भारत-इंग्लैंड सीरीज के नतीजे से मुंबई समेत 4 आईपीएल टीमें होंगी खुश, कप्तान हैं वजह

भारत ने रविवार को इंग्लैंड को आखिरी वनडे में 7 रन से हराने के साथ ही तीन वनडे की सीरीज 2-1 से जीती. इससे पहले, टीम इंडिया ने टी20 और टेस्ट सीरीज पर भी कब्जा जमाया था. (PIC:AP)

भारत ने रविवार को इंग्लैंड को आखिरी वनडे में 7 रन से हराने के साथ ही तीन वनडे की सीरीज 2-1 से जीती. इससे पहले, टीम इंडिया ने टी20 और टेस्ट सीरीज पर भी कब्जा जमाया था. (PIC:AP)

भारत और इंग्लैंड (Ind vs Eng) के बीच हुई हालिया सीरीज के नतीजे से आईपीएल की चार फ्रेंचाइजी जरूर खुश होंगी. इसकी वजह है सीरीज में शामिल उन खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन, जो लीग में इन चारों टीमों की कप्तानी करेंगे. इसमें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) सबसे अहम हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 29, 2021, 3:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड (India vs England Series) के बीच बीते 52 दिन के भीतर 4 टेस्ट, पांच वनडे और तीन वनडे मैचों की सीरीज खेली गई. टीम इंडिया (Team India) तीनों सीरीज जीतने में सफल रही. इस सीरीज के नतीजे से सिर्फ भारतीय टीम मैनेजमेंट ही खुश नहीं होगा, बल्कि आईपीएल (IPL 2021) की चार टीमों की खुशी भी बढ़ गई है. इसकी वजह से सीरीज में शामिल उन भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन जो 9 अप्रैल से शुरू हो रहे आईपीएल के 14वें सीजन में इन टीमों की कप्तानी करेंगे. इसमें सबसे बड़ा नाम टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) का है, जो लीग में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) की कमान संभालेंगे.

विराट के लिए इंग्लैंड के खिलाफ हालिया सीरीज बतौर कप्तान और बल्लेबाज अहम रही. उनकी कप्तानी में इंग्लैंड से टेस्ट सीरीज का पहला मैच हारने के बाद टीम इंडिया ने शानदार वापसी की और लगातार तीन टेस्ट जीतकर सीरीज अपने नाम कर ली. टेस्ट की तरह टी20 सीरीज में भी टीम इंडिया की शुरुआत हार से हुई. इसके बाद बाकी बचे 4 में से तीन मैच में टीम इंडिया ने इंग्लैंड को शिकस्त दी और सीरीज जीत ली. वनडे सीरीज में भी कोहली की कप्तानी काम कर गई और भारत 2-1 से सीरीज जीत गया. इंग्लैंड के खिलाफ हालिया सीरीज में कोहली एक भी शतक नहीं लगा पाए. इसके बाद भी कोई बल्लेबाज उनसे ज्यादा रन नहीं बना सका. कोहली ने 12 मैच की 14 पारियों में 532 रन बनाए. इस दौरान 7 अर्धशतक लगाए. नाबाद 80 रन की सबसे बड़ी पारी खेली.

रोहित ने कप्तानी और बल्लेबाजी दोनों से प्रभावित किया

कोहली की तरह ही रोहित शर्मा ने भी इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया. उन्होंने टेस्ट, टी20 और वनडे मिलाकर कुल 10 मैच खेले. इसकी 13 पारियों में रोहित ने 526 रन बनाए. वो कोहली से सिर्फ 6 रन पीछे रहे. इस दौरान उन्होंने एक शतक और दो अर्धशतक भी लगाए. रोहित ने वनडे सीरीज में बतौर ओपनर तीन मैच खेले. एक मौके पर पहले विकेट के लिए पचास से ज्यादा और एक मौके पर 100 से ज्यादा रन की साझेदारी की और दोनों मैच भारत जीता. इतना ही नहीं, उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टी20 के आखिरी चार ओवर में कोहली की जगह कप्तानी की. उनकी कुशल रणनीति ने इंग्लैंड को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया और भारत सिर्फ वो मैच नहीं जीता,बल्कि सीरीज भी 2-2 से बराबर की. इसके अलावा टेस्ट सीरीज में भी रोहित टीम के काम आए. उन्होंने इंग्लिश कप्तान जो रूट(368) के बाद सीरीज में सबसे ज्यादा 345 रन बनाए.
उनके इस प्रदर्शन से मुंबई इंडियंस जरूर खुश होगी. क्योंकि वो 9 अप्रैल से शुरू हो रही लीग में मुंबई की कप्तानी करेंगे. उनकी कप्तानी में ही मुंबई ने पांच बार 2013, 2015, 2017, 2019 और 2020 में आईपीएल का खिताब जीता है.

राहुल के फॉर्म में लौटने से पंजाब टीम होगी खुश

दिल्ली कैपिटल्स और पंजाब किंग्स टीम की भी इंग्लैंड सीरीज पर नजर थी. क्योंकि इन दोनों टीमों के कप्तान श्रेयस अय्यर और केएल राहुल इसका हिस्सा थे. केएल राहुल टी20 सीरीज में तो कुछ खास नहीं कर सके. उन्होंने 4 मैच में सिर्फ 15 रन बनाए. उनके टीम इंडिया में बने रहने पर भी सवाल उठ रहे थे. लेकिन वनडे सीरीज में पंजाब किंग्स के कप्तान ने धमाकेदार वापसी की और भारत के लिए सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे. उन्होंने तीन मैच में 88 से ज्यादा की औसत से 177 रन बनाए. इस दौरान एक शतक और एक अर्धशतक लगाया. आईपीएल से ठीक पहले उनके फॉर्म में लौटने से पंजाब टीम ने राहत की सांस ली होगी.



श्रेयस के विकल्प के तौर पर दिल्ली के पास पंत मौजूद

श्रेयस खुशकिस्मत नहीं रहे क्योंकि चोट के कारण वो इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी दो वनडे नहीं खेल पाए. लेकिन टी20 सीरीज में जरूर उन्होंने बल्ले से अपनी छाप छोड़ी. वो विराट कोहली(231) के बाद सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज थे. उन्होंने पांच मैच में 146 के स्ट्राइक रेट से 121 रन बनाए थे. हालांकि, कंधे में लगी चोट के कारण वो आईपीएल नहीं खेल पाएंगे. हालांकि, उनके विकल्प के तौर पर ऋषभ पंत मौजूद हैं. जो इंग्लैंड के खिलाफ हालिया सीरीज में जबरदस्त फॉर्म में थे. उन्होंने 11 मैच की 12 पारी में 48 के औसत से 527 रन बनाए. उनके बल्ले से एक शतक और 4 अर्धशतक निकले.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज