भारतीय टीम को दोहा पहुंचने के बाद कोविड-19 जांच के नतीजे का इंतजार

भारतीय टीम अभ्यास शिविर शुरू करने के लिए कोविड-19 जांच के नतीजे का इंतजार कर रही (AFC/Twitter)

भारतीय टीम अभ्यास शिविर शुरू करने के लिए कोविड-19 जांच के नतीजे का इंतजार कर रही (AFC/Twitter)

भारतीय फुटबॉल टीम के खिलाड़ी विश्व कप 2022 एवं एशियाई कप 2023 के क्वॉलिफिकेशन मुकाबलों के लिए यहां पहुंचने के बाद अभ्यास शिविर शुरू करने के लिए कोविड-19 जांच के नतीजे का इंतजार कर रहे हैं.

  • Share this:

दोहा. भारतीय फुटबॉल टीम के खिलाड़ी विश्व कप 2022 एवं एशियाई कप 2023 के क्वॉलिफिकेशन मुकाबलों के लिए यहां पहुंचने के बाद अभ्यास शिविर शुरू करने के लिए कोविड-19 जांच के नतीजे का इंतजार कर रहे हैं. भारत का 28 सदस्यीय दल बुधवार रात को नई दिल्ली से यहां पहुंचा. अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, ''दोहा में आरटी-पीसीआर जांच के परिणाम आने तक तक भारत के 28 खिलाड़ियों एवं सहयोगी सदस्यों को अनिवार्य पृथकवास पर रखा गया है.''

उन्होंने बताया, ''जांच नतीजों के बाद टीम मैचों की तैयारी के लिए अभ्यास शिविर शुरू करेगी.'' कप्तान सुनील छेत्री की वापसी से उत्साहित टीम को मेजबान कतर के खिलाफ तीन जून को अपने पहले मैच से पहले यहां बायो-बबल के अंदर अभ्यास शिविर में भाग लेना है. टीम के दो अन्य मैच बांग्लादेश (सात जून) और अफगानिस्तान (15 जून) के खिलाफ हैं.

कोविड-19 महामारी के कारण इन मैचों को दोहा में खेला जाएगा और इसे घरेलू तथा दूसरी टीम के मैदान पर मैचों के मूल प्रारूप में नहीं खेला जा रहा है. भारतीय टीम ग्रुप ई में तीन अंकों के साथ चौथे स्थान पर है. टीम विश्व कप के लिए क्वालीफाई करने की दौड़ से बाहर हो गई है, लेकिन 2023 एशियाई कप में जगह बनाने की संभावना अभी बची हुई है.

एआईएफएफ ने कतर फुटबॉल संघ (क्यूएफए) को धन्यवाद दिया कि उसने टीम को मैचों से काफी पहले यहां आने और दोहा में अभ्यास शिविर लगाने की अनुमति दी. क्यूएफए ने भारतीयों को 10-दिवसीय कठिन पृथकवास से छूट देकर प्रशिक्षण शुरू करने की अनुमति दी. एआईएफएफ के महासचिव कुशल दास ने कहा, ''हम कतर एफए के बेहद आभारी और शुक्रगुजार हैं कि उन्होंने नियमों में छूट देकर हमें कतर में अपने शिविर को जल्दी शुरू करने में मदद की.''
उन्होंने कहा, ''ग्रुप ई विश्व कप क्वालीफायर सुरक्षित बायो बबल के अंदर से खेला जाएगा. हम समझते हैं कि कुछ अनिवार्य स्वास्थ्य प्रोटोकॉल हैं, जिनका हमें दोहा पहुंचने पर पालन करने की आवश्यकता है,. हम पूरी लगन के साथ इसे करेंगे.'' भारतीय टीम को दो मई से कोलकाता में अभ्यास शिविर में भाग लेना था, लेकिन देश में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण उसे रद्द कर दिया गया था. टीम को दुबई में मैत्री मुकाबले खेलने थे, लेकिन वे भी रद्द हो गये.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज