष्टि ने मेड्रिड क्लब, स्पेन में एक महीने तक ट्रेनिंग भी ली थी जहां उनके कोच उनके प्रदर्शन से काफी खुश थे. बृष्टि ने कहा, 'पिछले साल मेरे ट्रायल्स के बाद यह तय हो गया था कि मैं आगे अपने गेम की तकनीक सुधारने के लिए रिज़र्व टीम के साथ खेलूंगी. ये मेरे करियर का सबसे बड़ा सीखने का मौका है. और मैं अपने करियर के लिए बहुत उत्साहित हूं'. मेड्रिड में उन्हें आर्थिक रूप से मदद करने के लिए कुछ फंडिंग भी की गई थी जिसपर बृष्टि ने बताया कि उनकी बहुत मदद हुई है.

जापान ओपन: पीवी सिंधु को बहाना पड़ा पसीना, साई प्रणीथ की आसान जीत 

फाइट के दौरान रिंग में पड़ा ऐसा पंच, मुक्केबाज की हो गई मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फुटबॉल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 25, 2019, 1:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...