चैंपियंस लीग फाइनल में हार के बाद मैनचेस्टर सिटी के रहीम और वॉकर के साथ नस्लीय दुर्व्यवहार : रिपोर्ट

इंग्लैंड के फुटबॉलर रहीम स्टर्लिंग मैनचेस्टर सिटी के लिए खेलते हैं. (Instagram)

स्काई स्पोर्ट्स की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि मैनचेस्टर सिटी (Manchester City) के फॉरवर्ड रहीम स्टर्लिंग और डिफेंडर काइल वॉकर पर सोशल नस्लीय कमेंट किए गए. उनकी टीम को चेल्सी के खिलाफ चैंपियंस लीग के फाइनल में हार झेलनी पड़ी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. मैनचेस्टर सिटी को चैंपियंस लीग (Champions League) के फाइनल में चेल्सी के हाथों शिकस्त झेलनी पड़ी. इस मैच के बाद मैनचेस्टर सिटी (Manchester City) के फॉरवर्ड रहीम स्टर्लिंग और डिफेंडर काइल वॉकर के साथ सोशल मीडिया पर नस्लीय दुर्व्यवहार किया गया. स्काई स्पोर्ट्स की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि शनिवार को चैंपियंस लीग फाइनल मैच के बाद रहीम स्टर्लिंग और काइल वॉकर को इंस्टाग्राम पर दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ा.

    रिपोर्ट में बताया गया है कि इस जोड़ी को गेम के बाद उनके इंस्टाग्राम पेज पर बंदर वाले इमोजी (Monkey Emoji) भेजे गए थे. इस महीने की शुरुआत में इंग्लिश फुटबॉल के सोशल मीडिया बहिष्कार अभियान के दौरान पेरिस सेंट जर्मेन पर मैनचेस्टर सिटी की सेमीफाइनल जीत के बाद भी स्टर्लिंग को निशाना बनाया गया था. रॉयटर्स न्यूज एजेंसी ने फेसबुक से संपर्क किया है, जो इंस्टाग्राम का मालिक है ताकि इस मामले पर उसकी तरफ से कोई टिप्पणी मिल सके.

    प्रीमियर लीग क्लबों के कई खिलाड़ियों को पिछले कुछ महीनों के दौरान इस तरह निशाना बनाया गया है, जिनमें यूनाइटेड के एंथनी मार्शल, लिवरपूल के ट्रेंट-अलेक्जेंडर अर्नोल्ड और सादियो माने और चेल्सी के रीस जेम्स शामिल हैं. मैनचेस्टर यूनाइटेड के फॉरवर्ड मार्कस रैशफोर्ड ने कहा कि उन्हें सोशल मीडिया पर 'कम से कम 70 नस्लीय कमेंट' मिलीं जब यूरोपा लीग फाइनल में विलारियल से बुधवार को उनकी टीम हार गई.

    इसे भी पढ़ें, चेल्सी ने दूसरी बार जीता खिताब, मैनचेस्टर सिटी का सपना टूटा

    इसी साल फरवरी में इंग्लैंड के फुटबॉल निकायों ने फेसबुक और ट्विटर को एक खुला पत्र भेजा था जिसमें आपत्तिजनक पोस्ट को ब्लॉक करने और जल्दी से हटाने के साथ-साथ यूजर्स के लिए एक बेहतर वेरिफिकेशन प्रक्रिया का आग्रह किया गया था. ट्विटर ने 2019 में ब्रिटेन में फुटबॉल से संबंधित दुर्व्यवहार के 700 से अधिक मामलों पर कार्रवाई करने के बाद अपने प्रयासों को जारी रखने की बात कही है.