अपनी गाढ़ी कमाई खर्च करके हॉकी वर्ल्ड कप खेलने पहुंचे इस टीम के खिलाड़ी

हॉकी वर्ल्ड कप के 14वें संस्करण का आगाज आज से ओडिशा में हो रहा है. पहले मैच में भारत और द. अफ्रीका आमने-सामने होंगी.

भाषा
Updated: November 28, 2018, 9:56 AM IST
अपनी गाढ़ी कमाई खर्च करके हॉकी वर्ल्ड कप खेलने पहुंचे इस टीम के खिलाड़ी
हॉकी वर्ल्ड कप के 14वें संस्करण का आगाज आज से ओडिशा में हो रहा है. पहले मैच में भारत और द. अफ्रीका आमने-सामने होंगी.
भाषा
Updated: November 28, 2018, 9:56 AM IST
भुवनेश्वर। खिताब के दावेदारों में शामिल नहीं होने के बावजूद दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ियों ने बुधवार से यहां शुरू हो रहे पुरुष हॉकी विश्व कप का हिस्सा बनने के लिए अपनी जेब से पैसे खर्च किए हैं. दुनिया की 15वें नंबर की टीम दक्षिण अफ्रीका के कोच मार्क होपकिन्स ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका में खेल की प्रगति में सबसे बड़ी अड़चन 'पैसे' हैं. होपकिन्स ने मेजबान भारत के खिलाफ विश्व कप के पहले मैच की पूर्व संध्या पर कहा, "दक्षिण अफ्रीका जितना ज्यादा हॉकी खेलेगा उतना बेहतर रहेगा लेकिन हमारी चुनौती पैसों का इंतजाम करना है जिससे कि जितना संभव हो हम उतने अधिक टेस्ट मैच खेल सकें."

उन्होंने कहा, "हम विश्व कप के लिए आए हैं और इसके लिए खिलाड़ियों को अपनी जेब से भुगतान करना पड़ा है. उन्होंने शिविर का हिस्सा बनने के लिए पैसे दिए. हमारी चुनौती पैसे का इंतजाम करना है. हम भाग्यशाली हैं कि हमारे पास कुछ प्रायोजक हैं लेकिन हमारी प्रायोजन राशि से विश्व कप के बजट का इंतजाम नहीं हो सकता,"

होपकिन्स ने कहा, "फिलहाल हमारे पास पैसे की कमी है और अगर हम इस कमी को पूरा नहीं कर पाए तो संभावना है कि खिलाड़ियों को विश्व कप दौरे के लिए भुगतान करना पड़ सकता है." दुनिया की पांचवें नंबर की टीम भारत के खिलाफ दक्षिण अफ्रीका की चुनौती आसान नहीं होगी लेकिन होपकिन्स सकारात्मक चीजों पर ध्यान दे रहे हैं.

उन्होंने कहा, "विश्व कप में प्रत्येक मैच बड़ा होता है. आप टूर्नामेंट की अच्छी शुरुआत करना चाहते हो. यह रोमांचक है कि हम अपना पहला मैच मेजबान देश के खिलाफ खेल रहे हैं. हम इस मैच में आत्मविश्वास के साथ उतरेंगे. हमें लगता है कि अच्छी हॉकी खेलने और मैच से नतीजा हासिल करने के लिए हमारे पास टीम, कौशल और रणनीति है."

होपकिन्स ने कहा, "मुझे लगता है कि दबाव दोनों टीमों पर होगा। मेजबान देश होने के कारण भारत पर हम से अधिक दबाव होगा. हम मैदान पर उतरकर उसी ब्रांड की हॉकी खेलेंगे जो हमारे लिए सफल रही है."

ये भी पढ़ें: टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया को जीत मिलेगी या हार, अगले 4 दिन में होगा तय!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2018, 9:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...