Champions League Final 2021: क्रिस्टियनर पुलिसिच फाइनल में खेलने वाले पहले अमेरिकी बने


22 वर्षीय पुलिसिच 2019 में जर्मन क्लब बोरुसिया डोर्टमंड से चेल्सी से जुड़े थे.(फोटो साभार-cmpulisic)

22 वर्षीय पुलिसिच 2019 में जर्मन क्लब बोरुसिया डोर्टमंड से चेल्सी से जुड़े थे.(फोटो साभार-cmpulisic)

UEFA Champions League Final 2021: चेल्सी के फारवर्ड पुलिसिच 66वें मिनट में स्थानापन्न खि​लाड़ी के रूप में मैदान पर उतरे. तब उनकी टीम मैनचेस्टर सिटी के खिलाफ 1-0 से आगे चल रही थी.

  • Share this:

नई दिल्ली. क्रिस्टियनर पुलिसिच विश्व के सबसे बड़े क्लब फुटबॉल टूर्नामेंट चैंपियन्स लीग के फाइनल में खेलने वाले पहले अमेरिकी बन गये हैं और उनकी टीम विजेता बनने में भी सफल रही. चेल्सी के फारवर्ड पुलिसिच 66वें मिनट में स्थानापन्न खि​लाड़ी के रूप में मैदान पर उतरे. तब उनकी टीम मैनचेस्टर सिटी के खिलाफ 1-0 से आगे चल रही थी. यह 22 वर्षीय खिलाड़ी 2019 में जर्मन क्लब बोरुसिया डोर्टमंड से चेल्सी से जुड़ा था. उनके पास फाइनल में गोल करने का मौका भी था. उन्होंने 73वें मिनट में सिटी के गोलकीपर एडर्सन मोरियास को छकाकर गोल की तरफ शॉट जमाया लेकिन यह बाहर चला गया.

पुलिसिच ने कहा, "मुझे जो मौका मिला था काश मैं उसका फायदा उठा पाता. मैं गेंद पर अच्छी तरह से शॉट नहीं जमा पाया लेकिन आखिर में हमारी टीम जीती और मुझे इस पर गर्व है." सिटी की टीम में भी अमेरिका के गोलकीपर जॉक स्टीफन शामिल थे लेकिन उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला.

चेल्सी दूसरी बार बना चैंपियंस लीग विजेता

चैंपियंस लीग के फाइनल मुकाबले में चेल्सी ने मैनचेस्टर सिटी को 1-0 से मात देकर दूसरी बार खिताब जीता. जर्मनी के फारवर्ड हावर्ट्ज ने 42वें मिनट काई हावर्ट्ज ने 42 वें मिनट में चेल्सी की तरफ से गोल किया. मैच में शानदार प्रदर्शन करने वाले चेल्सी के डिफेंडर नगोलो कांते को मैन ऑफ द मैच चुना गया. इससे पहले चेल्सी साल 2012 में चैंपियन बनी थी. वहीं मैनचेस्टर सिटी पहली बार चैंपियन लीग का फाइनल खेल रही थी. चेल्सी ने कौच थॉमस टचेल के मार्गदर्शन में मैनचेस्टर सिटी और उसके मैनेजर पेप गॉर्डियोला का चैंपियंस लीग जीतने का सपना तोड़ दिया. सिटी को फाइनल में जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा था.
रवींद्र जडेजा का छलका दर्द, कहा- भारतीय टीम से बाहर होने के बाद डेढ़ साल तक नहीं सो पाया

IPL 2021 से कमाई के बाद रणजी खिलाड़ियों पर 50 करोड़ रुपये खर्च करेगी बीसीसीआई

इस मैच को दुनिया के दो प्रमुख कोच टचेल और गार्डियोला के बीच रणनीति​क द्वंद्व के रूप में भी देखा जा रहा था. टचेल आखिर में इसमें विजेता रहे. गार्डियोला ने सिटी को फाइनल में पहुंचाने वाली टीम में बदलाव किया जो उन्हें भारी पड़ा. गार्डियोला दुनिया के नामी गिरामी कोच हैं लेकिन उनका रणनीति पर जरूरत से ज्यादा ध्यान देने से टीम को फिर से नुकसान हुआ. इस हार से सिटी खिताबी हैट्रिक भी नहीं बना पाया. उसने इस सत्र में प्रीमियर लीग और इंग्लिश लीग कप का खिताब भी जीता था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज