शोएब अख्तर ने तोड़ी थी युवराज सिंह की पीठ, बताया क्या था कारण

शोएब अख्तर और युवराज सिंह के बीच अच्छी दोस्ती है
शोएब अख्तर और युवराज सिंह के बीच अच्छी दोस्ती है

भारत (India) पाकिस्तान (Pakistan) की प्रतिद्वंदिता के बावजूद शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) और युवराज सिंह के बीच अच्छी दोस्ती थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 7, 2020, 10:07 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) अपनी खतरनाक बाउंसर्स के लिए जाने जाते थे. उन्होंने अपने करियर में कई बल्लेबाजों को घायल किया. शोएब अख्तर ने हाल ही में एक इंटरव्यू में बताया कि उन्होंने युवराज सिंह (Yuvraj Singh)  की पीठ तोड़ दी थी. हालांकि यह उन हालातों में नहीं हुआ जैसा आमूमन होता था.

अख्तर ने कहा प्यार दिखाने के चक्कर में कर दिया था चोटिल
बीबीसी पॉडकास्ट में अख्तर ने कहा, मैं कुश्ती नहीं करता था, ये मेरा दूसरों को प्यार दिखाने का तरीका था और अक्सर में लाइन पार कर जाता था. जब मुझे कोई अच्छा लगता है तो मैं उसे पटकता हूं.' अख्तर ने कहा, मैंने युवराज से गले लगते हुए पीठ तोड़ी है,शाहिद आफरीदी की पसलियां तोड़ी हैं और मैंने अब्दुल रज्जाक के हैमस्ट्रिंग को नुकसान पहुंचाया था. इसलिए मेरे प्यार दिखाने का तरीका थोड़ा खतरनाक है. ये मेरे शुरुआती करियर की बेवकूफियां थी, मुझे अपनी ताकत का एहसास नहीं था.'

हरभजन सिंह को होटल के कमरे में पीटा था
शोएब अख्तर को लेकर कुछ समय पहले भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह के बारे में बात करते हुए कहा था कि एक बार शोएब ने होटल के कमरे में हरभजन और युवराज दोनों की पिटाई की थी. हरभजन ने कहा था, 'शोएब अख्‍तर ने एक बार मुझे धमकी दी थी कि वो मेरे कमरे में आकर मेरी पिटाई करेगा. मैंने भी कह दिया कि हां आ जाना, देख लेंगे कौन किसकी पिटाई करेगा. मगर अंदर से मैं बहुत डर गया था. वो बहुत भारी है. उसने एक बार मुझे और युवराज को कमरे में बहुत पीटा था. चूकि शोएब अख्‍तर तो भारी है, तो उसे पकड़ना मुश्किल था.'



कई खिलाड़ियों को बनाया अपना शिकार
शोएब अख्तर के नाम पर सबसे तेज गेंद फेंकने का रिकॉर्ड है. वह अकसर अपनी बाउंसर से बल्लेबाजों को घायल कर देते थे. सचिन तेंदुलकर से लेकर युवराज सिंह तक सभी उनका शिकार बने थे. युवराज सिंह ने करियर के दूसरे ही मैच से अपना जलवा दिखाना शुरू कर दिया था. उन्होंने 2002 नेटवेस्ट ट्रॉफी के फाइनल में इंग्लैंड के लॉर्ड्स के मैदान पर भारत को ऐतिहासिक जीत दिलाने में भी अहम भूमिका निभाई थी. वहीं साल 2007 में हुए टी20 वर्ल्ड कप में उन्होंने स्टुअर्ट ब्रॉड के ओवर में छह छक्के लगाए थे. युवराज साल 2011 में भारत को वर्ल्ड चैंपियन बनाने वाले हीरो साबित हुए थे. वह इस टूर्नामेंट के मैन ऑफ द मैच रहे थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज