सुपर लीग को लेकर बगावत करने वाले क्लबों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई

रीयाल मैड्रिड, ​बार्सिलोना और युवेंटस तीनों ने चैंपियन्स लीग के लिए क्वॉलिफाई किया (AFC/Twitter)

यूरोपीय फुटबॉल की सर्वोच्च संस्था यूएफा ने सुपर लीग को लेकर बगावत करने वाले तीन क्लबों रीयाल मैड्रिड, बार्सिलोना और युवेंटस के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी है.

  • Share this:
    जेनेवा. यूरोपीय फुटबॉल की सर्वोच्च संस्था यूएफा ने सुपर लीग को लेकर बगावत करने वाले तीन क्लबों रीयाल मैड्रिड, बार्सिलोना और युवेंटस के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी है, जिसके कारण इन तीनों को चैंपियन्स लीग में भाग लेने से रोका जा सकता है. यूएफा ने मंगलवार को कहा, ''यूएफा के कानूनी ढांचे के संभावित उल्लंघन के लिये अब कार्रवाई शुरू कर दी गई है.''

    यूरोपीय फुटबाल की सर्वोच्च संस्था की नियमावली में यूएफा की अनुमति या उसके नियंत्रण से बाहर बनने वाले लीग के लिए क्लबों की संभावित समहूबाजी को लेकर भी एक उपबंध शामिल है.

    सुपर लीग के संस्थापकों में 12 क्लब शामिल थे लेकिन अब इसमें केवल तीन क्लब ही रह गये हैं, जिन्होंने इससे हटने से इन्कार कर दिया. यूएफा ने इन तीनों क्लबों के खिलाफ ही अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू की है.

    यूएफा अध्यक्ष अलेक्सांद्र सेफरिन ने पिछले महीने क्लबों को आगाह किया था कि यदि ''वे कहते हैं कि हम सुपर लीग हैं तो​ फिर वे निश्चित तौर पर चैंपियन्स लीग में नहीं खेलते.''

    रीयाल मैड्रिड, ​बार्सिलोना और युवेंटस तीनों ने चैंपियन्स लीग के लिए क्वॉलिफाई किया है.