स्टार खिलाड़ी लियोनेल मेसी पर लगा बैन, तीन महीने तक मैदान से रहेंगे बाहर

लियोनेल मेसी ने साउथ अमेरिका की फुटबॉल फेडरेशन CONMEBOL पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था

News18Hindi
Updated: August 3, 2019, 1:29 PM IST
स्टार खिलाड़ी लियोनेल मेसी पर लगा बैन, तीन महीने तक मैदान से रहेंगे बाहर
मेसी को तीन महीने के लिए सस्पेंड किया गया है
News18Hindi
Updated: August 3, 2019, 1:29 PM IST
साउथ अमेरीका की फुटबॉल फेडरेशन CONMEBOL (The South American Football Confederation) ने अर्जेंटीना के स्टार दिग्गज लियोनेल मेसी पर तीन महीने का बैन लगाया है. मेसी वने हाल ही में खत्म हुए कोपा अमेरिका कप में फेडरेशन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था जिसके चलते उनपर यह बैन लगाया था. बैन के अलावा मेसी को 50 हजार डॉलर का जुर्माना भी देना होगा.

मेसी और अर्जेटीना फेडरेशन के पास अगले सात दिनों तक इस फैसले के खिलाफ अपील करने का विकल्प हैं लेकिन अभी तक दोनों की तरफ से कोई बयान जारी नहीं किया गया है. मेसी का बैन अर्जेंटीना के लिए मुश्किल भरा होने वाला है क्योंकि बैन के कारण मेसी चिली, मेक्सिको और जर्मनी के खिलाफ होने वाले फ्रेंडली मुकाबले में नहीं खेल पाएंगे. अर्जेटीना अगले साल मार्च में अपने 2022 विश्व कप क्वालिफाइंग अभियान की शुरुआत करेगी और मेसी इसके पहले मैच में भी टीम का हिस्सा नहीं होंगे.

मेसी ने कहा कोपा अमेरिका में हो रहा है भ्रष्टाचार

कोपा अमेरिक में चिली के खिलाफ हुए मुकाबले में मेसी को रेड कार्ड दिया गया था. मेसी के करियर का यह दूसरा रेड कार्ड था. रेड कार्ड मिलने से वह बेहद नाराज हुए थे और फेडरेशन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था. मेसी ने मैच के बाद कहा, 'भ्रष्टाचार और रेफरी फैंस को कोपा अमेरिका में फुटबॉल का असली मजा लेने से रोक रहे हैं और कहीं ना कहीं इसका मजा खराब कर रहे हैं'. मेसी के मुताबिक उन्हें और मेडेल (चिली के कप्तान) दोनों को ही रेड कार्ड नहीं दिखाया जाना चाहिए था. उन्होंने कहा, 'मेडेल हमेशा हद तक पहुंच जाता है, हालांकि हम दोनों को ही रेड कार्ड नहीं दिखाया जाना चाहिए था. रेफरी को कार्ड दिखाने से पहले वीएआर लेकर इसे चेक करना चाहिए था.'

कोपा अमेरिका फाइनल पर मेसी ने कहा था कि ब्राजील इसे आसानी से जीतेंगे क्योंकि कोपा उनकी तरफ ही झुका हुआ है. उम्मीद है कि रेफरी और वीएआर के पास फाइनल में ज्यादा कुछ देखने के लिए नहीं होगा क्योंकि पेरू अच्छी टीम है, फिर भी उनके लिए मैच जीतना मुश्किल है. मेसी इससे पहले भी सेमीफाइनल मैच में ब्राजील से मिली 2-0 की हार के बाद भी साउथ अमेरिका की फुटबाल संचालन संस्था  पर मेजबान टीम का पक्ष लेने का आरोप लगा चुके हैं.

Sunil Chhetri: मेसी से बड़ा भारत का यह दिग्गज, मां नेपाल के खेलती थी फुटबॉल

बच्चों को अपने बॉलिंग एक्शन की नकल करते देखना अच्छा लगता है: बुमराह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फुटबॉल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 3, 2019, 1:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...