लाइव टीवी

'म्यूनिख के हीरो' ने दुनिया को अलविदा कहा, हवाई हादसे में बचाई थी कई जिंदगियां

News18Hindi
Updated: February 17, 2020, 5:34 PM IST
'म्यूनिख के हीरो' ने दुनिया को अलविदा कहा, हवाई हादसे में बचाई थी कई जिंदगियां
हैरी ग्रेग 87 साल के थे और उन्होंने साेमवार को आखिरी सांस ली.

1958 में दर्दनाक म्यूनिख हवाई हादसा हुआ था, उस समय हैरी ग्रेग (Harry Gregg) ने लोगों को जलते हुए प्लेन में से खींच- खींचकर बाहर निकाला था

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 17, 2020, 5:34 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मैनचेस्टर यूनाइटेड (Manchester United) और नॉर्दन आयरलैंड के पूर्व गोलकीपर हैरी ग्रेग (Harry Gregg ) ने दुनिया को अलविदा कह दिया है. वह 87 साल के थे. पिछले कुछ समय से वह बीमारी के कारण हॉस्पिटल में भर्ती ‌थे. उन्होंने हॉस्पिटल में ही आखिरी सांस ली. आयरिश फुटबॉलर  हैरी को 1958 वर्ल्ड कप का सर्वश्रेष्ठ गोलकीपर चुना गया था. एक समय वह सबसे महंगे गोलकीपर हुआ करते थे.  हालांकि उन्हें उनकी काबिलियत से ज्यादा उनके साहस के लिए याद किया जाता है.

Manchester United,Harry Gregg, football, football news, sports news,मैनचेस्टर यूनाइटेड, हैरी ग्रीग, फुटबॉल, स्पोर्ट्स न्यूज

1958 का वो समय, जब उन्होंने पूरी दुनिया को अपना साहस दिखाया और इसी वजह से करीब चार लोग मौत के मुंह से बाहर निकल आए थे. 1958 में हुए म्यूनिख हवाई हादसे में करीब 23 लोगों  की जान चली गई थी. वहां पर 25 अक्टूबर 1932 को टोबेरमोर में जन्में हैरी ने अपने टीम के कुछ साथी, एक गर्भवती म‌हिला और एक बच्चे को बचाया. जिसके बाद उन्हें हीरो ऑफ म्यूनिख कहा जाने लगा.



Manchester United,Harry Gregg, football, football news, sports news,मैनचेस्टर यूनाइटेड, हैरी ग्रीग, फुटबॉल, स्पोर्ट्स न्यूज
हैरी ग्रेग मैनचेस्टर यूनाइटेड की ओर से लंबे समय तक खेले हैं




बर्फीले रनवे पर क्रैश हो गया था प्लेन
बात 6 फरवरी 1958 की है, जब BEA फ्लाइट 609 भारी बर्फबारी में क्रैश हो गया. हैरी उन लोगों में शामिल थे, जो उस हादसे में बच गए थे. उन्होंने उस हादसे में चार लोगों को बचाया भी था. हैरी ने हिम्मत नहीं हारी और जलते हुए प्लेन के पास दो बार वापस गए और अपनी टीम के साथी और यात्रियों को बाहर खींच लाए. उन्हाेंने मैनचेस्टर यूनाइटेड के खिलाड़ी बॉगी चार्लटॉन और डेनिस विलोट को प्लेन से बाहर निकाला. वहीं 20 महीने के बच्चे और बुरी तरह से घायल हो चुकी उस बच्चे की गर्भवती मां को भी उन्होंने बचाया.

Manchester United,Harry Gregg, football, football news, sports news,मैनचेस्टर यूनाइटेड, हैरी ग्रीग, फुटबॉल, स्पोर्ट्स न्यूज

हादसे के 13 दिन बाद टीम को दिलाई थी बड़ी जीत

यूनाइटेड की ओर से उन्होंने 247 मैच खेले. उन्हें शैफील्ड पर 3-0 से जीत दिलाने के लिए खासतौर पर याद किया जाता है. इस मैच में हर किसी ने  हैरी ग्रेग (Harry Gregg ) के जज्बे को सलाम किया, क्योंकि म्‍यूनिख हादसे के 13 दिन बाद ही उन्‍होंने टीम को यह यादगार जीत दिलाई थी. हैरी के परिवार ने हॉस्पिटल के मेडिकल स्टाफ का शुक्रिया अदा किया, क्योंकि करीब दो सप्ताह से भी अधिक समय तक मेडिकल स्टाफ ने पूरी निष्ठा के साथ हैरी का इलाज किया था. हैरी 1952-1957 तक डॉनकास्टर रोवर्स के लिए खेले. इसके बाद वह मैनचेस्टर चले गए और वह इस क्लब के साथ 1957 से 1966 तक खेले. 1966 से 67 तक उन्होंने स्टोक सिटी के लिए भी कुछ मैच खेले थे.

भारत के 3 उभरते बास्‍केटबॉल खिलाड़ी, NBA टीम में मिली जगह

ट्रायल की तारीख तय नहीं, भारत के 'यूसेन बोल्ट' ने बताई रेस की 'सच्चाई'!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फुटबॉल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 17, 2020, 5:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading