लाइव टीवी

देश के सबसे पुराने फुटबॉल क्लब के आजीवन सदस्य बने नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी

News18Hindi
Updated: October 24, 2019, 12:04 AM IST
देश के सबसे पुराने फुटबॉल क्लब के आजीवन सदस्य बने नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी
नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी को टीम की जर्सी दी गई

नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी (Abhijit Banerjee) ने अपने अगले कोलकाता दौरे पर स्टैंड से मोहन बागान (Mohun bagan) का मैच देखने की इच्छा व्यक्त की है

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2019, 12:04 AM IST
  • Share this:
कोलकाता. मोहन बागान (Mohun bagan) एथलेटिक क्लब ने बुधवार को नोबेल पुरस्कार (Nobel laureate) के लिए चयनित भारतीय मूल के अमेरिकी प्रोफेसर अभिजीत बनर्जी (Abhijit Banerjee) को आजीवन सदस्यता प्रदान की. बनर्जी (Abhijit Banerjee) ने कोलकाता में अगले दौरे के दौरान जनवरी 2020 में स्टैंड से मोहन बागान का फुटबाॅल मैच देखने की इच्छा व्यक्त की थी. क्लब ने एक बयान में जानकारी दी. क्लब के मानद सहायक महासचिव श्रींजय बोस और क्लब के अन्य अधिकारियों ने यहां उनके पैतृक निवास पर इस अर्थशास्त्री से मुलाकात की और उन्हें मोहन बागान  (Mohun bagan)  एथलेटिक क्लब में आजीवन सदस्यता प्रदान की. इसी के साथ क्लब ने 1911 में ब्रिटिश टीम पर हासिल की गई पहली जीत से संबंधित कागजात सौपें, साथ ही टीम की जर्सी भी दी.

mohun bagan, abhijit banerjee, Nobel laureate, sports news, मोहन बागान, अभिजीत बनर्जी, स्पोर्ट्स न्यूज

mohun bagan, abhijit banerjee, Nobel laureate, sports news, मोहन बागान, अभिजीत बनर्जी, स्पोर्ट्स न्यूजस्टैंड से

मैच देखना चाहते हैं बनर्जी 

अभिजीत बनर्जी (Abhijit Banerjee) मंगलवार की शाम को यहां पहुंचे थे. बनर्जी मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में प्रोफेसर हैं और उन्हें अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार  (Nobel laureate) के लिए चयनित किया गया है. दुनिया में गरीबी के अभिशाप से निपटने के लिए बनर्जी सहित तीन अर्थशास्त्रियों ने जो प्रयोगात्मक रिसर्च और सिद्धांत अपनाए, उनके कारण दो दशकों में अर्थशास्त्र के क्षेत्र में काफी विकास (Development Economics) हुआ.

फिलहाल अभिजीत बनर्जी (Nobel laureate) अमेरिका (USA) के नागरिक हैं. बनर्जी ने कोलकाता के अपने अगले दौरे पर मोहन बागान (Mohun bagan) का मैच देखने की भी इच्छा जताई है.वहीं बात अगर मोहन बागान (Mohun bagan) फुटबॉल क्लब की करें तो यह भारत का सबसे पुराना क्लब है. फिलहाल यह साल क्लब के लिए कुछ खास नहीं रहा. अगस्त माह में ही मोहन बागान को डूरंड कप टूर्नामेंट के खिताबी मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था. 16 बार इस खिताब को अपने नाम करने वाली मोहन बागान (Mohun bagan)  को टूर्नामेंट में पहली बार खेलने वाली गोकुलम केरल एफसी ने हराया था. 22 साल बाद केरल की किसी टीम ने इस खिताब को अपने नाम किया था.
ISL 2019: गोवा एफसी ने शानदार अंदाज में किया लीग का आगाज
Loading...

French Open: श्रीकांत और परुपल्ली कश्यप पहले ही राउंड में हुए बाहर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फुटबॉल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 11:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...