अपना शहर चुनें

States

FIH सीरीज फाइनल्‍स: भारत ने कमजोर रूस को 10-0 से रौंदा

भारतीय हॉकी टीम.
भारतीय हॉकी टीम.

FIH Series Finals: भारत और रूस की रैंकिंग में काफी अंतर है. रूस वर्ल्‍ड रैंकिंग में 22वें पायदान पर है जबकि भारत 5वें नंबर पर है.

  • Share this:
भारत ने गुरूवार को एफआईएच सीरीज फाइनल्स हॉकी टूर्नामेंट के अपने शुरुआती मैच में रूस को 10-0 से रौंद दिया. उसने 2020 टोक्‍यो ओलंपिक में क्वालीफाई करने के अभियान की शानदार शुरूआत की. बता दें कि भारत और रूस की रैंकिंग में काफी अंतर है. रूस वर्ल्‍ड रैंकिंग में 22वें पायदान पर है जबकि भारत 5वें नंबर पर है. अब पूल के दूसरे मैच में भारतीय टीम पोलैंड से भिड़ेगी.

पूल बी के एकतरफा मुकाबले में ड्रैगफ्लिकर हरमनप्रीत सिंह ने 32वें और 48वें तथा स्ट्राइकर आकाशदीप सिंह ने 41वें और 55वें मिनट में दो-दो गोल दागे. नीलकांत शर्मा ने 13वें, सिमरनजीत सिंह ने 19वें, अमित रोहिदास ने 20वें, वरूण कुमार ने 33वें, गुरसाहिबजीत सिंह ने 38वें और विवेक सागर प्रसाद ने 45वें मिनट में गोल किए.

भारत की शुरूआत धीमी रही. पहले हाफ में भारतीय टीम थोड़ी ढीली दिखी और कुछ मौकों पर मूव को गोल में नहीं बदल सकी. लेकिन एक बार लय बनाने के बाद उसने लगातार गोल दाग दिए. भारत के लिए 13वें मिनट में नीलकांत ने गोल का खाता खोला. अगले ही सेकेंड में नीलकांत को फिर गोल करने का मौका मिला लेकिन रूसी गोलकीपर मरात गाफोरोव ने इसे रोक दिया.



19वें मिनट में भारत ने बढ़त दोगुनी कर दी जब सुमित की रिवर्स हिट के गोलकीपर द्वारा रोके जाने के बाद रिबाउंड पर सिमरनजीत ने गोल कर दिया. एक मिनट में भारत को तीसरा पेनल्टी कार्नर मिला जब रोहिदास ने 3-0 से बढ़त बनाने में कोई गलती नहीं. मेजबान को एक और शॉर्ट कॉर्नर मिला लेकिन टीम इसका फायदा नहीं उठा सकी. बाद में भारतीय टीम ने रूस के लचर डिफेंस पर इच्छानुसार गोल दागे.
हरमनप्रीत और वरूण ने लगातार मिनट में दो पेनल्टी कार्नर को गोल में तब्दील किया जबकि गुरसाहिबजीत और आकाशदीप ने क्रमश: 38वें और 41वें मिनट में दो फील्ड गोल दागे.
युवा प्रसाद ने भी अपना नाम स्कोरशीट में नाम दर्ज कराया जिसके बाद हरमनप्रीत ने पेनल्टी कार्नर को गोल में बदला. हूटर बजने से पांच मिनट पहले आकाशदीप ने दूसरा गोल किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज