लाइव टीवी

ISL: आत्मघाती गोल के बावजूद मुंबई ने रोका बेंगलुरु का विजय अभियान

News18Hindi
Updated: December 16, 2019, 9:24 AM IST
ISL: आत्मघाती गोल के बावजूद मुंबई ने रोका बेंगलुरु का विजय अभियान
बॉल को अपने नियंत्रण में लेने की कोशिश करते रॉवलिन बोर्जेज

मुंबई के डिफेंडर माटो गर्गिक (Matic Grgic) 58वें मिनट में बॉल को अपने ही गोल पोस्ट में मार बैठे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 16, 2019, 9:24 AM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. रॉवलिन बोर्जेज के इंजरी टाइम में किए गए गोल की मदद से मुंबई सिटी एफसी (Mumbai City FC) ने रविवार को यहां इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के मौजूदा सत्र में बेंगलुरु एफसी (Bengaluru FC) का अजेय क्रम रोक दिया. मुंबई ने श्रीकांतिरावा स्टेडियम में खेले गए रोमांचक मैच में मौजूदा चैंपियन बेंगलुरु एफसी को 3-2 से हराया. बेंगलुरु की आठ मैचों में यह पहली हार है.

टीम 13 अंकों के साथ अंकतालिका में तीसरे नंबर पर हैं. वहीं मुंबई सिटी एफसी की आठ मैचों में यह दूसरी जीत है. टीम के अब 10 अंक हो गए हैं और वह छठे नंबर पर पहुंच गई है.मुंबई सिटी ने शुरू से ही अपनी लय पकड़ ली और कुछ अच्छे मौके बनाए और 12वें मिनट में सुभाशीष बोस के गोल की मदद से 1-0 की बढ़त बना ली.बेंगलुरु नीशू की जगह राहुल भेके के साथ दूसरे हाफ में मैदान पर उतरी.

आत्मघाती गोल के बावजूद हावी रही मुंबई
इसके बाद मुंबई के डिफेंडर माटो गर्गिक (Matic Grgic) एक बड़ी गलती कर बैठे और बॉल को अपने ही गोल पोस्ट में मार बैठे. माटो के 58वें मिनट में किए गए आत्मघाती गोल ने बेंगलुरू को मुकाबले में 1-1 से बराबर पर ला दिया. कार्लोस ने मैदान पर कदम रखते हुए 77वें मिनट में रेनियर फर्नांडीज की मदद से गोल करके मुम्बई को मुकाबले में 2-1 से आगे कर दिया.

Indian Super League, football, sports news, Sunil Chhetri, सुनील छेत्री, इंडियन सुपर लीग, फुटबॉल, स्पोर्ट्स न्यूज
मुकाबले के दौरान हैडर लगाने की कोशिश करते दोनों टीम के खिलाड़ी


मैच के 88वें मिनट में बेंगलुरु को पेनल्टी मिली और कप्तान सुनील छेत्री (Sunil Chhetri) ने इसे गोल में तब्दील करके अपनी टीम को 2-2 से बराबरी पर ला दिया. इसके बाद मुकाबला इंजरी टाइम में चला गया, जहां रॉवलिन बॉर्जेज ने गोल करके मुम्बई को अप्रत्याशित जीत दिला दी. रॉवलिन ने यह गोल सुभाशीष बोस के असिस्ट पर किया.
हालांकि पूरे मुकाबले में बेंगलुरु ने मूवमेंट बना रखा था और मुंबई के आत्मघाती गोल से उसे मौका भी मिला था, ले‌किन वह उस मौके  को भुना नहीं पाई. बेंगलुरु ने 55 फीसदी गेंद पर कब्जा बनाए रखा. वहीं 410 में से 268 सटीक पा‌सिंग दी. जबकि मुंबई ने 280 में से 178 सटीक पासिंग दी.

ओलिंपिक से पहले दुती को मिली खुशखबरी, परिवार ने स्वीकार किया समलैंगिक रिश्ता


विश्व चैंपियन फुटबॉलर भड़का, कहा-मस्जिदें तोड़ी जा रही हैं, दुनिया चुप क्यों?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फुटबॉल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 16, 2019, 8:14 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर