• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • FRENCH OPEN MATCH FIXING CASE RUSSIAN TENNIS PLAYER RELEASED FROM CUSTODY

French Open 2021: मैच फिक्सिंग मामले में गिरफ्तार रूसी टेनिस खिलाड़ी रिहा

याना सिजिकोवा मानहानि का दावा ठोंकने की सोच रही हैं. (Yana Sizikova twitter)

पुलिस ने रूसी खिलाड़ी को पेरिस में फ्रेंच ओपन (French Open 2021) युगल मैच खेलने के बाद गिरफ्तार किया गया था. उन्‍हें पूछताछ के बाद रिहा कर दिया गया. हालांकि वह जांच के दायरे में हैं.

  • Share this:
    पेरिस. पिछले साल फ्रेंच ओपन (French Open) में मैच फिक्सिंग के संदेह में गिरफ्तार की गई रूसी टेनिस खिलाड़ी को रिहा कर दिया गया है. याना सिजिकोवा को गुरुवार को पेरिस में फ्रेंच ओपन युगल मैच खेलने के बाद गिरफ्तार किया गया था. अधिकारियों ने बताया कि उनसे पूछताछ की गई, लेकिन कोई आरोप नहीं लगाये गए थे. वह हालांकि जांच के दायरे में है.
    सिजिकोवा ने आरोपों का खंडन किया और उनके वकील ने बताया कि वह मानहानि का दावा ठोंकने की सोच रही हैं. अभियोजन पक्ष ने कहा कि सिजिकोवा को रिश्वत देने और सुनियोजित धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था जो 2020 में हुए थे.

    पिछले साल अक्‍टूबर में शुरू की थी जांच 

    फ्रांस पुलिस की सट्टेबाजी धोखाधड़ी और मैच फिक्सिंग में विशेषज्ञता इकाई ने पिछले साल अक्टूबर में जांच शुरू की थी. यह इकाई पहले बेल्जियम अधिकारियों के साथ भी पेशेवर टेनिस के निचले स्तर के संदिग्ध फिक्स मैचों की जांच में काम कर चुकी है. कार्यालय ने कहा कि यह जांच रोलां गैरां में पिछले साल एक मैच में संदेह पर केंद्रित है. हालांकि उसने इस मैच की जानकारी नहीं दी.

    यह भी पढ़ें : 

    कोपा अमेरिका: कोरोना वायरस के चलते अपने देश में नहीं खेलना चाहते ब्राजील के फुटबॉलर

    साइना नेहवाल की राह मुश्किल, करियर को बढ़ाना है तो चुनकर खेलें टूर्नामेंट : विमल

    सट्टेबाजी पैटर्न का हुआ था संदेह 

    जर्मनी के अखबार ‘डाई वेल्ट’ और फ्रांस के खेल दैनिक अखबार ‘ला इक्विपे’ ने कहा कि पिछले साल 30 सितंबर को खेले गए महिला युगल के पहले दौर के मैच में सट्टेबाजी पैटर्न का संदेह हुआ था. उस दिन सिजिकोवा और उनकी जोड़ीदार अमेरिका की मैडिसन ब्रेंगले रोमानिया की एंड्रिया मीटू और पैट्रिसिया मारिया टिग के खिलाफ कोर्ट पर थीं. कोरोना वायरस महामारी के कारण पिछले साल फ्रेंच ओपन में देरी हुई थी जिससे यह सितंबर और अक्टूबर के शुरू में खेला गया था.