• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • FOOTBALL SUNIL CHHETRI ENERGY AND POACHING SKILLS RESEMBLES A 25 YEAR OLD SAYS IGOR STIMAC

कोच स्टिमक ने की सुनील छेत्री की तारीफ, बताया- 25 साल के खिलाड़ी वाली है एनर्जी

सुनील छेत्री के कुल अंतरराष्ट्रीय गोल की संख्या 74 हो गई है.( फोटो-सुनील छेत्री इंस्टाग्राम)

भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच इगोर स्टिमक ने करिश्माई खिलाड़ी सुनील छेत्री को गोल मशीन करार देते हुए कहा कि 36 साल का यह खिलाड़ी 25 साल के युवा की तरह खेलता है.

  • Share this:
    दोहा. भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच इगोर स्टिमक ने करिश्माई खिलाड़ी सुनील छेत्री को गोल मशीन करार देते हुए कहा कि 36 साल का यह खिलाड़ी 25 साल के युवा की तरह खेलता है, जिसका सबूत 2022 फीफा विश्व कप एवं 2023 एशियाई कप के संयुक्त क्वॉलिफायर्स मैच में सोमवार को किए उनके दो शानदार गोल हैं. भारतीय कप्तान के इन दो गोल की मदद से टीम से सोमवार को बांग्लादेश को 2-0 से हराया. इस दौरान छेत्री अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल में सक्रिया खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा गोल करने के मामले में 74 गोल के साथ अर्जेंटीना के दिग्गज लियोनल मेसी को पछाड़कर दूसरे स्थान पर आ गये.

    स्टिमक ने मैच के बाद कहा, ‘‘कई लोग मुझ से सुनील के संन्यास की योजना के बारे में पूछते है. वह मैदान पर और हर अभ्यास सत्र में काफी मेहनत करते हैं. वह सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह फिटनेस के मामले में काफी बेहतर हैं और एक पेशेवर खिलाड़ी की तरह काम करते है. वह ऐसे मेहनत करते है जैसे कि 25 साल के युवा हो, वह 25 साल के खिलाड़ी की तरह खेलते है और गोल करते है.’’

    उन्होंने कहा, ‘‘कई लोग मुझ से पूछते है कि सुनील कब संन्यास लेंगे? उनके संन्यास के बाद हम क्या करेंगे? वह हर अभ्यास सत्र में हमारे सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी रहते है.’’ सुनील छेत्री ने 13 मिनट के अंतराल में दो गोल किये जिससे भारतीय टीम 2001 के बाद पहली बार विदेशी धरती पर विश्व कप क्वॉलिफायर मैच में जीत दर्ज करने में सफल रही.

    टीम के अनुभवी खिलाड़ी संदेश झिंगन का मानना है कि 100 वर्षों के बाद भी छेत्री के नाम को याद किया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘‘लगभग 100 या 200 वर्षों के बाद भी लोग सुनील छेत्री के बारे में बात करेंगे. जब तक भारतीय फुटबॉल है, लोग उनका नाम याद रखेंगे. यह सभी को देखना चाहिए कि वह मैदान पर क्या करते हैं.’’

    गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू ने भी छेत्री की तरीफ करते हुए कहा, ‘‘ मैं इस बात का जिक्र करता रहूंगा कि क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लियोनेल मेसी के बीच एक आदमी का नाम आता रहता है और वह है मेरा साथी, मेरे कप्तान सुनील छेत्री. यह उनकी प्रतिबधता को दिखाता है.’’