Union Budget 2018-19 Union Budget 2018-19

ISL-4: मुंबई के साथ नज़दीकी अंकों का अंतर खत्म करने उतरेगी केरला ब्लास्टर्स!

आईएएनएस
Updated: January 13, 2018, 7:53 PM IST
ISL-4: मुंबई के साथ नज़दीकी अंकों का अंतर खत्म करने उतरेगी केरला ब्लास्टर्स!
मुम्बई सिटी एफसी का सामना मुम्बई फुटबाल एरेना में रविवार को एक मौजूदा उपविजेता केरला ब्लास्टर्स से होगा, जो हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन में खराब शुरुआत के बाद अब कुछ कर गुजरने को आतुर दिख रही है.
आईएएनएस
Updated: January 13, 2018, 7:53 PM IST
मुम्बई सिटी एफसी का सामना मुम्बई फुटबाल एरेना में रविवार को एक मौजूदा उपविजेता केरला ब्लास्टर्स से होगा, जो हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन में खराब शुरुआत के बाद अब कुछ कर गुजरने को आतुर दिख रही है. आईएसएल-4 अपना आधा सफर तय करने को है और मुम्बई तथा केरल के बीच तीन अंकों का अंतर है. मुम्बई के नौ मैचों से 14 अंक हैं जबकि केरल ने इतने ही मैचों से 11 अंक जुटाए हैं. नए मुख्य कोच डेविड जेम्स की देखरेख में केरल की टीम काफी बदली हुई दिखाई दे रही है.

मुम्बई के लिए अच्छी बात यह है कि वह अच्छी फार्म में है. बीते तीन मैचों से वह अजेय है और इनमें से दो मैचों में उसे जीत मिली है लेकिन उसके मुख्य कोच एलेक्सजेंडर गुइमारेस का मानना है कि बेशक दिसम्बर में उनकी टीम ने केरल को 1-1 की बराबरी पर रोका था लेकिन इस बार उनकी टीम का सामना एक बदली हुई टीम से हो रहा है.

गुइमारेस ने कहा, 'नया कोच सबको बदल देता है. वह उन लोगों को बदल देता है जो बेंच पर होते हैं और उनको भी बदल देता है, जो लगातार खेल रहे हैं. इस टीम ने घर से बाहर एक बहुत अहम मैच जीता है और इस जीत ने इस टीम को जिंदा कर दिया है. यह हमारे लिए खतरे की घंटी है और इस कारण हम किसी प्रकार का जोखिम नहीं ले सकते. इस टीम के पास भी एक नया विदेशी खिलाड़ी है जो इस टीम के लिए अलग कर सकता है. यह एक ऐसी टीम है, जो ऊर्जा के साथ यात्रा करती है.'

उल्लेखनीय है कि केरल ने हाल ही में केरिजोन कुजितो के साथ करार किया है, जिन्होंने भारतीय फुटबाल में शानदार शुरुआत की है.

गुइमारेस ने हालांकि अपनी टीम की काबिलियत पर भरोसा जाहिर किया और कहा कि सीजन के मध्य तक उनका मिशन सफल रहा है.

गुइमारेस ने कहा, 'नए सीजन का हमारा पहला लक्ष्य इसके मध्यांतर तक प्लेऑफ स्थान के करीब बने रहना था और इस लिहाज से हमने अपना पहला लक्ष्य हासिल कर लिया है. इसने हमें अच्छी स्थिति में बनाए रखा है और मुझे उम्मीद है कि हम अपने घरेलू मैचों से अधिक से अधिक अंक लेकर अपना लक्ष्य हासिल करने में सफल होंगे. मैं इस बात को लेकर आश्वस्त हूं कि हमारे पास ऐसे खिलाड़ी और संसाधन हैं, जो हमें अंतिम-4 में लेकर जाएंगे.'

गुइमारेस ने कहा कि वह यह देखने को आतुर हैं कि उनकी टीम केरल की व्यवस्थित रक्षापंक्ति के खिलाफ किस तरह खेलती है.

जहां तक केरल की बात है तो उसके कोच जेम्स ने कहा कि मुम्बई को थोड़ी बढ़त प्राप्त है क्योंकि इस मैच से पहले उसे अच्छा खासा आराम मिला है. जेम्स ने मुम्बई की टीम दिल्ली की तुलना में केरल के सामने नई तरह की चुनौती पेश करेगी, जिसे केरल ने 3-1 से हराया था.

जेम्स ने कहा, 'हमारे लिए अनुशासित और निडर रहना जरूरी था. हमारे जैसे हालात थे, उसके हिसाब से हमें जीत चाहिए थी और हमने वह कर दिखाया. जहां तक कल के मैच की बात है तो मुम्बई का खेलने का तरीका अलग है और हम इसके खेल को दिल्ली के खेल से मेल नहीं कर सकते. हमारे पास अच्छा कोचिंग स्टाफ है और इसने हमारी टीम को इस मैच के लिए तैयार किया है. दिल्ली के खिलाफ जीत खुशी देने वाली थी लेकिन यह एक और बाहरी मैच है तथा हमें अभी कुछ और चीजों को व्यवस्थित करना है, जो हम नहीं कर सके हैं.'

केरल को देश भर में जिस तरह का समर्थन और सहयोग मिलता है, उसे देखते हुए जेम्स और उनके साथी मुम्बई फुटबाल एरेना में बिल्कुल एकाकी महसूस नहीं करेंगे.

ये भी पढ़ें:

ये है भारतीय क्रिकेट का नया 'वंडर बॉय'

जानिए आईसीसी U-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप का इतिहास
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर