Home /News /sports /

इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट: पीवी सिंधु क्वार्टर फाइनल में, साइना नेहवाल हुईं बाहर

इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट: पीवी सिंधु क्वार्टर फाइनल में, साइना नेहवाल हुईं बाहर

पीवी सिंधु इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई हैं (PIC: AFP)

पीवी सिंधु इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई हैं (PIC: AFP)

दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु और एच एस प्रणय इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए जबकि साइना नेहवाल हारकर बाहर हो गई. पूर्व चैम्पियन और 2012 ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना को मालविका बंसोड़ ने हराया.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु और एच एस प्रणय इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए जबकि साइना नेहवाल हारकर बाहर हो गई. पूर्व चैम्पियन और 2012 ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना को मालविका बंसोड़ ने 21-17, 21-9 से हराया. विश्व रैंकिंग में 111वें स्थान पर काबिज बंसोड़ को दुनिया की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी को हराने में 34 मिनट लगे. इससे पहले शीर्ष वरीयता प्राप्त सिंधु ने हमवतन ईरा शर्मा को 21-10, 21-10 से हराया. अब उनका सामना अष्मिता चालिहा से होगा जिसने याएले होयाउ को 21-17, 21-14 से मात दी.

    मालविका बंसोड़ का सामना भारत की आकर्षि कश्यप से होगा. आकर्षि ने हमवतन केयुरा मोपाटिन को 21-10, 21-10 से शिकस्त दी. प्रणय को वॉकओवर मिला, क्योंकि मिथुन मंजूनाथ ने कोरोना पॉजिटिव होने के कारण टूर्नामेंट से नाम वापिस ले लिया.

    पुरुष वर्ग में शीर्ष वरीयता प्राप्त किदाम्बी श्रीकांत, युगल खिलाड़ी अश्विनी पोनप्पा, रितिका राहुल ठकार, त्रिसा जॉली, सिमन अमन सिंह और खुशी गुप्ता ने कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद नाम वापिस ले लिया.

    प्रणय का सामना लक्ष्य सेन और स्वीडन के फेलिक्स बुस्टेट के बीच होने वाले मैच के विजेता से होगा. समीर वर्मा के अभियान का भी दूसरे दौर में अंत हो गया जिन्होंने मांसपेशी में खिंचाव के कारण कनाडा के ब्रेन यांग के खिलाफ मुकाबला बीच में ही छोड़ दिया.

    साइना शुरू से मेरी आदर्श रही हैं, उनके खिलाफ जीत करियर में सबसे बड़ी : मालविका
    साइना नेहवाल का खेल देखकर बड़ी हुई युवा बैडमिंटन खिलाड़ी मालविका बंसोड़ ने गुरुवार को इंडिया ओपन में ओलंपिक कांस्य पदक विजेता के खिलाफ अपनी जीत को अपने करियर की सबसे बड़ी जीत में से एक करार दिया. मालविका ने मैच के बाद कहा, ”मुझे अभी तक विश्वास नहीं हो रहा है. यह शानदार अहसास है और मैं जीत के बाद वास्तव में उत्साहित हूं.” उन्होंने कहा, ”वह मेरी आदर्श रही हैं, क्योंकि वह एक दशक से अधिक समय से भारत में महिला बैडमिंटन की ध्वजवाहक रही है. मैंने उन्हें खेलते हुए देखकर शुरुआत की और मेरे खेल पर उनका काफी प्रभाव है.”

    मालविका ने कहा, ”खेल की उनकी शैली मुझे पसंद है. उनके पास काफी शक्ति है और इसलिए मुझे उनका खेल पसंद है. आज मैंने आलराउंड खेल खेला. इसमें और कुछ खास नहीं था.” यह पहला अवसर था जबकि किसी बड़े टूर्नामेंट में साइना और मालविका आमने सामने थी.

    मालविका ने कहा, ”वह हमेशा मेरी आदर्श रही हैं. इसलिए उनके खिलाफ खेलना सपना सच होने जैसा था और वह भी इंडियन ओपन जैसे बड़े मंच पर. यह जीत एक सुपर 500 टूर्नामेंट में मिली. यह मेरे लिए एक बड़ी उपलब्धि है. यह मेरे करियर की अब तक सबसे बड़ी जीत में से एक है.”

    इस बीच साइना ने कहा कि उन्हें खुशी है कि वह दो मैच खेलने में सफल रही जबकि अभी वह पूरी तरह से फिट नहीं हैं. साइना ने कहा, ”आज मैं कोर्ट पर ‘मूव’ कर रही थी लेकिन मेरी फिटनेस वैसी नहीं है जैसी होनी चाहिए थी. मैं यहां अपनी स्थिति का आकलन करने के लिए आई थी. मेरा शरीर अच्छा है लेकिन फिटनेस स्तर पर सुधार की जरूरत है.”

    Tags: India Open, Pv sindhu, Saina Nehwal

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर