अपना शहर चुनें

States

विश्व कप इतिहास में सबसे बड़ा उलटफेर करने वाले खिलाड़ी ने कम उम्र में दुनिया को कहा अलविदा

बौबा डियोप लंबे समय से बीमार चल रहे थे. (सांकेतिक फोटो)
बौबा डियोप लंबे समय से बीमार चल रहे थे. (सांकेतिक फोटो)

वर्ल्‍ड कप के पहले ही मुकाबले में इस खिलाड़ी ने कोहराम मचा दिया था. रातों रात वह पूरी दुनिया में छा गए थे

  • Share this:
वाशिंगटन. फीफा विश्व कप (FIFA World Cup) के इतिहास में सबसे बड़े उलटफेर में से एक करने वाले दिग्‍गज खिलाड़ी बौबा डियोप (Papa Bouba Diop) ने दुनिया को अलविदा कह दिया है. वह महज 42 साल के थे. उलटफेर वाला गोल दागने वाले सेनेगल के लंबी कद काठी के मिडफील्डर पापा बौबा डियोप के निधन से फुटबॉल जगत सदमे में हैं. बौबा लंबे समय से बीमार चल रहे थे. बीमारी से लड़ते हुए वह जिंदगी की जंग हार गए.

फुटबॉल की संचालन संस्था फीफा ने कहा कि फीफा सेनेगल के महान पापा बौबा डियोप के निधन की खबर सुनकर काफी दुखी है. डियोप ने 60 से अधिक मैचों में सेनेगल का प्रतिनिधित्‍व किया है. उन्‍होंने अपने इंटरनेशनल करियर का पहला गोल 2002 वर्ल्‍ड कप के ओपनिंग मैच में फ्रांस के खिलाफ किया था.
इस ऐतिहासिक गोल के दम पर वह रातों रात री दुनिया में छा गए थे.





जापान और दक्षिण कोरिया में हुए 2002 विश्व कप के शुरुआती मैच में डियोप के गोल की मदद से सेनेगल ने गत चैंपियन फ्रांस को 1-0 से शिकस्त देकर वर्ल्‍ड कप का बड़ा उलटफेर किया था.



यह भी पढ़ें : 

गलत दवाई से गई माराडोना की जान! डॉक्‍टर के घर और ऑफिस पर पुलिस की छापेमारी

अर्जेंटीना के महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना का निधन, दिल का दौरा पड़ने से 60 साल की उम्र में दुनिया को कहा अलविदा

इस विश्व कप में ही सेनेगल ने पदार्पण किया था और इस जीत की बदौलत टीम क्वार्टरफाइनल तक पहुंची थी, जिससे उसने किसी अफ्रीकी टीम के टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी की थी. फीफा ने डियोप को श्रद्धांजलि देते हुए सोशल मीडिया पर लिखा कि एक बार विश्व कप का नायक हमेशा विश्व कप का नायक रहता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज