Home /News /sports /

अंडर 17 वर्ग में भारत के पायस जैन ने रचा इतिहास, दुनिया के नंबर एक टेबल टेनिस खिलाड़ी बने

अंडर 17 वर्ग में भारत के पायस जैन ने रचा इतिहास, दुनिया के नंबर एक टेबल टेनिस खिलाड़ी बने

पायस जैन विश्व रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचने वाले दूसरे भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी बन गये हैं. (PC:@Media_SAI
Twitter)

पायस जैन विश्व रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचने वाले दूसरे भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी बन गये हैं. (PC:@Media_SAI Twitter)

पायस जैन (Payas Jain) विश्व रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचने वाले दूसरे भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी बन गये हैं. वह यह उपलब्धि को हासिल करने वाले सबसे युवा भारतीय हैं

    नई दिल्ली. भारत के उभरते टेबल टेनिस खिलाड़ी पायस जैन (payas jain) ने कमाल कर दिया. पिदछले कुछ समय से पायस लड़कों के अंडर-17 वर्ग में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, जिसका इनाम उन्‍हें इस वर्ग में दुनिया का नंबर एक खिलाड़ी बनकर मिला. पायस विश्व रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचने वाले दूसरे भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी बन गये हैं. उनसे पहले यह उपलब्धि मानव ठक्कर ने हासिल की थी, जो जनवरी 2020 में अंडर-21 वर्ग में नंबर एक रैंकिंग पर काबिज हुए थे.
    पायस दिल्ली के पहले खिलाड़ी हैं जो अंतरराष्ट्रीय टेबल टेनिस महासंघ (आईटीटीएफ) की विश्व रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचे हैं.वह यह उपलब्धि हासिल करने वाले सबसे युवा भारतीय हैं. पायस ने इस सत्र में अंडर-17 वर्ग में तीन खिताब जीते, जबकि अंडर-19 वर्ग में उन्होंने दो कांस्य पदक हासिल किये.

    T20 World Cup: Ind vs Pak मैच रद्द होना चाहिए या नहीं, जानें क्‍या बोले प्रकाश पादुकोण

    भारत 8वीं बार बना SAFF चैंपियन लेकिन कोच स्टिमक बोले- कोई ‘विशेष सफलता’ नहीं है
    उन्‍होंने डब्‍ल्‍यूटीटी यूथ कैलेंडर में जर्मनी के खिलाड़ी टॉम को कड़े फाइनल मुकाबले में 32 से मात देकर पहला अंडर 17 खिताब जीता था. इसके एक सप्‍ताह बाद उन्‍होंने बेल्जियम के टॉम क्‍लोसेट को हराकर दूसरा खिताब जीता था. उन्‍होंने पिछले सप्‍ताह कजाखस्‍तान के खिलाड़ी को इस वर्ग का खिताब जीता था.

    Tags: Sports news, Table Tennis

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर