• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • IndW vs AusW: एक ओवर में 8 गेंद फेंकने से हारी टीम इंडिया, नो बॉल विवाद पर बोलीं मंधाना, गंभीरता से नहीं देखी गेंद

IndW vs AusW: एक ओवर में 8 गेंद फेंकने से हारी टीम इंडिया, नो बॉल विवाद पर बोलीं मंधाना, गंभीरता से नहीं देखी गेंद

INDW vs AUSW: स्मृति मंधाना ने 86 रन की शानदार पारी खेली  (AFP)

INDW vs AUSW: स्मृति मंधाना ने 86 रन की शानदार पारी खेली (AFP)

India vs Australia: ऑस्‍ट्रेलिया को आखिरी ओवर में जीत के लिए 13 रन की जरूरत थी और झूलन गोस्‍वामी ने इस ओवर में 6 की बजाय 8 गेंदें फेंकी.

  • Share this:

    मैकॉय. भारत की सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे मैच के अंतिम ओवर में नो-बॉल के विवाद को कम करने की कोशिश की, जिससे मेजबान टीम को लगातार 26वें मैचों में जीत दर्ज करने का मौका मिला. भारतीय टीम को आखिरी ओवर में ऑस्‍ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा, जिससे ऑस्ट्रेलिया ने इस फॉर्मेट में लगातार जीत दर्ज करने के अपने रिकॉर्ड में और सुधार किया.

    मंधाना ने मैच के बाद प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा कि हमने अभी तक एक टीम के रूप में उस गेंद को वास्तव में नहीं देखा है. हम बाहर मैदान पर थे, इसलिए यह तय करना बहुत मुश्किल है कि यह नो बॉल थी या नहीं. हमारे लिए इस बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगी. हमें गेंद को देखना होगा और हम इसे देखेंगे.

    अभी तक गंभीरता से नहीं देखी गेंद

    मैच में 86 रन (94 गेंद) की शानदार पारी खेल भारत को सात विकेट पर 274 रन के प्रतिस्पर्धी स्कोर तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाने वाली मंधाना ने कहा कि जब ये चीजें आपके पक्ष में जाती हैं, तो आप वास्तव में खुश होते हैं, लेकिन विवाद का हिस्सा नहीं बनना चाहते है. मैंने अभी तक गेंद को गंभीरता से नहीं देखा है. मंधाना को हालांकि लय हासिल करने की खुशी है. उन्होंने कहा कि मैं सोच रही थी कि मुझे कहां सुधार करने की जरूरत है, टीम के सहयोगी सदस्य और हर कोई मेरा साथ दे रहा था. मुझे कुछ रन बनाने की खुशी है, लेकिन 86 रन बनाकर आउट होने से निराश भी हूं. अगर मैं अपनी पारी जारी रखती तो मुझे अच्छा लगता. उन्होंने कहा कि मैदान में ओस के कारण स्पिनरों के लिए गेंदबाजी करना आसान नहीं था.

    ओस में गेंद पर पकड़ बनाना काफी मुश्किल
    उन्होंने कहा कि जब ओस होती है तो हमारे स्पिनर अलग दिखते हैं, गेंद पर पकड़ बनाना काफी मुश्किल होता है, लेकिन यह कोई बहाना नहीं हो सकता. जैसा कि मैंने कहा, ये ऐसी चीजें हैं जिनका हमने अभ्यास किया है, हम जानते थे कि ओस होगी. ओस एक बड़ा कारक था. मैच में 125 रन की नाबाद पारी खेल टीम को जीत दिलाने वाले बेथ मूनी ने कहा कि 52 रन 4 विकेट गंवाने के बाद हमने शानदार वापसी की. मैच के आखिरी ओवर की अंतिम गेंद को नो-बॉल करार दिये जाने के बारे में उन्होंने कहा कि मैं मैदान से बाहर किसी से बात कर रही थी, वे कह रहे थे कि यह साफ तौर पर नो-बॉल थी. मुझे यकीन नहीं था, यह इतना करीबी मामला होगा.

    RCB vs CSK: कोहली आरसीबी की लगातार दूसरी हार से नाखुश, बताई- टीम की सबसे बड़ी कमजोरी

    IPL 2021: विराट कोहली ने स्‍टेडियम की छत पर पहुंचाया ‘नो लुक छक्‍का’, देखें Video

    8 गेंदों का हुआ आखिरी ओवर
    दरअसल ऑस्‍ट्रेलिया को आखिरी ओवर में जीत के लिए 13 रन की जरूरत थी. झूलन गोवस्‍वामी ने शुरुआती 2 गेंद पर 5 रन लुटा दिए. इसके बाद 4 गेंद पर 8 रन की जरूरत थी. अगली इसके बाद नो बॉल फेंक दी. अंतर कम होकर 2 गेंद पर 5 रन का रह गया. 5वीं गेंद पर 2 रन लुटाए और मैच की आखिरी गेंद नो बॉल फेंक दी, जिससे ऑस्‍ट्रेलिया को एक रन का फायदा हुआ और फ्री हिट पर निकोला कैरी ने 2 रन जोड़कर टीम को जीत दिला दी थी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज