• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • FIFA वर्ल्ड कप: पिता के किडनैपिंग की खबर मिली, फिर भी मैच खेलते रहे नाइजीरियाई कैप्टन

FIFA वर्ल्ड कप: पिता के किडनैपिंग की खबर मिली, फिर भी मैच खेलते रहे नाइजीरियाई कैप्टन

नाइजीरिया के कैप्टन जॉन ओबी मिकेल (फाइल)

नाइजीरिया के कैप्टन जॉन ओबी मिकेल (फाइल)

नाइजीरिया के आखिरी ग्रुप में अर्जेटीना के खिलाफ होने वाले मुकाबले से कुछ देर पहले ही मिकेल को इस बात का पता चला था कि उनके पिता का अपहरण हो गया है.

  • Share this:
    फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण के दौरान नाइजीरिया के कैप्टन जॉन ओबी मिकेल के पिता का अपहरण हो गया था. मिकेल को इस बारे में पता था, लेकिन वह अपने देश को विश्व विजेता बनाने की कोशिश में जुटे रहे. चेल्सी के लिए खेल चुके इस मिडफील्डर को पिता के अपहरण की खबर तब लगी, जब वह पिछले सप्ताह टीम बस में स्टेडियम आ रहे थे.

    नाइजीरिया के आखिरी ग्रुप में अर्जेटीना के खिलाफ होने वाले मुकाबले से कुछ देर पहले ही मिकेल को इस बात का पता चला था कि उनके पिता का अपहरण हो गया है. 'द गार्जियन' ने मिकेल के हवाले से लिखा है, 'मैं उस समय खेला जब मेरे पिता बंधकों की गिरफ्त में थे. मुझे इस बुरी खबर से आगे निकलना था.'

    FIFA WC 2018: स्वीडन ने किया स्विट्जरलैंड को बाहर, 24 साल बाद क्वार्टर फाइनल में

    रिपोर्ट के मुताबिक, मिकेल से कहा गया था कि वह अपहरकर्ताओं को फोन करें. ऐसा करने पर उनसे फिरौती की रकम मांगी गई. मिकेल ने कहा कि वह नाइजीरिया फुटबॉल महासंघ में किसी को भी इस बारे में बता नहीं सकते थे.


    उन्होंने कहा, "मैं भावनात्मक तौर पर टूट चुका था. मुझे फैसला लेना था कि क्या मैं मानसिक तौर पर खेलने के लिए तैयार हूं. काफी असमंजस में था. समझ में नहीं आ रहा था कि क्या करूं. आखिर में फैसला लिया कि मैं अपने देश के तमाम लोगों को मायूस निराश नहीं कर सकता."



    मिकेल ने कहा, "मुझे इस बात को अपने दिमाग से बाहर निकालना पड़ा और अपने देश का नेतृत्व करना पड़ा. मैं अपने कोच और संघ को भी नहीं बता सकता था. मेरे कुछ करीबी दोस्तों को ही इस बारे में पता था." मिकेल इस मैच में पूरे 90 मिनट तक खेले. हालांकि, अर्जेटीना ने नाइजीरिया को 2-1 से हरा दिया था.

    FIFA WC 2018: मेक्सिको को 2-0 से हराकर क्वार्टर-फाइनल में पहुंचा ब्राजील

    नाइजीरिया के कैप्टन मिकेल ने कहा, "मुझसे कहा गया था कि अगर मैंने यह बात किसी को बताई तो वो मेरे पिता को मार देंगे. मैं इस बात को कोच के साथ भी साझा नहीं कर पाया था, क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि कोई बखेड़ा खड़ा हो."

    कैप्टन ने कहा, "मेरे पिता सोमवार को ही सही सलामत वापस आ गए. मैं पुलिस का मदद करने के लिए धन्यवाद देता हूं." (इनपुट आईएएनएस से)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज