लाइव टीवी

कोरोना वायरस के चलते फुटबॉल छोड़ा, अब सेना में भर्ती होने के लिए अपने देश लौटा ये खिलाड़ी

News18Hindi
Updated: April 3, 2020, 2:41 PM IST
कोरोना वायरस के चलते फुटबॉल छोड़ा, अब सेना में भर्ती होने के लिए अपने देश लौटा ये खिलाड़ी
साउथ कोरिया में सभी के लिए सेना ट्रेनिंग लेना अनिवार्य है

टोटेनहम (Tottenham) के सन ह्यूंग मिन (Son Heung Min) साल 2018 में साउथ कोरिया (South Korea) को एशियन चैंपियन बना चुके हैं

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के खतरे के बीच ऐसे कई खिलाड़ी हैं जो बदले हुए रोल में नजर आ रहें हैं. कोई नर्स कोई पुलिस तो कोई किसी और तरीके से देश की सेवा में लगा है. ऐसे साउथ कोरिया (South Korea) के रहने वाले टोटेनहम (Tottenham) के स्टार फुटबॉलर सन-ह्युंग मिन (Son Heung min) भी अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए आर्मी ट्रेनिंग लेने लंदन से देश वापस लौट चुके हैं. वह पिछले हफ्ते ही साउथ कोरिया लौटे हैं और फिलहाल खुद को क्वारंटाइन किए हुए हैं.

सेना ट्रेनिंग के लिए देश वापस लौटे सन
आपको बता दें कि साउथ कोरिया में सभी के लिए दो साल की सेना ट्रेनिंग लेना अनिवार्य हैं. हालांकि सन को 2018 में इस पर छूट दी गई थी कि उन्हें केवल चार हफ्ते के लिए ट्रेनिंग करनी होगी. साल 2018 में जर्काता में हुए एशियन गेम्स में गोल्ड मेडलिस्ट  साउथ कोरियन टीम का वह अहम हिस्सा थे. सन की बदौलत ही साउथ कोरिया (South Korea) ने फाइनल में जापान (Japan) को 2-1 से मात दी थी. उनके इस प्रदर्शन के लिए उन्हें आर्मी ट्रेनिंग में छूट दी गई थी. सन लॉकडाउन के समय में ट्रेनिंग लेकर अपने फुटबॉल के समय को बचाना चाहते हैं. खबरों के मुताबिक वह 20 अप्रैल से ट्रेनिंग के लिए जेजू आईलैंड जाएंगे.

सन के लिए इस साल प्रीमियर लीग का सफर जल्द ही खत्म हो गया क्योंकि उनके हाथ में चोट लग गई थी. 16 फरवरी को एस्टन विला के खिलाफ मुकाबले में वह चोटिल हो गए थे. इसके बाद टोटेनहम ने कहा था कि सन निजी कारणों से अपने देश लौट रहे हैं.वह इस समय अपनी फिटनेस पर काम कर रहे हैं. बुधवार को उन्होंने अपने ट्रेनिंग करते हुए वीडियो शेयर किया था जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह सेना ट्रेनिंग के लिए भी तैयार हैं.



स्थगित हो चुकी है इंग्लिश प्रीमियर लीग


 दुनियाभर में कोरोनावायरस (Coronavirus) के बढ़ते प्रकोप के चलते अब इंग्लैंड ने प्रीमियर लीग (Premier league football) और इंग्लिश फुटबॉल लीग (ईएफएल) के बीच हुई आपात बैठक के बाद फुटबॉल मुकाबले 30 अप्रैल तक बंद करने का फैसला किया गया था. इंग्लिश फुटबॉल संघ, प्रीमियर लीग, ईएफएल, खिलाड़ियों और मैनेजरों की संस्थाओं द्वारा संयुक्त बयान में कहा गया था कि हमने मिलकर फैसला किया है कि इंग्लैंड में पेशेवर मैचों को 30 अप्रैल तक स्थगित कर दिया गए हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फुटबॉल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 3, 2020, 2:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading