लाइव टीवी

आठ महीने बाद भारतीय टीम में वापसी से भावुक हुआ खिलाड़ी, कहा-छोड़ दी थी सारी उम्मीदें

ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 15, 2020, 6:02 PM IST
आठ महीने बाद भारतीय टीम में वापसी से भावुक हुआ खिलाड़ी, कहा-छोड़ दी थी सारी उम्मीदें
चिगलेनसेना सिंह भारतीय हॉकी खिलाड़ी हैं

भारत को भुवनेश्वर (Bhuvneshwar) में प्रो एफआईएच लीग (FIH Pro League) में 18 और 19 जनवरी को नेदरलैंड्स से खेलना है

  • Share this:
नई दिल्ली. टखने कर चोट के कारण पिछले एक साल से भारतीय हॉकी टीम (Indian Hockey Team) से बाहर मिडफील्डर चिंगलेनसाना सिंह (Chiglensena Singh) ने बुधवार को कहा कि उन्हें वापसी की संभावना नहीं दिख रही थी. मणिपुर (Manipur) के इस खिलाड़ी को नौवीं सीनियर राष्ट्रीय पुरुष हॉकी चैंपियनशिप के दौरान दाहिने टखने में चोट लगी थी.

2018 वर्ल्ड कप में आखिरी बार खेले थे चिंगलेनसेना
आखिरी बार पुरुष विश्व कप 2018 में भारत के लिये खेलने वाले चिंगलेनसाना ने कहा ,‘यह मेरे लिये कठिन दौर था. मैं अपने शरीर के निचले हिस्से का इस्तेमाल नहीं कर पा रहा था जिससे पांच छह किलो वजन बढ़ गया. मुझे नहीं लगता था कि अब भारतीय टीम में वापसी कर सकूंगा.’

एफआईएच हॉकी प्रो लीग में भारत के लिये खेलने जा रहे इस खिलाड़ी ने कहा ,‘मैंने आठ महीने हॉकी नहीं खेली लेकिन उम्मीद नहीं छोड़ी. इस दौरान मैने अपनी फिटनेस पर पूरा ध्यान बनाये रखा और हमारे वैज्ञानिक सलाहकार राबिन अर्केल के दिये कार्यक्रम का अनुसरण किया.’

chiglensena, hockey sports news
चिगलेनसेना ने आठ महीने बाद भारतीय टीम में वापसी की


वापसी के लिए छोड़ दिया था पसंदीदा खाना
उन्होंने कहा ,‘अपना वजन संतुलित रखने के लिये मैने चावल खाना पूरी तरह से छोड़ दिया था.’ उन्होंने कहा ,‘टीम में लौटकर मैं बहुत खुश हूं और अपनी ओर से सौ फीसदी देने की कोशिश करूंगा. भारत के पास खिलाड़ियों का बड़ा पूल है और सभी को टीम में अपनी उपयोगिता साबित करनी होगी. मैं इसे नयी शुरूआत के रूप में देख रहा हूं.’ भारत को 18 और 19 जनवरी को नेदरलैंड्स से खेलना है.सुमित कुमार की भी छह महीने बाद हुई वापसी
आक्रामक मिडफील्डर सुमित ने करीब छह महीने बाद एफआईएच प्रो लीग 2020 के लिए टीम में वापसी की है. इन दोनों के साथ मिडफील्डर कोथाजीत सिंह, फॉरवर्ड गुरजंत सिंह और गुरसाहिबजीत ने भुवनेश्वर में राष्ट्रीय शिविर में दमदार प्रदर्शन कर भारतीय टीम में वापसी की है. ओलिंपिक क्वॉलिफायर्स में भारत की 18 सदस्यीय टीम ने शिरकत कर थी. भुवनेश्वर में नवंबर में रूस के खिलाफ ओलिंपिक क्वॉलिफायर्स के दोनों मैच जीत कर टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वॉलिफाई करने वाली भारतीय टीम के फॉरवर्ड एस वी सुनील से हरमनप्रीत सिंह ने उपकप्तानी की यह जिम्मेदारी संभाली है.

'स्पिरिट ऑफ क्रिकेट' अवॉर्ड मिलने के बाद भावुक हुए विराट, कहा-मुझे हमेशा गलत समझा गया

सानिया मिर्जा ने 2 साल बाद जीत से की वापसी, बेटा भी कोर्ट पर था मौजूद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हॉकी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 6:01 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर